प्यार की खातिर छोड़ी राजशाही:जापान की प्रिंसेस ने की बॉयफ्रेंड से शादी, छोड़ दिया अपना रॉयल टाइटल

टोक्यो7 महीने पहले

प्यार के लिए इंसान सब कुछ छोड़ देता है। ये बात आपने किस्से-कहानियों में सुनी होगी, लेकिन जापान की प्रिंसेस माको ने इसे सच साबित कर दिया है। माको जापान के मौजूदा राजा नारूहितो के भाई प्रिंस आकिशिनो की बेटी हैं। माको ने मंगलवार को अपने कॉलेज के बॉयफ्रेंड केई कोमुरो के साथ शादी कर ली। इसके साथ ही माको ने अपना रॉयल टाइटल (शाही खिताब) भी छोड़ दिया, जो शाही परिवार के मेंबर को एक आम आदमी से शादी करने से रोकता है।

IHA ने जमा कराए रजिस्ट्रेशन पेपर्स
प्रिंसेस और उनके बॉयफ्रेंड की शादी की ऑफिशियल घोषणा मंगलवार सुबह उस समय हुई, जब शाही परिवार के भरण-पोषण की जिम्मेदारी संभालने वाली इंपीरियल हाउसहोल्ड एजेंसी (IHA) ने स्थानीय मैरिज ऑफिस में दोनों की शादी को रजिस्टर्ड कराने के लिए इंपोर्टेंट पेपर्स जमा कराए।

अपने पति केई कोमुरो के साथ प्रिंसेस माको।
अपने पति केई कोमुरो के साथ प्रिंसेस माको।

प्रिंसेस ने तोड़ी परंपराएं, नहीं लेंगी 13 लाख डॉलर भी
नवविवाहित कपल ने अपनी शादी में उन सभी परंपराओं को तोड़ दिया, जो जापान में किसी शाही शादी का अनिवार्य हिस्सा होती हैं। इनमें शादी के बाद दिया जाने वाला शाही रिसेप्शन भी शामिल है।

इतना ही नहीं, प्रिंसेस माको ने 13 लाख डॉलर (करीब 7.5 करोड़ रुपए) की वह रकम भी लेने से इनकार कर दिया है, जो जापानी राजवंश की परंपरा के अनुसार किसी रॉयल वुमन को शाही फैमिली से बाहर शादी करने पर रॉयल टाइटल छोड़ने के बदले मुआवजे के तौर पर दी जाती है, लेकिन माको और कोमुरो के विवाह को लेकर इतने विवाद हुए कि माको ने इस हर्जाने को भी लेने से इनकार कर दिया है।

शादी के बाद परिवार से मिलने पहुंचीं माको।
शादी के बाद परिवार से मिलने पहुंचीं माको।

मनी स्कैंडल के चलते चार साल टली रही शादी
प्रिंसेस माको और कोमुरो ने शादी करने की ऑफिशियल घोषणा चार साल पहले की थी। उस समय जापानी जनता ने इसका स्वागत करते हुए खुशियां मनाई थीं, लेकिन कुछ समय बाद ही मीडिया रिपोर्ट में उछले एक मनी स्कैंडल में कोमुरो की मां का नाम शामिल होने पर यह शादी टाल दी गई थी। इसके बाद 2018 में कोमुरो न्यूयॉर्क में लॉ की पढ़ाई करने के लिए चले गए थे और वहां से पिछले महीने सितंबर में ही वापस जापान लौटे थे।

पहली बार पासपोर्ट बनवाएंगी प्रिंसेस
शादी के बाद प्रिंसेस माको अपने पति कोमुरो के साथ अमेरिका के न्यूयॉर्क में रहेंगी, जिसके लिए वे जिंदगी में पहली बार पासपोर्ट के लिए अप्लाई करेंगी। जापान के शाही परिवार के सदस्य दूसरे देश की यात्रा के लिए पासपोर्ट की जगह डिप्लोमेटिक कार्ड का इस्तेमाल करते हैं। इसके चलते माको का पासपोर्ट नहीं बना है।

शादी के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में पहुंचकर प्रिंसेस माको ने दिए सभी सवालों के जवाब।
शादी के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में पहुंचकर प्रिंसेस माको ने दिए सभी सवालों के जवाब।

शादी के बाद अपने पति के साथ एक जॉइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस में पहुंची प्रिंसेस माको ने कहा कि वे सगाई के बाद बनी अशांति से उबरकर अब एक हैप्पी लाइफ निभाने के लिए तैयार हैं। उन्होंने उन मीडिया रिपोर्ट को भी गलत ठहराया, जिनमें कोमुरो को उनके दुख और तनाव का कारण बताया गया था।

बता दें कि अपनी सगाई के बाद चार साल तक मनी स्कैंडल और तनावपूर्ण मीडिया ट्रायल के चलते प्रिंसेस माको बेहद बीमार हो गई थीं। इस साल की शुरुआत में उन्हें पोस्ट-ट्रॉमैटिक स्ट्रेस डिसॉर्डर (PTSD) से पीड़ित पाया गया था।

अपनी शादी के लिए जातीं प्रिंसेस माको।
अपनी शादी के लिए जातीं प्रिंसेस माको।

राजकुमारी माको के भाई हिसाहितो हैं गद्दी के उत्तराधिकारी

जापानी राजवंश में सिर्फ पुरुष ही गद्दी के उत्तराधिकारी होते हैं। इस नाते राजकुमारी माको के छोटे भाई राजकुमार हिसाहितो (14) इस वक्त अपने पिता आकिशिनो के अलावा गद्दी के इकलौते दावेदार हैं। जापान के शाही नियमों के अनुसार राजवंश से बाहर शादी करने वाली शाही महिलाओं के पुत्रों को गद्दी का उत्तराधिकारी नहीं माना जाता।

ब्रिटेन के प्रिंस हैरी ने भी की थी राजवंश से बाहर शादी

इससे पहले ब्रिटेन के प्रिंस हैरी ने भी 2018 में राजवंश से बाहर शादी की थी। अमेरिकी अभिनेत्री मेगन मर्केल के साथ उनका विवाह पूरी दुनिया में चर्चित हुआ था। शादी के बाद हैरी और मर्केल अमेरिका में रह रहे हैं।

खबरें और भी हैं...