• Hindi News
  • International
  • Joe Biden In First Address To Congress | US President Joe Biden, Joe Biden, US Congress, Congress, Coronavirus Outbreak, Corona Vaccination

US प्रेसिडेंट का कांग्रेस को पहला संबोधन:बाइडेन के कार्यकाल के 100 दिन पूरे; बोले- अमेरिका टेक-ऑफ के लिए तैयार, वैक्सीनेशन इतिहास की सबसे बड़ी अचीवमेंट

वॉशिंगटन6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने बुधवार को कांग्रेस को अपना पहला संयुक्त संबोधन दिया। उन्होंने कहा कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में अमेरिका ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। हमारा देश एक बार फिर से टेकऑफ करने को तैयार है। हमने जो वैक्सीनेशन प्रोग्राम चलाया, वो देश के इतिहास की सबसे बड़ी अचीवमेंट है।

उन्होंने कहा कि अमेरिका फिर से उन्नति के रास्ते पर आगे बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि हम फिर से काम कर रहे हैं, सपने देख रहे हैं और नई चीजें तलाश रहे हैं। अमेरिका एक बार फिर से दुनिया का नेतृत्व कर रहा है। हमने एक-दूसरे और दुनिया को दिखाया है कि अमेरिका में हार मानने का कोई विकल्प नहीं है।

इकोनॉमी को सुधारने की जरुरत : बाइडेन
बाइडेन ने अर्थव्यवस्था पर कहा कि इकोनॉमी को पटरी पर लाने के लिए हमें और कोशिशें करनी होंगी। मुझे पूरा भरोसा है कि हम बेहतर तरीके से वापसी करेंगे। अमेरिका के लोगों से कोरोना वैक्सीन लगवाने की अपील करते हुए कहा कि जाइए! वैक्सीनेशन कराइए, हमारे पास वैक्सीन की कोई कमी नहीं है।

चीन से टकराव नहीं चाहता अमेरिका
बाइडेन ने कहा कि अमेरिका इंडो-पेसिफिक रीजन में सेना की मजबूत मौजूदगी बनाए रखेगा। यह संघर्ष शुरू करने के लिए नहीं है बल्कि दूसरे देशों को ऐसा करने से रोकने के लिए है। मैंने चीन के राष्ट्रपति शी चिनपिंग से कहा था कि अमेरिका प्रतिस्पर्धा का स्वागत करता है, लेकिन टकराव नहीं चाहता।

स्पीकर नैंसी पेलोसी ने दिया था न्यौता
अमेरिका में प्रतिनिधि सभा की स्पीकर नैंसी पेलोसी ने बाइडेन को न्यौता भेजा था। बाइडेन ने कांग्रेस में किसी संयुक्त सत्र को पहली बार संबोधित किया है। पेलोसी ने बाइडेन को लिखे पत्र में कहा था कि करीब 100 दिन पहले जब आपने राष्ट्रपति की जिम्मेदारी संभाली थी, तब आपने बहुत आशा भरी भावना से संकल्प लिया था कि मदद आने वाली है। अब आपके ऐतिहासिक और परिवर्तनकारी नेतृत्व के कारण मदद यहां पहुंच गई है।

उन्होंने कहा था कि इसी भावना से मैं आपको इस ऐतिहासिक क्षण की चुनौतियों और अवसरों पर अपने विचार शेयर करने के लिए कांग्रेस के संयुक्त सत्र को संबोधित करने के लिए आमंत्रित करती हूं। इसके बाद बाइडेन ने पेलोसी के आमंत्रण को स्वीकार कर लिया था।