सिंगापुर / एक ऐसा अस्पताल, जहां आने से ही मरीजों का ब्लड प्रेशर सामान्य हो जाता है; यहां 700 खुशबूदार पौधे लगे

Hospital environments can be stressful for anyone
X
Hospital environments can be stressful for anyone

  • सिंगापुर के खू टेक पुआट अस्पताल में अब तक 8 लाख मरीजों का इलाज किया जा चुका है
  • फर्म का दावा है- हरियाली मेंटल-फिजिकल हेल्थ के लिए दवा का काम करती है
  • अब यहां मरीज सब्जियां उगाते और पौधों की देखभाल करते हैं

दैनिक भास्कर

Aug 19, 2019, 03:55 PM IST

टोक्यो. दवाइयों की दुर्गंध। मेडिकल इक्विपमेंट्स की आवाजें। नाराज मरीजों और उनके परिजनों का चिल्लाना। अस्पताल का ऐसा माहौल किसी भी व्यक्ति को तनाव में लाने के लिए काफी होता है। इन्हीं बातों को ध्यान में रखते हुए सिंगापुर की एक फर्म ने ऐसा अस्पताल बनाया है, जहां आने से ही मरीजों का तनाव और बढ़ा ब्लड प्रेशर सामान्य हो जाता है।

 

दरअसल, सीपीजी कॉर्पोरेशन फर्म से कहा गया था कि ऐसा अस्पताल बनाएं, जिससे यहां आने से मरीज तनाव में न आएं। साथ ही यहां का माहौल देखकर उनका ब्लड प्रेशर ठीक हो जाए। इसके लिए फर्म ने समाधान निकाला। वह था-हरियाली। फर्म ने खू टेक पुआट अस्पताल में बड़े-बड़े कमरे बनाए और आसपास 1000 पौधे लगा डाले। इनमें 700 खुशबूदार हैं।

हरियाली दवा का काम करती है

फर्म का दावा है- हरियाली मेंटल-फिजिकल हेल्थ के लिए दवा का काम करती है। अब यहां मरीज सब्जियां उगाते और पौधों की देखभाल करते हैं। खू टेक पुआट सिंगापुर के पांच प्रमुख अस्पतालों में एक है। इनमें खू टेक पुआट के अलावा टैन टॉक सेंग अस्पताल, सिंगापुर जनरल अस्पताल, चांगी जनरल अस्पताल और नेशनल यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल हैं।

अस्पताल का निर्माण 2005 में शुरू हुआ था। 2010 में यहां इलाज शुरू हुआ। इसे सिंगापुर की ही कंस्ट्रक्शन फर्म सीपीजी कॉरपोरेशन ने बनाया है। फर्म डिजाइनर के सामने एक ऐसा अस्पताल विकसित करने का टास्क था, जो दूसरे अस्पताल से अलग हो। कंपनी ने अपने काम को बखूबी अंजाम दिया। अस्पताल के सदस्य स्टीफन किशन ने कहा, इसकी सफलता को देखते हुए ही मलेशिया, चीन और पाकिस्तान में इसी तरह की परियोजनाओं को शुरू करने के लिए भवन निर्माता प्रेरित हुए हैं।

हाल ही में अस्पताल को लेकर हुए रिसर्च में दावा किया गया है कि यहां के प्राकृतिक वातावरण की बदौलत शारीरिक और मानसिक रोगियों में तेजी से सुधार हो रहा है। यहां की हरियाली और कई तरह की खुशबू की वजह से यह लोगों का फेवरेट प्लेस बन गया है।

 

Khoo-Teck-Puat-Hospital-

रिसर्चर्स बताते हैं कि अस्पताल का डिजाइन ऐसा है, जो मरीजों को प्रकृति के करीब रखता है। यहां बड़ी-बड़ी खिड़कियां, हवादार और खुले बरामदों के कारण 20 से 30 प्रतिशत अतिरिक्त ताजा हवा आती है। इस कारण अस्पताल में एसी और कूलर का भी कम से कम इस्तेमाल किया जाता है।

अस्पताल के छत पर एक गार्डन भी बनाया है। इसमें 200 से अधिक प्रजातियों की वनस्पति लगी है। इनमें से 100 मध्यम ऊंचाई वाले फलदार पेड़ हैं। 50 सब्जियों के पौधे और 50 जड़ी बूतियों वाली वनस्पतियां हैं। इनकी देखभाल अस्पताल के वॉलिंटियर्स ही करते हैं। यहां से उत्पन्न सामग्री मरीजों के लिए काम आती है।

 

Khoo-Teck-Puat-Hospital-1

स्टीफन किशन ने कहा, ‘खू टेक पुआट अस्पताल रोगियों के फीड बैक को लेकर सजग रहता है। अस्पताल ने अपने डिजाइन के लिए कई पुरस्कार जीते हैं, जिसमें इंटरनेशनल फ्यूचर लिविंग इंस्टीट्यूट और बायोफिलिक डिजाइन अवॉर्ड शामिल है।"

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना