लंदन के सदर्क में यूनियन स्टेशन के पास आग:कई ट्रेन रोकीं, नजदीकी इमारतें खाली कराईं; 70 फायर टेंडर आग बुझाने में जुटे

लंदनएक महीने पहले

लंदन के सदर्क में यूनियन स्ट्रीट रेलवे स्टेशन के पास आग लगने की घटना सामने आई है। बुधवार सुबह 9:20 बजे (भारतीय समयानुसार दोपहर करीब 1:50 बजे) एक रेलवे आर्च के नीचे आग लग गई। पार्किंग एरिया से होती हुई आग स्टेशन तक फैल गई। इस पर काबू पाने के लिए 70 से ज्यादा फायर टेंडर्स को मौके पर भेजा गया है।

यूनियन स्ट्रीट स्टेशन को पूरी तरह से बंद कर दिया गया है। साथ ही आसपास की इमारतों को खाली करा दिया गया है।
यूनियन स्ट्रीट स्टेशन को पूरी तरह से बंद कर दिया गया है। साथ ही आसपास की इमारतों को खाली करा दिया गया है।

लंदन फायर ब्रिगेड की तरफ से कहा गया है कि आग को फैलने से रोक दिया गया है, लेकिन उसे पूरी तरह बुझाया नहीं जा सका। आग की वजह से चार रेल लाइनों को बंद कर दिया गया है और 70 ट्रेनों के रूट बदले गए हैं। सुरक्षा के लिहाज से नजदीकी इमारतों को खाली कराया गया है। आग का धुआं आसपास के इलाके में फैल गया है।

आग से लंदन के व्यस्ततम लंदन ब्रिज रेलवे स्टेशन पर ऑपरेशन्स प्रभावित हुए हैं। यहां पहुंचने वाली कई गाड़ियां रद्द हो गई हैं।
आग से लंदन के व्यस्ततम लंदन ब्रिज रेलवे स्टेशन पर ऑपरेशन्स प्रभावित हुए हैं। यहां पहुंचने वाली कई गाड़ियां रद्द हो गई हैं।

कई किलोमीटर इलाके में फैला धुआं
नेटवर्क रेल ने बताया कि आग एक कार पार्किंग में भी फैल गई और दो इलेक्ट्रिक कारें इसकी चपेट में आ गईं। खतरे को देखते हुए स्टेशन के पास मौजूद कई कैफे और रेस्टोरेंट को बंद करा दिया गया है। इस आग से स्टेशन के आर्च को भी काफी नुकसान हुआ है।

यूनियन स्ट्रीट स्टेशन के पार्किंग लॉट में आग पहुंच जाने की वजह से दो इलेक्ट्रिक कारें इसकी चपेट में आ गईं।
यूनियन स्ट्रीट स्टेशन के पार्किंग लॉट में आग पहुंच जाने की वजह से दो इलेक्ट्रिक कारें इसकी चपेट में आ गईं।

ट्रेन ड्राइवर ने धुआं देखकर आग की सूचना दी
नेटवर्क रेल के मुताबिक, आग की लपटों को सबसे पहले एक ट्रेन ड्राइवर ने देखा। ड्राइवर ने लंदन ब्रिज और वाटरलू ईस्ट के बीच रेलवे लाइन के ऊपर धुआं देखकर स्टेशन पर इसकी सूचना दी। लंदन फायर ब्रिगेड (LFB) को इस घटना की जानकारी बुधवार सुबह 9:29 बजे (भारतीय समयानुसार दोपहर करीब 2 बजे) मिली।

सदर्क स्टेशन घनी आबादी के बीच बना हुआ है। लिहाजा सबसे पहले आग को फैलने से रोका गया, ताकि लोगों को खतरा न हो।
सदर्क स्टेशन घनी आबादी के बीच बना हुआ है। लिहाजा सबसे पहले आग को फैलने से रोका गया, ताकि लोगों को खतरा न हो।

LFB के मुताबिक, पटरियों के नीचे के पूरे रेलवे आर्च में आग लग गई थी और धुआं कई किलोमीटर दूर से देखा जा सकता था। फायर ब्रिगेड ने बताया कि 11:20 बजे ही (भारतीय समयानुसार 3:50 बजे) आग को फैलने से रोक दिया गया था। अभी इसे बुझाने का काम जारी है। लोगों को सलाह दी गई है कि वे धुएं से बचाव के लिए घरों की खिड़कियां-दरवाजे बंद रखें।

लंदन फायर ब्रिगेड ने धुएं से बचाव के लिए लोगों से दरवाजे-खिड़कियां बंद रखने को कहा है। सदर्क स्ट्रीट को बंद कर दिया गया है।
लंदन फायर ब्रिगेड ने धुएं से बचाव के लिए लोगों से दरवाजे-खिड़कियां बंद रखने को कहा है। सदर्क स्ट्रीट को बंद कर दिया गया है।

चश्मदीद ने बताया- ऑफिस से रेस्क्यू किया गया
साउथ लदंन की रहने वाली एक चश्मदीद हनुशे ने बताया कि काला धुआं उसके ऑफिस तक पहुंच गया था। इसके बाद उसे रेस्क्यू कर बाहर निकाला गया। हनुशे ने बताया कि हमारे ऑफिस के आसपास की इमारतें भी खाली करा ली गई हैं। फायर ब्रिगेड ने हमें बताया है कि हमें अंदर जाने के लिए घंटों इंतजार करना पड़ सकता है, क्योंकि आग बढ़ती जा रही है। वहीं, एक स्टूडेंट लॉरेन चोपिन ने बताय कि धुएं के कारण उसे अपने अपार्टमेंट में मास्क पहनना पड़ा।