अमेरिका / 85 साल के लेखक ने ग्रेजुएशन किया, कभी गणित-विज्ञान के डर से पढ़ाई छोड़ दी थी



दीक्षांत समारोह में सॉउल इस्लर। दीक्षांत समारोह में सॉउल इस्लर।
Los Angeles, Saul Isler sees the unfolding of his stay on earth differently
Los Angeles, Saul Isler sees the unfolding of his stay on earth differently
X
दीक्षांत समारोह में सॉउल इस्लर।दीक्षांत समारोह में सॉउल इस्लर।
Los Angeles, Saul Isler sees the unfolding of his stay on earth differently
Los Angeles, Saul Isler sees the unfolding of his stay on earth differently

  • सॉउल इस्लर ने कहा कि सीखने की कोई उम्र नहीं होती, इसलिए ग्रेजुएशन करने का फैसला लिया 

Dainik Bhaskar

Jun 15, 2019, 01:01 PM IST

लॉस एंजिलिस.  लेखक, कॉलमनिस्ट और प्रिंटिंग डिजाइन का व्यवसाय करने वाले सॉउल इस्लर ने 85 साल में अपना ग्रेजुएशन कर लिया। युवा अवस्था में उन्होंने विश्वविद्यालय की पढ़ाई गणित और विज्ञान के डर से छोड़ दी थी, क्योंकि इन दोनों विषयों में वे बेहद कमजोर थे। सैंटा मोनिका कॉलेज से डिग्री लेने के बाद सॉउल ने कहा कि आपको लग सकता है कि मेरे पास सीखने को कुछ बचा नहीं है, लेकिन यह ठीक नहीं। मैंने अपने साढ़े आठ दशकों के जीवन में कई मुसीबतें झेली और उनसे बहुत कुछ सीखा है। आज मेरी काफी पुरानी इच्छा पूरी हो गई। 

 

सॉउल बताते हैं, "मैंने जीवन के हर हिस्से से कुछ न कुछ हासिल किया है। शुरुआत में मैंने एक एड एजेंसी में काम किया। इसके बाद खुद प्रिंट डिजाइनिंग का काम शुरू किया। आज मैं एक स्थापित ड्राफ्टमैन हूं।" सॉउल ने बताया कि बचपन से मैं अपने पिता की तरह एक वकील बनना चाहता था, लेकिन मेरी गणित और विज्ञान में अच्छी पकड़ नहीं थी। इसलिए पढ़ाई छोड़नी पड़ी। इसके बाद मैंने अपना सारा समय पढ़ने और अपनी शब्दावली का विस्तार करने और शब्दों की परिभाषा लिखने में बिताया।"

 

61 की उम्र कॉलम लिखना शुरू किया

सॉउल जब 61 साल के थे तब उन्होंने कॉलम ‘वुड बचर’ लिखना शुरू किया था। इसमें लड़की के काम के बारे में जानकारी होती थी। हाल के दशकों में मेरे तीन उपन्यास और तीन लधु कथाओं वाली तीन पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी हैं। रेडिया और प्रिंट में सॉउल की रेस्तरां समीक्षाएं भी आती रहती हैं।

COMMENT