पाकिस्तान में मॉब लिंचिंग:कुरान के अपमान का आरोप लगाकर पेड़ से लटकाया, पुलिस कस्टडी में ही पत्थर मार-मारकर हत्या

पाकिस्तान6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पाकिस्तान में कुरान का अपमान करने के आरोप में भीड़ ने एक व्यक्ति की पीट-पीटकर हत्या कर दी। भीड़ ने व्यक्ति को एक पेड़ से लटका दिया और उस पर पत्थर फेंकने लगे। इस दौरान वह खुद को बेगुनाह बताकर लोगों से मदद मांगता रहा, लेकिन किसी ने उसकी एक नहीं मानी। उस पर तब तक पत्थर फेंके गए जब तक कि उसकी मौत नहीं हो गई।

कुरान के पन्ने फाड़कर लगा दी आग
मामला पाकिस्तान के पंजाब प्रांत स्थित खानेवाल जिले के एक गांव का है। यहां लोग नमाज के लिए इकट्ठे हुए थे, तभी एक व्यक्ति ने कुरान के कुछ पन्नों को फाड़ दिया और उनमें आग लगा दी। इससे गुस्साए लोगों ने उस शख्स पर हमला कर दिया।

पुलिस कस्टडी में कर दी हत्या
कुरान का अपमान करने से गुस्से में आए लोगों ने पहले व्यक्ति को जमकर पीटा, फिर उसे एक पेड़ से लटका दिया। मौके पर भीड़ इकट्ठा हो गई और आरोपी पर पथराव शुरू कर दिया। मौके पर मौजूद कुछ लोगों ने बताया कि पथराव से पहले ही पुलिस वहां पहुंच गई थी और आरोपी को हिरासत में ले लिया, लेकिन भीड़ ने उसे पुलिस की कस्टडी में ही पकड़ लिया।

CM ने मांग ली रिपोर्ट
घटना की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल होने लगीं हैं। इससे पाकिस्तान सरकार की आलोचना शुरू हो गई है। इस पर प्रांतीय सरकार हरकत में आ गई है। मुख्यमंत्री उस्मान बजदार ने IGP राव सरदार अली खान से मामले की रिपोर्ट मांग ली है।

धर्म के नाम पर मॉब लिंचिंग पाकिस्तान में आम बात
एक रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान में धार्मिक अपमान के नाम पर मॉब लिंचिंग होना आम बात है। साल 1947 में बंटवारे के बाद से अब तक पाकिस्तान में किसी धर्म का अपमान करने के कुल 1,415 मामले दर्ज हो चुके हैं। थिंक टैंक की एक रिपोर्ट के मुताबिक, 1947 से 2021 तक किसी धर्म या धार्मिक ग्रंथ का अपमान करने के आरोप में 18 महिलाओं और 71 पुरुषों की हत्या की गई। थिंक टैंक का कहना है कि यह आधिकारिक डेटा है, जबकि असली संख्या इससे काफी ज्यादा है।