PAK टीम के मुरीद हुए हेडन:पाकिस्तानी विकेटकीपर ने कोच मैथ्यू हेडन को कुरान गिफ्ट की, इस्लाम से प्रभावित हुए पूर्व ऑस्ट्रेलियाई ओपनर

दुबई8 महीने पहले

टी-20 वर्ल्ड के दूसरे सेमीफाइनल में गुरुवार को पाकिस्तान का मुकाबला ऑस्ट्रेलिया से है। ऑस्ट्रेलिया के पूर्व ओपनर मैथ्यू हेडन पाकिस्तान के बैटिंग कोच हैं। उन्हें टी-20 वर्ल्ड कप के लिए बैटिंग कोच बनाया गया है। आज उनके लिए खास दिन होगा। एक तरफ उनका दिल में बसा ऑस्ट्रेलिया है। दूसरी तरफ, जिम्मेदारी है पाकिस्तान टीम के बैटिंग कोच की।

हेडन और पाकिस्तान टीम का साथ इसी टूर्नामेंट से शुरू हुआ और कब तक चलेगा, ये तय नहीं हैं। इसकी वजह यह है कि हेडन की नियुक्ति अस्थाई है। बहरहाल, इतने कम वक्त में वे बाबर आजम की कप्तानी वाली पाकिस्तान से प्रभावित हो गए। इस टीम में मौजूद टैलेंट के कायल हैं और इस्लाम के प्रति भी उनका रुझान हुआ है।

टैलेंटेड प्लेयर हैं पाकिस्तान टीम में
हेडन मानते हैं कि पाकिस्तान टीम के ड्रेसिंग रूम में टैलेंट की कमी नहीं है। इसके साथ ही इस टीम में मजहब और आस्था के प्रति भी गहरा समर्पण है। ‘डेली टाइम्स पाकिस्तान’ से बातचीत में हेडन ने कहा- पाकिस्तानी प्लेयर्स बहुत खुले दिमाग वाले हैं। वे जल्द ही चीजों को सीख लेते हैं।

इस्लाम के प्रति रुझान का जिक्र करते हुए हेडन ने एक घटना का जिक्र किया। कहा- मैं क्रिश्चियन हूं, लेकिन इस्लाम को समझना चाहता हूं। एक जीसस क्राइस्ट को फॉलो करता है और दूसरा मोहम्मद को।

रिजवान ने कुरान दी
हेडन आगे कहते हैं- पाकिस्तान के विकेटकीपर बैटर मोहम्मद रिजवान ने मुझे कुरान का अंग्रेजी ट्रांसलेशन दिया। हमने आधे घंटे तक इस पर बातचीत की। इस पवित्र किताब पर बातचीत की। अब मैं हर रोज कुरान का कुछ हिस्सा पढ़ता हूं। रिज्जी (रिजवान) मेरे पसंदीदा लोगों में से एक हैं, वो बहुत शानदार इंसान हैं। बाबर आजम भी बहुत अच्छे प्लेयर और इंसान हैं। दुनिया के बेहतरीन बल्लेबाजों में से एक होने के बावजूद वे हर रोज कुछ सीखना चाहते हैं।

हेडन ने माना कि पाकिस्तानी प्लेयर्स के साथ लॉकर रूम शेयर करना उनके जीवन के सबसे अच्छे अनुभवों में शुमार है।