विज्ञापन

अमेरिका / माइक्रोसॉफ्ट के सीटीओ जोसेफ सिरोश ने कंपनी छोड़ी, रियल एस्टेट फर्म से जुड़े

Dainik Bhaskar

Dec 06, 2018, 01:54 PM IST


Microsoft Indian-origin AI CTO Joseph Sirosh joins Compass
X
Microsoft Indian-origin AI CTO Joseph Sirosh joins Compass
  • comment

  • भारतीय मूल के सिरोश पिछले 5 साल से माइक्रोसॉफ्ट में थे
  • सिरोश न्यूयॉर्क की फर्म कम्पास में चीफ टेक्नोलॉजी ऑफिसर बने 
  • केरल में जन्मे सिरोश ने आईआईटी मद्रास से पढ़ाई की थी

सैन फ्रांसिस्को. भारतीय मूल के जोसेफ सिरोश ने माइक्रोसॉफ्ट छोड़कर अमेरिकी रियल एस्टेट कंपनी कम्पास ज्वॉइन कर ली है। उन्होंने बुधवार को ट्वीट कर खुद यह जानकारी दी। वो माइक्रोसॉफ्ट में चीफ टेक्नोलॉजी ऑफिसर (आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस) थे। सिरोश पिछले 5 साल से माइक्रोसॉफ्ट के साथ जुड़े हुए थे। उन्होंने कम्पास में भी चीफ टेक्नोलॉजी ऑफिसर के पद पर ज्वॉइन किया है।

कम्पास की इंजीनियरिंग टीम को लीड करेंगे सिरोश

  1. केरल के त्रिशूर जिले में जन्मे सिरोश आईआईटी मद्रास से ग्रेजुएट हैं। उनका कहना है कि कम्पास, टेक्नोलॉजी के जरिए घरों की खरीद-बिक्री को आसान बना रही है। यह तेजी से बढ़ता प्लेटफॉर्म है। यहां की लीडरशिप बेहतर है।

  2. कम्पास ने ट्वीट के जरिए सिरोश की नियुक्ति के बारे में बताते हुए कहा कि वो कंपनी की इंजीनियरिंग टीम को लीड करेंगे। हमने अपने रियल एस्टेट ईकोसिस्टम के लिए आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस पर आधारित नए प्रोडक्ट डेवलप किए हैं।

  3. माइक्रोसॉफ्ट में रहते हुए सिरोश ने आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस प्रोजेक्ट्स को लीड किया था। उन्होंने क्लाउड, डेटा और मशीन लर्निंग पर भी काम किया।

  4. माइक्रोसॉफ्ट से पहले सिरोश 9 साल तक ई-रिटेल कंपनी अमेजन में वाइस प्रेसिडेंट के पद पर रहे थे। इस साल की शुरुआत में न्यूज एजेंसी को दिए इंटरव्यू में सिरोश ने कहा था कि भारत को एग्रीकल्चर, हेल्थकेयर और एजुकेशन सेक्टर को बेहतर बनाने के लिए आर्टिफिशियल इटेंलीजेंस का इस्तेमाल करने की जरूरत है।

COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543
विज्ञापन