पाकिस्तान / एचआईवी के 400 पीड़ित सामने आए, डॉक्टर की संक्रमित सुई से वायरस फैलने का शक

Dainik Bhaskar

May 17, 2019, 03:42 PM IST


प्रतीकात्मक तस्वीर। प्रतीकात्मक तस्वीर।
X
प्रतीकात्मक तस्वीर।प्रतीकात्मक तस्वीर।

  • पाक में 6 लाख फर्जी डॉक्टर मरीजों का इलाज कर रहे
  • एचआईआईवी पीड़ितों की बढ़ती तादाद के मामले में पाक एशिया में दूसरे नंबर पर

इस्लामाबाद. पाकिस्तान के सिंध प्रांत में पिछले एक सप्ताह में करीब 400 से ज्यादा लोग एचआईवी पीड़ित पाए गए। इनमें बच्चों की संख्या सबसे ज्यादा है। आरोप है कि यहां के लरकाना में एक डॉक्टर ने कई लोगों को संक्रमित सुई लगाई, जिससे एड्स फैल गया। आरोपी डॉक्टर के प्रति लोगों में गुस्सा है।

एक साल तक के बच्चे भी एचआईवी पीड़ित

  1. स्वास्थ्य अधिकारी का कहना है कि 400 से ज्यादा लोग एचआईवी पीड़ित हो गए हैं। यह संख्या और बढ़ने की आशंका है। लरकाना गांव के लोग डरे हुए हैं। उनमें काफी गुस्सा है। ये घटना स्थानीय बाल रोग चिकित्सक की लापरवाही के कारण हुई।

  2. डॉक्टरों का कहना है कि मरीजों के इलाज के लिए कर्मियों और उपकरणों की भारी कमी है। परिजनों में अपने बच्चों को लेकर ज्यादा डर है। वे अपने बच्चों का एचआईवी टेस्ट करवा रहे हैं। चौंकाने वाली बात है कि एक साल तक के कई बच्चे भी एचआईवी पीड़ित पाए गए।

  3. एचआईवी/एड्स पर संयुक्त राष्ट्र कार्यक्रम (यूएनएआईडीएस) की रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान में करीब छह लाख फर्जी डॉक्टर लोगों का इलाज कर रहे हैं। सिर्फ सिंध प्रांत में ही ऐसे 2.70 लाख फर्जी डॉक्टर हैं। 

  4. गरीबी और अशिक्षा से जूझ रहे पाकिस्तान में एचआईवी को लेकर जागरूकता की कमी है। लरकाना के इमाम जादी का पोता भी एचआईवी संक्रमित हो गया है। यह पता चलने के बाद उन्होंने अपने घर के सभी बच्चों की जांच कराई है। 

  5. संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट के मुताबिक, एचआईवी के मामले में पाकिस्तान एशिया का दूसरा देश है। यहां एचआईवी के मरीज लगातार बढ़ रहे हैं। 2017 में अकेले पाकिस्तान में ही 20 हजार ऐसे मामले सामने आए थे। पाकिस्तान में गरीबी बहुत ज्यादा है। ऐसे में लोग एचआईवी का इलाज कराने में भी सक्षम नहीं हैं।

COMMENT