नासा / मंगल मिशन पर चिप में लोगों के नाम भेजने की तैयारी, हिस्सा लेने वालों को बोर्डिंग पास दिए जा रहे



रोवर। रोवर।
मिशन की तैयारी में वैज्ञानिक। मिशन की तैयारी में वैज्ञानिक।
X
रोवर।रोवर।
मिशन की तैयारी में वैज्ञानिक।मिशन की तैयारी में वैज्ञानिक।

  • जुलाई 2020 में लॉन्च होगा मिशन, फरवरी 2021 तक मंगल की सतह पर पहुंचेगा
  • नासा की घोषणा के कुछ ही घंटों में हजारों लोगों ने भेज दिए नाम

Dainik Bhaskar

May 26, 2019, 07:46 AM IST

वॉशिंगटन. अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा 2020 में मंगल पर मिशन भेजेगी। इसमें सिर्फ रोबोट ही भेजा जाएगा। लेकिन नासा ने लोगों से ऑनलाइन आवेदन करने के लिए कहा है, ताकि इस मिशन पर उनके नाम एक चिप में मंगल पर भेजे जा सकें। लोगों का बाकायदा चुनाव किया जाएगा, लेकिन ऑनलाइन हिस्सा लेने वालों को स्मृति चिह्न के तौर पर एक बोर्डिंग पास दिया जा रहा है। जुलाई 2020 में लॉन्च होने के बाद मिशन मंगल पर फरवरी 2021 तक रोबोट को लेकर पहुंचेगा। 

 

कुछ घंटों में मिले हजारों नाम
नासा ने 20 मई को लोगों से नाम मांगे थे। घोषणा के कुछ ही घंटों के बाद हजारों लोगों ने आवेदन कर दिया। कई लोगों ने बोर्डिंग पास मिलने की खुशी में कई ट्वीट भी कर दिए। यह जानते हुए कि उन्हें नहीं सिर्फ नामों को मंगल पर भेजा जाना है। लोगों के लिए नासा का पास किसी सपने जैसा है। लोग इसे एडवेंचर यात्रा भी कह रहे हैं। 

 

मिट्‌टी-पत्थर का संकलन, पानी और ऑक्सीजन के प्रयोग होंगे
मिशन मंगल पर भेजे वाला रोवर वहां से मिट्‌टी और पत्थरों के नमूने एकत्रित करेगा और उन्हें पृथ्वी पर लेकर आएगा। इसके अलावा मंगल पर वायुमंडल की मौजूदगी का भी पता लगाने की कोशिश होगी। इसके लिए ऑक्सीजन के उत्पादन का एक प्रयोग किया जाएगा। इतना ही नहीं पानी जैसे संसाधनों की भी खोज की जानी है। इससे मंगल पर इंसान के भविष्य के लिए अभियानों की रूपरेखा तैयार होगी।  

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना