• Hindi News
  • International
  • NASA Spacex Inspiration4 Civilian Spaceflight Launch LIVE Video Update; Elon Musk | Space Tourism Elon Musk, Inspiration4 Crew

आज से स्पेस टूरिज्म शुरू:एलन मस्क की कंपनी ने रचा इतिहास, 4 आम लोगों को रॉकेट से अंतरिक्ष में भेजा; ये 575 किमी ऊपर पृथ्वी की कक्षा में 3 दिन गुजारेंगे

फ्लोरिडा3 महीने पहले

अमेरिकी कारोबारी एलन मस्क की कंपनी स्पेसएक्स ने आज इतिहास रच दिया। उसने भारतीय समयानुसार सुबह 5:33 बजे पहली बार 4 आम लोगों को अंतरिक्ष में भेजा। नासा के फ्लोरिडा स्थित कैनेडी स्पेस रिसर्च सेंटर से फॉल्कन-9 रॉकेट की लॉन्चिंग हुई। इसके करीब 12 मिनट बाद ड्रैगन कैप्सूल रॉकेट से अलग हो गया।

यह कैप्सूल 357 मील यानी करीब 575 किलोमीटर की ऊंचाई पर पृथ्वी की कक्षा में तीन दिन चक्कर लगाएगा। 2009 के बाद पहली बार इंसान इतनी ऊंचाई पर पहुंचा है। मई 2009 में वैज्ञानिक हबल टेलिस्कोप की रिपेयरिंग के लिए 541 किलोमीटर की ऊंचाई पर गए थे। इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन (ISS) पर अंतरिक्ष यात्रियों का आना-जाना लगा रहता है, लेकिन यह 408 किलोमीटर की ऊंचाई पर है। इस मिशन को इंस्पिरेशन 4 नाम दिया गया है।

मिशन का मकसद चैरिटी
इस मिशन का मकसद अमेरिका के टैनेसी स्थित सेंट जूड चिल्ड्रन रिसर्च हॉस्पिटल के लिए फंडिंग जुटाना है। मिशन को लीड कर रहे इसाकमैन इससे 20 करोड़ डॉलर जुटाना चाहते हैं। इसकी आधी रकम वे खुद देंगे। इस मिशन से कैंसर के प्रति जागरूकता भी बढ़ाई जाएगी। मिशन के सदस्यों को अलग-अलग ह्यूमन वैल्यू दी गई हैं। जैसे लीडरशिप, होप, इंस्पिरेशन और प्रॉस्पैरिटी। मिशन की एक सदस्य सेंट जूड चिल्ड्रन रिसर्च हॉस्पिटल में फिजिशियन असिस्टेंट भी हैं और कैंसर सर्वाइवर हैं। उनका कैंसर का इलाज इसी हॉस्पिटल में हुआ है।

कौन हैं क्रू मेंबर?

  • जेयर्ड इसाकमैन: मिशन की पूरी कमांड इसाकमैन के हाथों में है। 38 साल के इसाकमैन शिफ्ट4पेमेंट नामक पेमेंट कंपनी के फाउंडर और CEO हैं। 16 साल की उम्र में ही उन्होंने इस कंपनी की शुरुआत की थी और आज वे अरबपति हैं। वे प्रोफेशनल पायलट हैं और अपनी पायलट ट्रेनिंग कंपनी के जरिए अमेरिकी एयरफोर्स के पायलट्स को ट्रेनिंग देते हैं।
  • हेयली आर्केनो: हेयली कैंसर सर्वाइवर हैं। 29 साल की हेयली अंतरिक्ष में जाने वाली सबसे कम उम्र की अमेरिकी नागरिक हैं। उन्हें हड्डियों का कैंसर था और उनका इलाज टैनेसी के सेंट जूड हॉस्पिटल में हुआ था। मिशन में हेयली को मेडिकल ऑफिसर की जिम्मेदारी मिली है।
  • शॉन प्रोक्टर: 51 साल के प्रोक्टर एरिजोना के एक कॉलेज में जियोलॉजी की प्रोफेसर हैं। प्रोक्टर के पिता अपोलो मिशन के दौरान नासा के साथ काम कर चुके हैं। वे खुद कई बार नासा के स्पेस प्रोग्राम में पार्टिसिपेट कर चुकी हैं।
  • क्रिस सेम्ब्रोस्की: 42 साल के क्रिस अमेरिकी एयरफोर्स के पायलट रहे हैं और इराक युद्ध में भी शामिल थे। फिलहाल क्रिस एयरोस्पेस और डिफेंस निर्माता कंपनी लॉकहीड मार्टिन के साथ काम कर रहे हैं।

मिशन की क्या खासियत है?

  • धरती की कक्षा में जाने वाला ये पहला नॉन प्रोफेशनल एस्ट्रोनॉट्स का क्रू है। इस मिशन के चारों सदस्य इससे पहले कभी अंतरिक्ष में नहीं गए हैं। चारों आम लोग हैं।
  • इससे पहले ब्लू ओरिजिन और वर्जिन स्पेस शिप ने भी प्राइवेट स्पेस टूरिज्म की शुरुआत करते हुए उड़ान भरी थी, लेकिन ये दोनों स्पेसक्राफ्ट एज ऑफ स्पेस तक ही गए थे। दूसरी ओर इसाकमैन का स्पेसक्राफ्ट धरती की ऑर्बिट में चक्कर लगाएगा। दूरी के लिहाज से देखा जाए तो ये पहले के दोनों स्पेसक्राफ्ट से करीब 475 किलोमीटर ज्यादा दूर जाएगा।
  • ब्लू ओरिजिन और वर्जिन स्पेस शिप के मिशन कुछ मिनटों के ही थे। वे लोग स्पेस में गए और कुछ मिनटों बाद दोबारा धरती पर लौट आए, लेकिन ये मिशन तीन दिन का है।
  • इस स्पेसक्राफ्ट में दो ट्रेन्ड पायलट हैं, लेकिन स्पेसक्राफ्ट को ऑपरेट करने में उनका कोई रोल नहीं है। वर्जिन स्पेस शिप को दो पायलट ऑपरेट कर रहे थे।

ड्रैगन स्पेसक्राफ्ट से तय हुआ यह सफर
चारों लोग ड्रैगन स्पेसक्राफ्ट से अंतरिक्ष में पंहुचे। ये स्पेसक्राफ्ट एक साथ 7 लोगों को स्पेस में ले जा सकता है। ये इंसान को स्पेस में ले जाने वाला पहला प्राइवेट स्पेसक्राफ्ट भी है। इसे फॉल्कन-9 रॉकेट से लॉन्च किया गया।

खर्च का अभी खुलासा नहीं
इस पूरी ट्रिप का खर्च जेयर्ड इसाकमैन उठा रहे हैं। मिशन की टोटल कॉस्ट का अभी तक कोई खुलासा नहीं किया गया है, लेकिन माना जा रहा है कि इसाकमैन ने मिशन के लिए स्पेसएक्स को अच्छी खासी रकम दी है। शायद मिशन पूरा होने के बाद इसाकमैन खर्च का ब्योरा सार्वजनिक करें।