समिट / पुतिन से मिलने पहुंचे किम, उ. कोरिया-रूस के बीच ऐतिहासिक रिश्तों के बावजूद दोनों की पहली मुलाकात

X

  • किम उत्तर कोरिया से अपनी प्राइवेट ट्रेन में बैठकर रूस के व्लादिवोस्तोक पहुंचे
  • अमेरिका और चीन के राष्ट्रपति से मिलने के बाद किम अब प्रतिबंध खत्म करने के लिए पुतिन से मिलने पहुंचे हैं

Apr 24, 2019, 11:16 AM IST

व्लादिवोस्तोक. उत्तर कोरिया के शासक किम जोंग-उन रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से मिलने रूस के व्लादिवोस्तोक पहुंचे। किम अपनी प्राइवेट ट्रेन से बुधवार तड़के ही प्योंग्यांग से निकले थे। सबसे पहले उनका स्वागत खासान शहर में हुआ। दोनों देशों के बीच ऐतिहासिक रिश्ते रहने के बावजूद किम शासक बनने के बाद से अब तक पुतिन से नहीं मिले हैं। दोनों राष्ट्राध्यक्षों की 8 साल में यह पहली मुलाकात है। आखिरी बार उनके पिता किम जोंग-इल रूस के तत्कालीन राष्ट्रपति दिमित्री मेदवेदेव से मिले थे। 

 

खासान की स्थानीय नेता नतालिया करपोवा ने रूसी न्यूज एजेंसी तास को बताया कि स्टेशन पर किम का फूल और ब्रेड-नमक देकर स्वागत किया गया। यह रूस की परंपरा है। किम इसके बाद करीब 9 घंटे का सफर तय कर वे व्लादिवोस्तोक पहुंचे। दोनों नेता व्लादिवोस्तोक में ही बैठक करेंगे। हालांकि, अभी दोनों के बीच किसी समझौते या साझा बयान को लेकर स्थिति साफ नहीं है। 

 

अमेरिका के प्रतिबंध न हटाने के बाद रूस पहुंचे किम
किम जोंग-उन इससे पहले अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से भी मुलाकात कर चुके हैं। ट्रम्प और किम की पहली मुलाकात पिछले साल जून में हुई थी, जबकि दूसरी मुलाकात इस साल फरवरी में वियतनाम में हुई। दोनों ही बैठकें सिर्फ उत्तर कोरिया के परमाणु कार्यक्रम को खत्म करने की मांग के साथ बेनतीजा खत्म हुईं। ट्रम्प ने किम की आर्थिक प्रतिबंधों में ढील देने की बात नहीं मानी। 

 

माना जा रहा है कि ट्रम्प-किम की मुलाकात के बाद उत्तर कोरिया के हालात स्थिर हुए हैं। हालांकि, उसकी आर्थिक स्थिति में कोई खास सुधार नहीं हुआ। इसी के चलते अब किम रूस से मदद मांग सकते हैं। रूस भी उत्तर कोरिया का परमाणु कार्यक्रम खत्म करने में सहयोग बढ़ा सकता है। 

 

किम से तीसरे दौर की वार्ता करने के इच्छुक हैं ट्रम्प
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने किम से तीसरी बार मुलाकात की इच्छा जताई है। वियतमान में दोनों के बीच परमाणु हथियारों पर रोक लगाए जाने पर सहमति नहीं बन पाई थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ट्रम्प उत्तर कोरिया के साथ कई छोटे-छोटे समझौता करना चाहते हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना