• Hindi News
  • International
  • Rafale Shastra Puja: Pakistan Army, Gen Asif Ghafoor On Rajnath Singh Rafale Shastra Puja In France; Fawad Chaudhry

अप्रत्याशित / राफेल पूजा पर पाकिस्तान सेना ने कहा- धार्मिक आस्था का सम्मान करें; मंत्री ने उड़ाया था मजाक



दशहरे पर फ्रांस में राफेल फाइटर जेट की शस्त्र पूजन करते रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह। दशहरे पर फ्रांस में राफेल फाइटर जेट की शस्त्र पूजन करते रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह।
X
दशहरे पर फ्रांस में राफेल फाइटर जेट की शस्त्र पूजन करते रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह।दशहरे पर फ्रांस में राफेल फाइटर जेट की शस्त्र पूजन करते रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह।

  • इमरान सरकार में मंत्री फवाद चौधरी ने फ्रांस में राजनाथ की राफेल पूजा पर तंज कसा था
  • पाकिस्तान सेना के प्रवक्ता आसिफ गफूर ने कहा- यह आस्था का विषय, इसका सम्मान करें

Dainik Bhaskar

Oct 11, 2019, 11:50 AM IST

इस्लामाबाद. पाकिस्तान सेना ने फ्रांस में राजनाथ सिंह द्वारा राफेल फाइटर जेट की पूजा करने का बचाव किया। वहां से सैन्य प्रवक्ता ने इसे धार्मिक आस्था का विषय बताया। इसके पहले पाकिस्तान के साइंस एंड टेक्नोलॉजी मिनिस्टर फवाद चौधरी ने राफेल पूजा का मजाक उड़ाया था। आमतौर पर भारत विरोधी बयान देने वाली पड़ोसी देश की सेना का शस्त्र पूजा को सही बताना चौंकाने वाला है। इसे इमरान के मंत्री को नसीहत के तौर पर भी देखा जा सकता है। दशहरे पर फ्रांस ने भारत को पहला राफेल फाइटर जेट सौंपा था। पारंपरिक तौर पर राजनाथ ने इसकी पूजा की थी। भारत में दशहरे पर शस्त्र पूजा की धार्मिक परंपरा है। 

 

राफेल पूजा में कुछ भी गलत नहीं
भारत में भी कांग्रेस समेत कुछ विपक्षी दलों ने फ्रांस में राफेल पूजा का मजाक उड़ाया था। कांग्रेस के संदीप दीक्षित, मल्लिकार्जुन खड़गे और एनसीपी के मुखिया शरद पवार इन नेताओं में शामिल हैं। फवाद चौधरी ने भी ट्वीट कर राफेल की शस्त्र पूजा का मजाक उड़ाया। लेकिन, उनके ही देश की सेना ने न सिर्फ इसका समर्थन किया बल्कि इसे धार्मिक आस्था का विषय भी बताया। डीजी आईएसपीआर मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्वीट किया। लिखा, “राफेल पूजा में कुछ भी गलत नहीं है। यह धार्मिक आस्था का विषय है। इसका सम्मान किया जाना चाहिए। ध्यान रखिए, यह सिर्फ मशीन नहीं है। इसको इंसान चलाता है। इसके पीछे उसका जुनून और प्रतिस्पर्धा होती है।”

राजनाथ का विरोधियों को जवाब
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह फ्रांस दौरे से गुरुवार रात दिल्ली लौटे। उन्होंने कहा कि भारत को अगले साल अप्रैल-मई तक 7 राफेल लड़ाकू विमान मिल जाएंगे। यह विमान 1800 किमी प्रति घंटा की गति पाने में सक्षम है। मैंने इसमें 1300 किमी प्रति घंटे की स्पीड पर उड़ान भरी। राफेल विमानों को देश में लाने का पूरा श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जाता है। फ्रांस में शस्त्र पूजा पर राजनाथ ने कहा कि अलौकिक शक्ति में हमारा विश्वास है। रक्षा मंत्री के मुताबिक, राफेल डील को लेकर प्रधानमंत्री मोदी पर जो आरोप लगाए गए, वे निराधार हैं। प्रधानमंत्री के खिलाफ भद्दी भाषा का प्रयोग किया गया। मुझे लगता है कि इस मुद्दे पर देश की जनता ने अपना जवाब दे दिया है।

 

सिंघवी ने राफेल पूजा का समर्थन किया
संदीप दीक्षित और खड़गे से उलट कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने राफेल की शस्त्र पूजा का समर्थन किया। एक ट्वीट में उन्होंने कहा, “केवल दो चीजें अनंत हैं- ब्रह्मांड और विस्तार। तमाम हल्की बातों को किनारे रख दें। अगर कोई भारतीय हमारी परंपरानुसार पूजा करता है, तो किसी को उसकी आलोचना करने की जरूरत नहीं है। रक्षा मंत्री ने केवल अपनी परंपरा का निर्वहन किया।”

वरिष्ठ कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने राफेल की शस्त्र पूजा का समर्थन किया है।

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना