पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • International
  • Pakistan Sikh | Pakistan Court Allows Sikh Girl Jagit Kaur Go With Her Muslim Husband Mohammad Hassan

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों को इंसाफ नहीं:लाहौर हाईकोर्ट ने कहा- सिख लड़की मुस्लिम पति के साथ जहां चाहे जा सकती है; फैसले के बाद ननकाना साहिब में तनाव

लाहौर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हसन के साथ जगजीत (बाएं)। जगजीत के परिवार का आरोप है कि उनकी बेटी नाबालिग है। हसन ने उस पहले किडनैप किया और बाद में जबरन निकाह कर लिया। -फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
हसन के साथ जगजीत (बाएं)। जगजीत के परिवार का आरोप है कि उनकी बेटी नाबालिग है। हसन ने उस पहले किडनैप किया और बाद में जबरन निकाह कर लिया। -फाइल फोटो
  • सिख परिवार के वकील ने कहा- स्कूल सर्टिफिकेट से साबित हो जाता है कि लड़की नाबालिग है
  • मुस्लिम पक्ष के वकील ने कहा- नेशनल डेटाबेस और रजिस्ट्रेशन अथॉरिटी के अनुसार, लड़की की उम्र 19 साल है

एक सिख लड़की से जबरन शादी करने के मामले में गुरुवार को पाकिस्तान के लाहौर हाईकोर्ट ने फैसला सुनाया। हाईकोर्ट ने कहा- सिख लड़की पति के साथ कहीं भी जाने के लिए के लिए आजाद है। ननकाना साहिब की जगजीत कौर ने पिछले साल परिवार की मर्जी के खिलाफ मुस्लिम लड़के मोहम्मद हसन से शादी की थी। इस मामले को लेकर पिछले साल से ही दोनों समुदाय में काफी तनाव है। हाईकोर्ट के फैसले के बाद यह तनाव ज्यादा बढ़ गया।

सितंबर 2019 से जगजीत लाहौर के दारुल अमन (शेल्टर हाउस) में रह रही है। उसके परिवार का आरोप है कि हसन ने लड़की को अगवा करके जबरन शादी की थी। भारत ने इस मामले पर चिंता जाहिर करते हुए पाकिस्तान से तत्काल कार्रवाई की मांग की थी।

फैसले से परिवार नाखुश

धर्म परिवर्तन के बाद जगजीत का मुस्लिम नाम आयशा रखा गया था। गुरुवार को कड़ी सुरक्षा के बीच पुलिस जगजीत को हाईकोर्ट लाई। यहां लड़की का भाई और परिवार के सदस्य मौजूद थे। उन्होंने फैसले पर नाराजगी जताई।

सिख पक्ष के वकील ने क्या कहा

सिख परिवार के वकील खलील ताहिर सिंधु ने कहा- स्कूल सर्टिफिकेट यह साबित करने के लिए काफी है कि लड़की नाबालिग है। सिंधु ने कोर्ट को यह भी बताया कि पंजाब के गवर्नर मुहम्मद सरवर ने दोनों पक्षों के बीच समझौता कर दिया है। इसलिए, लड़की को उसके परिवार को सौंप दिया जाना चाहिए। अगर लड़की को हसन के साथ जाने दिया जाता है तो इससे सिख समुदाय की भावनाएं आहत होंगी।

मुस्लिम पक्ष ने क्या कहा

मुस्लिम पक्ष के वकील सुल्तान शेख ने कोर्ट को बताया- रिकॉर्ड के मुताबिक, लड़की की उम्र 19 साल है। एक मेडिकल बोर्ड ने पहले ही लड़की को बालिग करार दिया था।

जज ने सिंधु के तर्क को खारिज किया

जज ने कहा- संविधान कौर को पूरा हक देता है कि वह खुलकर अपने फैसले ले सके। अपने पसंद के व्यक्ति के साथ रह सके। कोर्ट ने दहेज की राशि 50 हजार से बढ़ाकर 1 लाख रु. करने का निर्देश दिया। जगजीत की हिफाजत के आदेश भी दिए।

ननकाना में पुलिस अलर्ट

कोर्ट के फैसले के बाद ननकाना साहिब में सिख और मुस्लिम समुदायों के बीच तनाव बढ़ गया है। अधिकारियों ने कहा- ननकाना पुलिस को अलर्ट पर रहने को कहा गया है।

ये भी पढ़ें

जबरन धर्म परिवर्तन के लिए मजबूर की जाने वाली सिख लड़की ने घर जाने से इनकार किया: अधिकारी

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से उत्साह में वृद्धि होगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी विजय हासिल...

    और पढ़ें