• Hindi News
  • International
  • Pakistan Economic Crisis; Shehbaz Sharif Meeting As Wheat Production Reduced By 30 Lakh Tonnes

पाकिस्तान में गेहूं का संकट:इस साल प्रोडक्शन 30 लाख टन कम होने का अनुमान, मुल्क में और बढ़ सकती है महंगाई

इस्लामाबाद19 दिन पहले

आर्थिक और राजनीतिक मोर्चे पर जूझ रहे पाकिस्तान के सामने अब भुखमरी का संकट खड़ा हो गया है। दरअसल, देश में गेहूं के उत्पादन में भारी कमी होने की आशंका दर्ज की गई है। पाकिस्तान की मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक इस साल गेंहूं का प्रोडक्शन अपने लक्ष्य से करीब 30 लाख टन कम होने का अनुमान जताया गया है।

पाकिस्तान शहबाज शरीफ सरकार ने इस संकट से निपटने की तैयारी शुरू कर दी है। उन्होंने इस मुद्दे पर वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की और जरूरी प्लान तैयार करने को कहा। हालांकि, पहले से ही महंगाई से परेशान पाकिस्तान के लिए इस संकट से पार पाना आसान नहीं दिख रहा है। मुल्क पहले से ही कर्ज और आतंक के मुद्दे पर प्रमुख आर्थिक संस्थाओं के प्रतिबंधों का सामना कर रहा है। ऐसे में शरीफ सरकार के लिए महंगाई कम कर पाना मुमकिन नजर नहीं आ रहा है।

पानी, उर्वरक की कमी और हीटवेव बनी वजह
पाक की न्यूज वेबसाइट डॉन की एक रिपोर्ट के मुताबिक इसकी जानकारी खुद प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) के तरफ से दी गई है। PMO ने कहा कि इस साल 28.89 मिलियन टन के लक्ष्य के मुकाबले गेहूं का प्रोडक्शन 26.173 मिलियन टन होने का अनुमान है, जबकि एस्टिमेटेड कंजम्पशन करीब 30.79 मिलियन टन होगा।

गेंहूं के प्रोडक्शन में कमी के चलते पाकिस्तान में आटे की कीमत में भारी बढ़ोतरी हुई है।
गेंहूं के प्रोडक्शन में कमी के चलते पाकिस्तान में आटे की कीमत में भारी बढ़ोतरी हुई है।

पाक PMO के मुताबिक, गेंहूं के प्रोडक्शन में कमी का कारण क्षेत्र में पानी और उर्वरक की कमी और सर्पोटिंग रेट की घोषणा में देरी है। इसके अलावा तेल की कीमतों में बढ़ोतरी और देश में हीटवेव, प्रोडक्शन में कमी की वजह बताई जा रही है। रिपोर्ट की माने तो वहां इस साल प्रोडक्शन में 2% की कमी आई है।

PM शहबाज का अधिकारियों को निर्देश
मौजूदा आर्थिक संकट और इस स्थिति से निपटने के लिए प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने अपने अधिकारियों को एक रणनीति तैयार करने का निर्देश दिए। उन्होंने गेहूं की चोरी रोकने और भंडारण के लिए साइलो (स्टोरेज) बनाने के भी निर्देश जारी किए। एक बयान में उन्होंने पिछली इमरान सरकार को देश में आर्थिक संकट के लिए जिम्मेदार ठहराया।

पाकिस्तान के PM शहबाज शरीफ ने देश में पैदा हुए आर्थिक संकट के लिए पूर्व PM इमरान खान को जिम्मेदार ठहराया है।
पाकिस्तान के PM शहबाज शरीफ ने देश में पैदा हुए आर्थिक संकट के लिए पूर्व PM इमरान खान को जिम्मेदार ठहराया है।

उन्होंने कहा कि यह बेहद ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि भले ही पाकिस्तान कृषि प्रधान देश है, लेकिन पिछली सरकार की गलत फैसलों और लेट स्ट्रैटेजी के तहत देश में गेहूं का आयात किया गया, जिसके चलते ये संकट पैदा हुई। PM ने कहा कि वह देश को गेहूं के मामले में आत्मनिर्भर बनाएंगे।