इमरान खान को धमकी:पाकिस्तान के डिफेंस मिनिस्टर बोले- आर्मी चीफ अपॉइंट हो जाने दीजिए, फिर इमरान से निपटेंगे

इस्लामाबाद15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

पाकिस्तान में आर्मी चीफ के अपॉइंटमेंट को लेकर पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान और शाहबाज शरीफ सरकार आमने-सामने हैं। इमरान खान अपनी मर्जी का आर्मी चीफ चाहते हैं और सरकार अपनी मर्जी का। इस बीच, डिफेंस मिनिस्टर ख्वाजा आसिफ ने इमरान को इशारों-इशारों में धमकी दी है। आसिफ ने संसद में कहा- दो या तीन दिन में अगले आर्मी चीफ की अपॉइंटमेंट का लेटर जारी होगा। इसके बाद हम इमरान को देखेंगे।

इमरान खान ने इस महीने की शुरुआत में सरकार पर दबाव बनाने के लिए लॉन्ग मार्च शुरू किया था। इसमें उन पर कथित तौर पर हमला भी हुआ। अब वो रावलपिंडी में बड़ी रैली करने जा रहे हैं। यहीं पाकिस्तान आर्मी का हेडक्वॉर्टर है।

फौज और सरकार इमरान से परेशान
इमरान के लॉन्ग मार्च की वजह से सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान का दौरा रद्द हुआ। इसके अलावा पंजाब और खैबर पख्तूनख्वा में केंद्र सरकार कुछ नहीं कर पा रही है। इसकी वजह से सिर्फ सरकार ही नहीं, बल्कि फौज भी परेशान है। इमरान के बयानों से फौज में दरार पड़ने की भी खबरें हैं। माना जा रहा है कि फौज और सरकार इमरान के खिलाफ सख्त रुख अपनाने का फैसला कर चुके हैं। इसके संकेत ख्वाजा आसिफ के बयान से मिलते हैं।

आसिफ ने कहा- सबसे जरूरी काम आर्मी चीफ का अपॉइंटमेंट है। यह प्रॉसेस 2 या 3 दिन में पूरी हो जाएगी। इसके बाद इमरान से निपटा जाएगा।

इमरान के साथ जनरल बाजवा (दाएं) और पूर्व ISI चीफ जनरल फैज हमीद। खान अपने करीबी दोस्त फैज को ही आर्मी चीफ बनाना चाहते थे। इसी वजह से उनकी बाजवा से ठन गई।
इमरान के साथ जनरल बाजवा (दाएं) और पूर्व ISI चीफ जनरल फैज हमीद। खान अपने करीबी दोस्त फैज को ही आर्मी चीफ बनाना चाहते थे। इसी वजह से उनकी बाजवा से ठन गई।

हिंसा का खतरा

  • इमरान का लॉन्ग मार्च इस महीने की शुरुआत में शुरू हुआ था। इसके बाद से लगातार हिंसा हो रही है। अब तक तीन लोगों की मौत हो चुकी है। खुद इमरान पर कथित तौर पर हमला हुआ और उनकी पार्टी दावा करती है कि खान के पैर में तीन गोलियां लगी हैं।
  • सरकार को लगता है कि इमरान मुल्क में हिंसा भड़काना चाहते हैं ताकि दूसरे देश और इंटरनेशनल फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशन्स पाकिस्तान को आर्थिक मदद न दें। यही वजह है कि अब इमरान के खिलाफ सख्ती के संकेत मिलने लगे हैं।
  • पिछले दिनों खान ने कहा था कि अगला आर्मी चीफ शरीफ और जरदारी खानदान जैसे चोरों की मदद करेगा। इसके बाद माना जा रहा है कि फौज की लीडरशिप भी खान से सख्त खफा है।

आर्मी सिस्टम का सबसे जरूरी हिस्सा
आसिफ ने कहा- इसमें कोई दो राय नहीं कि फौज हमारे सिस्टम का सबसे जरूरी हिस्सा है। वर्तमान सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा 29 नवंबर को रिटायर हो जाएंगे। उम्मीद करते हैं कि 27 नवंबर तक नया आर्मी चीफ ज्वॉइन कर लेगा।

इमरान के खिलाफ फौज और सरकार सख्त कार्रवाई का मन बना चुके हैं। उनके खिलाफ कई पुराने मामले भी खोले जा सकते हैं। इसके तहत गिरफ्तारी भी हो सकती है।
इमरान के खिलाफ फौज और सरकार सख्त कार्रवाई का मन बना चुके हैं। उनके खिलाफ कई पुराने मामले भी खोले जा सकते हैं। इसके तहत गिरफ्तारी भी हो सकती है।

MBS के दौरे से क्या थी उम्मीद

  • पाकिस्तान के फॉरेन रिजर्व इस वक्त 7 से 8 अरब डॉलर के बीच हैं। इनमें में भी करीब 2.5 अरब डॉलर सऊदी की तरफ गारंटी मनी के तौर पर डिपॉजिट हैं। पाकिस्तान को सऊदी तेल भी उधार पर दे रहा है। 1.5 अरब डॉलर UAE ने दिए हैं। ये भी गारंटी मनी है। गारंटी मनी का यह मतलब है कि यह पैसा पाकिस्तान सरकार के खजाने में तो रहेगा, लेकिन वो इसे इस्तेमाल या खर्च नहीं कर सकेगा।
  • शाहबाज शरीफ सरकार में फाइनेंस मिनिस्टर इशहाक डार ने पिछले दिनों कहा था- प्रिंस सलमान पाकिस्तान को 4.1 अरब डॉलर का कर्ज देंगे। इसके अलावा पेट्रोलियम सेक्टर में भी सऊदी हमारी मदद करने जा रहा है।
  • अब सलमान का दौरा रद्द होने से पाकिस्तान की मुश्किलें बढ़ गई हैं। इंटरनेशनल मॉनेटरी फंड यानी IMF से भी पाकिस्तान को तीन महीने तक कोई किश्त नहीं मिलने वाली। शरीफ पिछले महीने चीन भी गए थे, लेकिन वहां से भी नया कर्ज नहीं मिला।