पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • International
  • Pakistan Coronavirus Vaccine | Pakistan Launched PakVac Coronavirus Vaccine Developed In The Country.

PAK की कोरोना वैक्सीन:पाकिस्तान ने PakVac नाम से कोविड-19 वैक्सीन लॉन्च की, एफिकेसी पर फिलहाल कोई जानकारी नहीं दी

इस्लामाबाद4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पाकिस्तान की कोरोनावायरस वैक्सीन। - Dainik Bhaskar
पाकिस्तान की कोरोनावायरस वैक्सीन।

पाकिस्तान ने कोरोनावायरस की घरेलू वैक्सीन बनाने का दावा किया है। इसका नाम पाकवैक (PakVac) रखा गया है। मंगलवार को एक समारोह के दौरान इसे लॉन्च भी कर दिया गया। इस वैक्सीन के बारे में जानकारी डॉक्टर फैसल सुल्तान ने दी। सुल्तान प्रधानमंत्री इमरान खान के हेल्थ एडवाइजर भी हैं। इसके पहले पाकिस्तान चीन और रूस से वैक्सीन खरीद रहा था। हालांकि, सुल्तान ने इस वैक्सीन की एफिकेसी के बारे में कोई जानकारी नहीं दी है।

सुल्तान ने कहा- हमने अपनी वैक्सीन तैयार कर ली है। कुछ ही दिनों में हम इसका बड़े पैमाने पर उत्पादन भी शुरू कर देंगे।

देश के लिए जरूरी था वैक्सीन बनाना
वैक्सीन लॉन्च के मौके पर मीडिया से बातचीत में डॉक्टर फैसल ने कहा- हमारे देश के लिए यह जरूरी था कि हम अपनी वैक्सीन खुद तैयार करें। अब यह तैयार हो गई है तो हम जल्द ही इसका लार्ज स्केल प्रोडक्शन शुरू करेंगे। मुझे यह बताने में कोई गुरेज नहीं कि इस वैक्सीन को तैयार करने में हमारी टीम को कई तरह की मुश्किलों का सामना करना पड़ा। इस दौरान चीन हमारे दोस्त के रूप में मजबूती से हमारे साथ खड़ा रहा। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ की टीम ने भी बेहतरीन काम किया।

काम बहुत मुश्किल था
सुल्तान ने आगे कहा- कच्चे माल से वैक्सीन तैयार करना अपने आप में बहुत बड़ा चैलेंज था। आज हमें इस बात का फख्र है कि हमारी टीम ने तमाम दिक्कतों के बावजूद यह वैक्सीन तैयार करने में कामयाबी हासिल की है। आज का दिन देश के लिए बहुत अहम है।

इसी मौके पर मौजूद नेशनल कमांड एंड ऑपरेशन सेंटर के चीफ असद उमर ने कहा- इस लहर में संक्रमितों की संख्या पिछली दो लहरों के मुकाबले काफी ज्यादा है। इस वक्त करीब 60 फीसदी मरीज ऑक्सीजन सपोर्ट पर हैं।

इस मौके पर पाकिस्तान में चीन के राजदूत नोंग रोंग भी मौजूद थे। उन्होंने कहा- इस वैक्सीन के प्रोडक्शन से पता लगता है कि पाकिस्तान से हमारी दोस्ती कितनी मजबूत है। पाकिस्तान ही वो पहला मुल्क था जिसने चीन की वैक्सीन का गिफ्ट कबूल किया था। इस वैक्सीन पर अप्रैल में काम शुरू हुआ था और इसे साइनोवैक चाइना ने सपोर्ट किया है।