पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • International
  • Pakistan Imran Khan | Pakistan Prime Minister Imran Khan Office On India And Foreign Policy.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अवाम से झूठ बोलते इमरान:पाकिस्तान सरकार ने कहा- हमारी फॉरेन पॉलिसी कामयाब, भारत हमें अलग-थलग नहीं कर पाया; अमेरिका और यूएई से रिश्ते सुधरे

इस्लामाबाद4 महीने पहले
यह फोटो पिछले साल सितंबर का है। तब इमरान यूएन जनरल असेंबली में भाषण देने पहुंचे थे। 12 मिनट तय थे। वे 50 मिनट बोलते रहे और अलार्म बजता रहा। बाद में इमरान का काफी मजाक उड़ा था।
  • प्रधानमंत्री इमरान खान के ऑफिस के मुताबिक, दो साल में मुल्क की फॉरेन पॉलिसी काफी कामयाब रही
  • पीएमओ ने कहा कि भारत ने हमेशा पाकिस्तान को दुनिया में आइसोलेट करने की कोशिश की

दुनिया में अलग-थलग पड़ चुका पाकिस्तान इस सच्चाई को मानने भी तैयार नहीं है। प्रधानमंत्री इमरान खान के ऑफिस ने जानकारी दी है कि दो साल में मुल्क की फॉरेन पॉलिसी काफी कामयाब रही है। पीएमओ ने कहा है कि भारत ने हमेशा पाकिस्तान को आइसोलेट करने की कोशिश की, लेकिन वो इसमें कामयाब नहीं रहा। पीएमओ ने कहा है कि प्रधानमंत्री इमरान ने अमेरिका और यूएई से रिश्ते मजबूत किए हैं। 

इमरान पॉपुलर नेता
पीएमओ के मुताबकि, इमरान खान ने विदेश नीति पर काफी अच्छा काम किया और इसी वजह से वे इस वक्त दुनिया में पॉपुलर नेता हैं। एक बयान में पीएमओ ने कहा- भारत ने कई मोर्चों पर पाकिस्तान को दुनिया में अलग-थलग करने की कोशिश की। लेकिन, मोदी सरकार इसमें कामयाब नहीं हो सकी। इमरान ने दुनिया के कई नेताओं से बहुत अच्छे रिश्ते कायम किए। यही वजह है कि मुल्क आज मजबूत स्थिती में है। 

अमेरिका और यूएई से रिश्ते
बयान के मुताबिक, इमरान सरकार के दौर में अमेरिका और यूएई से पाकिस्तान के रिश्ते मजबूत हुए और यह अब आदर्श हैं। मजे की बात यह है कि यूएई ने पिछले दिनों 700 से ज्यादा पाकिस्तानी नागरिकों को वापस भेज दिया। इसके साथ ही वहां के प्रशासन ने साफ कर दिया था कि अगर पाकिस्तानी नागरिक फर्जी दस्तावेजों का इस्तेमाल करेंगे तो उन्हें यूएई में सजा भी दी जा सकती है। वहीं, आतंकवाद के मुद्दे पर अमेरिका पाकिस्तान को लगातार फटकार लगाता रहा है। 

अब सिर्फ तुर्की साथ
इमरान ने कुछ महीने पहले यूएन में कश्मीर का मुद्दा उठाने के कोशिश की थी। इस दौरान सिर्फ मलेशिया के तब के प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद और तुर्की रिसेप तैयप एर्डोगन ने उनका साथ दिया था। देश लौटने के कुछ दिन बाद महातिर की कुर्सी ही चली गई। अब नए प्रधानमंत्री मोइनुद्दीन ने भारत से रिश्ते सुधारने पर फोकस किया है। मलेशिया सरकार साफ कर चुकी है कि वो पिछली सरकार के नक्शेकदम पर नहीं चल सकती।

इमरान खान से जुड़ी ये खबरें भी आप पढ़ सकते हैं...

1. अलार्म बजता रहा और इमरान 50 मिनट तक बोलते रहे, 4 गलतियां कीं; मोदी सिर्फ 15 मिनट बोले

2. इमरान ने एक साल में 8 बार खुद और देश का मजाक उड़वाया, यूएन में मोदी को बताया था राष्ट्रपति

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- कुछ महत्वपूर्ण नए संपर्क स्थापित होंगे जो कि बहुत ही लाभदायक रहेंगे। अपने भविष्य संबंधी योजनाओं को मूर्तरूप देने का उचित समय है। कोई शुभ कार्य भी संपन्न होगा। इस समय आपको अपनी काबिलियत प्रदर्...

और पढ़ें