पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

इमरान के मंत्री ने कहा- 400 विभाग बंद करेंगे; सरकारी नौकरी की आशा न करें युवा

10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इमरान खान सरकार में साइंस एंड टेक्नोलॉजी मिनिस्टर फवाद चौधरी ने कहा है कि युवाओं को सरकारी नौकरी की उम्मीद नहीं करनी चाहिए। (फाइल)
  • यह बयान पाकिस्तान के साइंस एंड टेक्नोलॉजी मिनिस्टर फवाद चौधरी ने इंजीनियरिंग स्टूडेंट्स के सामने दिया
  • चौधरी के मुताबिक- पाकिस्तान ही नहीं दुनिया के हर हिस्से में सरकारों का दायरा कम हो रहा है

इस्लामाबाद. आर्थिक बदहाली से जूझ रहे पाकिस्तान के मंत्री भी अब सच्चाई स्वीकार करने लगे हैं। इमरान खान सरकार में साइंस एंड टेक्नोलॉजी मिनिस्टर फवाद चौधरी ने कहा है कि युवाओं को सरकारी नौकरी की उम्मीद नहीं करनी चाहिए। चौधरी के मुताबिक- पाकिस्तान के 400 सरकारी विभाग बंद किए जा रहे हैं। इससे नौकरियां की संभावना और भी कम हो जाएगी। खास बात ये है कि मंत्री ने यह बयान इंजीनियरिंग स्टूडेंट्स के एक कार्यक्रम में दिया। 
 

1 करोड़ नौकरियों का वादा
अकसर विवादित बयान देने वाले चौधरी का यह बयान सरकार के लिए मुसीबत बन सकता है। पाकिस्तानी मीडिया के हर हिस्से में यह बयान प्रमुखता से दिखाया जा रहा है। इसके मायने भी अहम हैं। इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) ने चुनाव घोषणा पत्र में हर साल 1 करोड़ नौकरियों का वादा किया था। चौधरी इससे उलट 400 सरकारी महकमों को बंद करने की बात कह रहे हैं। विपक्षी नेता उज्मा जुबेर ने कहा- खान साहब से घर के मसले तो संभल नहीं रहे, दूसरे मुल्कों के मामले सुलझाने चले हैं। उन्हें फवाद के बयान पर सफाई देनी होगी। हम सड़कों पर आंदोलन के लिए तैयार हैं।

चौधरी का अजब ज्ञान
चौधरी ने जिस कार्यक्रम में यह बयान दिया, उसमें पाकिस्तान के तमाम मशहूर इंजीनियरिंग कॉलेजों के डीन भी मौजूद थे। चौधरी ने सरकारी विभागों को बंद करने के पीछे अजीब तर्क दिया। कहा, “दुनिया के किसी भी हिस्से में चले जाइए। सरकारों का दायरा सिकुड़ता जा रहा है। पाकिस्तान भी यही करने जा रहा है। इसलिए हम 400 विभागों को बंद करने जा रहे हैं। अगर हम ये विभाग बंद नहीं करेंगे और सरकारी नौकरियां देते रहेंगे तो इससे हमारी इकोनॉमी और खस्ताहाल हो जाएगी।”
 

70 के दशक की मानसिकता बदलें
चौधरी ने कहा- 1970 के दशक में सरकारें अपने विभागों में युवाओं को नौकरियां देतीं थीं। अब वक्त बहुत बदल गया है। खास बात ये भी है कि इस बयान पर जैसे ही बबाल मचा, फवाद ने एक ट्वीट किया। इसमें कहा- मेरी बात का गलत मतलब निकाला जा रहा है। मैं ये कहना चाहता था कि निजी क्षेत्र को सरकार सुविधाएं और बेहतर वातावरण मुहैया कराएगी। इससे वो ज्यादा नौकरियां दे सकेंगे। सरकारी नौकरी हासिल करना एकमात्र लक्ष्य नहीं होना चाहिए। 

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- परिवार में प्रॉपर्टी या किसी अन्य मुद्दे को लेकर जो गलतफहमियां चल रही थी आज वह किसी की मध्यस्थता से दूर होंगी। जिसकी वजह से परिवार का माहौल शांतिपूर्ण हो जाएगा। घर में नवीनीकरण या परिवर्तन सं...

और पढ़ें