आमिर लियाकत के पोस्टमार्टम का आदेश:पाक कोर्ट का फैसला- शव को कब्र से निकालकर पोस्टमार्टम किया जाए, विरोध में उतरे सेलिब्रिटीज

कराची2 महीने पहले

पाकिस्तानी टीवी होस्ट और सांसद रहे आमिर लियाकत की जिंदगी की तरह मौत भी विवादों में उलझ गई है। उनकी मौत को लेकर कई तरह के कयास लगाए रहे हैं, जिनमें हत्या की साजिश का एंगल भी शामिल है। इसी के मद्देनजर पाकिस्तान की एक कोर्ट ने लियाकत के शब को क्रब से निकालकर पोस्टमार्टम करने का आदेश दिया है।

दरअसल, अब्दुल अहद नाम के एक व्यक्ति ने इसे लेकर याचिका दायर की थी। याचिका में कहा गया था कि आमिर लियाकत एक फेमस टीवी होस्ट और राजनेता थे। उनकी अचानक मौत ने उनके फैंस में शक पैदा कर दिया है। हो सकता है कि जायदाद को लेकर उनकी हत्या की गई है। आमिर लियाकत के पोस्टमॉर्टम के लिए एक विशेष बोर्ड बनाया जाना चाहिए।

परिवार वाले नहीं चाहते पोस्टमॉर्टम
दूसरी तरफ कई पाकिस्तानी सेलिब्रिटीज इस फैसले का विरोध कर रहे हैं। वहीं, पब्लिक प्रॉसिक्यूटर का कहना था कि लियाकत के परिवार वाले उनका शव का पोस्टमार्टम नहीं चाहते हैं। उन्हें किसी भी गड़बड़ी का संदेह नहीं है। हालांकि, कराची सिटी कोर्ट में न्यायिक मजिस्ट्रेट वजीर हुसैन मेमन ने पोस्टमॉर्टम करने के हक में फैसला सुनाया।

दानिया शाह के खिलाफ याचिका
इस बीच, आमिर लियाकत की तीसरी पत्नी दानिया शाह की परेशानियां बढ़ गई हैं। एक NGO ने दानिया के खिलाफ याचिका दायर कर कार्रवाई की मांग की है।

आमिर ने अपने तीसरे निकाह की फोटो खुद सोशल मीडिया पर शेयर की थी। आमिर और दानिया के रिश्ते हालिया वक्त में काफी खराब हो गए थे।
आमिर ने अपने तीसरे निकाह की फोटो खुद सोशल मीडिया पर शेयर की थी। आमिर और दानिया के रिश्ते हालिया वक्त में काफी खराब हो गए थे।

आमिर लियाकत डिप्रेशन से भी जूझ रहे थे
आमिर लियाकत की 11 दिन पहले कराची में मौत हो गई थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, लियाकत को सुबह सुबह बेचैनी महसूस हुई। दर्द से चिल्लाने की आवाज सुनकर नौकर कमरे में गया, लेकिन दरवाजा बंद था। कोई जवाब न मिलने पर नौकर को दरवाजा तोड़ना पड़ा। अब कार्डियक अरेस्ट को आमिर की मौत की वजह माना जा रहा है। पिछले कुछ दिनों से वह डिप्रेशन से भी जूझ रहे थे।

रमजान के महीनों में आमिर लियाकत की पाकिस्तानी टीवी चैनल्स पर काफी डिमांड रहती थी। जियो टीवी के एक कार्यक्रम में आमिर ने अहमदिया के लोगों की हत्या को 'धर्म का काम' करार दिया था।
रमजान के महीनों में आमिर लियाकत की पाकिस्तानी टीवी चैनल्स पर काफी डिमांड रहती थी। जियो टीवी के एक कार्यक्रम में आमिर ने अहमदिया के लोगों की हत्या को 'धर्म का काम' करार दिया था।

विवादों से रहा गहरा नाता
आमिर लियाकत हुसैन का पूरा जीवन विवादों से भरा रहा है। उन पर ड्रग्स लेने से लेकर पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों के खिलाफ नफरत फैलाने तक के आरोप लगे। उनका न्यूड वीडियो भी वायरल हुआ। कुछ दिन पहले ही 50 साल के आमिर की तीसरी पत्नी 18 साल की दानिया शाह ने तलाक की अर्जी दाखिल की थी। दानिया ने एक इंटरव्यू में कहा था- आमिर से शादी का मेरा फैसला बेहद गलत था। वो ड्रग एडिक्ट और शराबी हैं।