चीन सरकार के विरोध में बप्पी का गाना:लॉकडाउन-भूख से परेशान लोगों ने गाया- जि मी- जि मी, यानी चावल दो

बीजिंग3 महीने पहले

चीन में इन दिनों कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए फिर से लॉकडाउन लगा दिया गया है। लोग खाने को मोहताज हो गए हैं। अब इसे लेकर लोग अलग ही अंदाज में सरकार का विरोध कर रहे हैं। यहां पर मशहूर भारतीय सिंगर बप्पी लाहिड़ी का 1982 का ‘जिमी-जिमी आजा आजा’ सॉन्ग काफी चल रहा है।

हालांकि इसमें खास बात ये है कि इस सॉन्ग को हिंदी में नहीं बल्कि मंडारिन भाषा में ट्रांसलेट किया गया है, जो चीन में ‘जि मी, जि मी’ (Jie mi, Jie mi) लिरिक्स से वायरल हो रहा है। इसका मतलब है- मुझे चावल दो, मुझे चावल दो।

वीडियो में दिखाए खाली बर्तन
वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। लोग खाली बर्तन दिखाकर इस सॉन्ग पर वीडियो और रील बना रहे हैं। वह खाली बर्तनों से यह दिखाना चाहते हैं कि लॉकडाउन की वजह से लोगों के पास खाने को नहीं बचा है। लोग इसके जरिए सरकार के खिलाफ अपनी नाराजगी भी जता रहे हैं।

राष्ट्रपति ने दिए हैं सख्त लॉकडाउन के आदेश
पिछले महीने राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने चीन में कोरोना के हालात को देखते हुए लॉकडाउन लगाने के आदेश दिए थे। इसके बाद वहां लॉकडाउन लगा दिया । जिनपिंग ने कहा था कि लॉकडाउन के दौरान किसी भी तरह की ढील नहीं दी जाएगी। वायरस को रोकना है, तो पालन करना होगा। अगर कोई भी कोरोना संक्रमित पाया जाता है तो उसे क्वारैंटाइन कर दिया जाएगा।

चीन में कोरोना से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ें...

चीन की iPhone फैक्ट्री में लॉकडाउन, सैकड़ों वर्कर्स कारखाने में बंद, अब बाउंड्री कूदकर घर भाग रहे

चीन के झेंग्झो में भी लॉकडाउन लगा दिया गया है। झेंग्झो में सबसे बड़ी आईफोन फैक्ट्री है। कोरोना और लॉकडाउन की वजह से यहां के कर्मचारी बाउंड्री से कूदकर अपने घर भागने को मजबूर हो गए हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक, झेंग्झौ फॉक्सकॉन में करीब 3 लाख कर्मचारी काम करते हैं। दुनिया में सबसे ज्यादा आईफोन की मैन्युफैक्चरिंग यहीं होती है। कोविड की वजह से यहां लॉकडाउन लगा दिया गया है। इससे खाने की कमी हो रही है। लोगों को फाइनेंशियल दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। यहां तक कि रात हो या दिन लोगों को पैदल ही अपने घर भागना पड़ रहा है, क्योंकि जाने के लिए वाहन भी नहीं हैं।

ट्रांसपोर्ट से लेकर फैक्ट्रियां सब बंद
झेंग्झौ के फॉक्सकॉन में लॉकडाउन के चलते कर्मचारियों ने भागने के लिए एप्पल की सबसे बड़ी असेंबली साइट को भी तोड़ दिया। इतना ही नहीं कर्मचारी कोरोना बचाव ऐप से बचने के लिए 100 KM से भी दूर अपने घरों की और पैदल ही भाग रहे हैं। हालांकि, झेंग्झो में कितने लोग संक्रमित हैं, इसकी जानकारी ऑफिशियल नहीं दी गई है। यहां पर ट्रांसपोर्ट से लेकर फैक्ट्रियां सब बंद कर दी गई हैं। पढ़ें पूरी खबर...

चीन में कोरोना पॉजिटिव मरीज को लेने पहुंची क्रेन, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे थे अधिकारी

चीन में कोरोना ने एक बार फिर रफ्तार पकड़ ली है। कई शहरों में दोबारा लॉकडाउन लगाया गया है। लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की अपील की जा रही है। इस बीच एक वीडियो सामने आया था, जिसमें कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति को क्रेन से उठाया जा रहा है। पढ़ें पूरी खबर...