सऊदी अरब में बदल रहा समाज:महिलाओं के बीच पोल डांस क्रेज, सोशल मीडिया पर फोटो-वीडियो डाल मांग रहीं प्रतिक्रिया

रियाद3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कभी महिलाओं को बंदिशों में रखने वाले सऊदी अरब में आधुनिकता को अपनाने का दौर जारी रहा है। वहां महिलाओं को खेलों में प्रोत्साहन मिल रहा है। हिजाब की बंदिशों को तोड़ चुकीं कामकाजी महिलाएं छोटे बाल (ब्वाय कट) के ट्रेंड में ढल चुकी हैं। बदलाव की इस कड़ी में वहां नया ट्रेंड सामने आया है। योग के बाद अब पोल डांस का क्रेज तेजी से बढ़ रहा हैं।

युवा महिलाएं न केवल पोल डांस सीखना चाहती हैं, बल्कि इस बारे में सोशल मीडिया पर फोटो और वीडियो डालकर लोगों की प्रतिक्रिया भी लेना चाहती हैं। महिलाओं को उम्मीद है कि लोग पोल डांस को पसंद करेंगे और सकारात्मक रुख जताएंगे।

विरोध के बाद भी पीछे नहीं हट रहीं महिलाएं
हाल ही में सऊदी की एक योग प्रशिक्षक नाडा ने पोल डांस सीखना शुरू किया, तो उन्हें देश के अत्यंत रूढ़िवादी समाज की कड़ी आलोचना सहनी पड़ी। इससे भी उबरने की कोशिश कर रही हैं। राजधानी रियाद में नाडा के परिवारजन और दोस्तों ने उन्हें पोल डांस के बारे में नकारात्मक बातें बताई गई।

आमतौर पर पोल डांस को हॉलीवुड फिल्मों में स्ट्रिप क्लबों से जोड़ कर दिखाया गया है। विरोध के बावजूद 28 वर्षीय नाडा पीछे नहीं हटीं। वह जिम में कई युवा लड़कियों को पोल डांस सिखा रही हैं। एक अन्य जिम मालिक अल-योसेफ कहती हैं, उन्हें पोल डांसिंग नया लगता है। पोल डांस के समर्थक कहते हैं कि सऊदी अरब में शराब पर बैन है और कोई स्ट्रिप क्लब भी नहीं हैं, इसलिए पोल डांस की नकारात्मक छवि विदेश से आई है।

पोल डांस में शर्म कैसी, इससे किसी को चोट भी नहीं आती
पोल डांस की एक छात्रा ने कहा कि उन्हें कोशिश करने में जरा भी शर्म नहीं आती है। शर्म तब है जब तक मैं दूसरों को चोट पहुंचाती हूं। जिम मालिक योसेफ कहती हैं कि वे इंस्टाग्राम पर जो तस्वीरें और वीडियो डालती हैं, उनमें पोल डांस की मांग तेजी से बढ़ रही है।

खबरें और भी हैं...