इजराइल के खिलाफ प्रदर्शन:ब्रिटेन से लेकर बांग्लादेश तक लोग सड़कों पर उतरे, जो बाइडेन ने फिलिस्तीन और इजराइल के PM से बात की

लंदन2 वर्ष पहले

इजराइल और हमास (इजराइल इसे आतंकी संगठन मानता है) के बीच पिछले 6 दिनों से जंग जारी है। इस लड़ाई में अब तक 126 लोग मारे जा चुके हैं। इनमें 31 बच्चे भी शामिल हैं। हमलों में 950 से ज्यादा लोग घायल हो गए हैं। मरने वालों में 9 इजराइली और बाकी फिलिस्तीनी हैं। हिंसा की दर्द भरी तस्वीरें सामने आने के बाद दुनियाभर में इजराइल के खिलाफ विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए हैं। अमेरिका, लंदन, फ्रांस के अलावा सीरिया और बांग्लादेश में भी लोग सड़कों पर फिलिस्तीन के समर्थन में प्रदर्शन कर रहे हैं।

लंदन में इजराइल के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान फिलिस्तीन की आजादी के समर्थन में नारे लगाए गए।
लंदन में इजराइल के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान फिलिस्तीन की आजादी के समर्थन में नारे लगाए गए।

इस बीच, अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने शनिवार को फिलिस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास से बात की। रशिया टुडे के मुताबिक, फिलिस्तीनी राष्ट्रपति के प्रवक्ता ने इसकी जानकारी दी। जनवरी में राष्ट्रपति का पद संभालने के बाद बाइडेन और अब्बास के बीच यह पहली बातचीत है। दोनों में क्या बात हुई, ये अभी सामने नहीं आया है। अमेरिका फिलिस्तीन और इजराइल के बीच सुलह के लिए काम कर रहा है। बाइडेन ने इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू से भी बात की है।

अमेरिका में भी प्रदर्शन
शनिवार को सेंट्रल लंदन की सड़कों पर हजारों लोगों ने प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने यूनाइटेड किंगडम (UK) से मामले में तुरंत हस्तक्षेप करने की मांग की। प्रदर्शनकारियों ने इजराइली एंबेसी के सामने फ्री फिलिस्तीन के नारे लगाए। ब्रिटेन में फिलिस्तीन की दूत हुसम जुमलोत ने कहा, 'जिन लोगों ने भी फिलिस्तीन के समर्थन में प्रदर्शन किया है, वे सभी मानवता के सच्चे हितैषी हैं। इसके अलावा अमेरिका की राजधानी वॉशिंगटन डीसी पर भी लोगों ने प्रदर्शन किया।

फ्रांस: विदेश मंत्रालय के पास जमा हुए प्रदर्शनकारी
फ्रांस की राजधानी पैरिस में शुक्रवार को सैंकड़ों प्रदर्शनकारी विदेश मंत्रालय के पास चौराहे पर इकट्ठा हुए। फिलिस्तीन समर्थक प्रदर्शनकारियों ने वहां इजराइल विरोधी नारे लगाए। उनके हाथ में फिलिस्तीन का झंडा भी था। फ्रांस की पुलिस ने उन प्रदर्शनकारियों को तत्काल वहां से चले जाने के लिए कहा और कुछ लोगों पर फाइन भी लगाया। ​​​​​​

पैरिस में प्रदर्शनकारियों पर फाइन लगाती फ्रांस की पुलिस।
पैरिस में प्रदर्शनकारियों पर फाइन लगाती फ्रांस की पुलिस।

जॉर्डन: इजराइल के खिलाफ एक्शन की मांग की
शुक्रवार को जॉर्डन-इजराइल बॉर्डर पर भी जॉर्डन के सैंकड़ों लोगों ने फिलिस्तीन के समर्थन में प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने अपनी सरकार से इजराइल के खिलाफ कड़े कदम उठाने की मांग की। प्रदर्शन के पहले सोशल मीडिया में मुहिम चलाई गई और लोगों से बॉर्डर से सटे करामेही गांव में इकट्ठा होने के लिए कहा गया। प्रदर्शनकारियों के हाथ में जॉर्डन और फिलिस्तीन दोनों का ही झंडा था।

प्रदर्शनकारियों के हाथ में जॉर्डन और फिलिस्तीन दोनों के झंडे थे।
प्रदर्शनकारियों के हाथ में जॉर्डन और फिलिस्तीन दोनों के झंडे थे।

बांग्लादेश: बढ़ते कोरोना केस के बाद भी ढाका में प्रदर्शन
कोरोना वायरस के मामले दिन-ब-दिन बढ़ने के बाद भी बांग्लादेश की राजधानी ढाका में इजराइल के विरोध में शुक्रवार को प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शन के लिए इकट्ठा लोगों ने ईद के समय फिलिस्तीन पर एयरस्ट्राइक करने का विरोध किया। नमाज के बाद मस्जिद के बाहर जुटे सैकड़ों लोगों ने बायकॉट इजराइल लिखे पोस्टर और बैनर लहराए। वहां मौजूद लोगों ने कहा कि फिलिस्तीन के लोगों को इजराइल से आजादी मिलनी चाहिए।

बांग्लादेश की राजधानी ढाका में नमाज के बाद इकट्ठा हुए प्रदर्शनकारी।
बांग्लादेश की राजधानी ढाका में नमाज के बाद इकट्ठा हुए प्रदर्शनकारी।

लेबनान: जनाजे में शामिल हुए सैकड़ों लोग
इजराइल की कार्रवाई का लेबनान में भी विरोध हो रहा है। शुक्रवार को लेबनान-इजराइल बॉर्डर पर कई लोग प्रदर्शन कर रहे थे। इस दौरान पत्थरबाजी की घटना भी हुई। कुछ लेबनानी इस दौरान बॉर्डर क्रॉस करने की कोशिश करने लगे। इजराइली सैनिकों ने उन लोगों पर फायरिंग कर दीं, जिसमें हिजबुल्ला का 21 वर्षीय लड़ाका मोहम्मद ताहान मारा गया। शनिवार को उसका जनाजा निकाला गया, जिसमें सैकड़ों लोग शामिल हुए और इजराइल के खिलाफ नारेबाजी की।

खबरें और भी हैं...