पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

क्रूरता से बर्बरता की तरफ बढ़ रही म्यांमार की सेना:रिपोर्ट के अनुसार फेसबुक सैन्य दुष्प्रचार और प्रदर्शनकारियों को उकसाने वाले कंटेंट को बढ़ावा दे रहा है

3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
म्यांमार में फेसबुक पर हिंसा भड़काने का आरोप लगा है। (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
म्यांमार में फेसबुक पर हिंसा भड़काने का आरोप लगा है। (फाइल फोटो)
  • तख्तापलट के बाद कंपनी ने अपनी नीतियों का उल्लंघन किया

पूरी दुनिया महामारी से त्रस्त है। मौतों की संख्या बढ़ रही है। वहीं साढ़े 5 करोड़ की आबादी वाले देश म्यांमार में सेना क्रूरता से बर्बरता की तरफ बढ़ रही है। आए दिन निर्दोष लोग मारे जा रहे हैं। इस बीच सेना की इस कार्रवाई में फेसबुक की भी भूमिका सामने आई है। दरअसल, ह्यूमन राइट्स ग्रुप ग्लोबल विटनेस ने एक रिपोर्ट जारी की है। इसमें बताया है कि फेसबुक सैन्य दुष्प्रचार और सैन्य तख्तापलट का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों को उकसाने वाली सामग्री को बढ़ावा देता है।

इसे लेकर रिपोर्ट में कहा गया है कि फरवरी में हुए सैन्य तख्तापलट के बाद फेसबुक ने खुद की ही नीतियों का उल्लंघन किया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि म्यांमार में सेना के सत्ता पर कब्जा जमाने और निर्वाचित नेताओं को कैद करने के एक महीने बाद भी फेसबुक एल्गोरिद्म यूजर्स को सैन्य समर्थक पेजों के साथ ही उन पोस्ट्स को देखने और लाइक करने के लिए बढ़ावा दे रहा था, जो हिंसा को भड़काते हैं। भ्रामक सूचना फैलाते हैं।

सेना की प्रशंसा करते हैं और उसके अत्याचारों का महिमामंडन करते हैं। फेसबुक एल्गोरिद्म पोस्ट के क्रम और प्रस्तुति को नियंत्रित करता है, ताकि यूजर्स यह देख सकें कि उनके लिए सबसे ज्यादा प्रासंगिक क्या है। फेसबुक ने तख्तापलट के बाद घोषणा की थी कि वह अपनी साइट और अपने मालिकाना हक वाले इंस्टाग्राम से म्यांमार सेना द्वारा नियंत्रित पेजों को हटाएगी। इसके बावजूद ऐसा नहीं किया गया। बता दें, सेना ने गत एक फरवरी को तख्तापलट किया था।

सेना के विरोध में उतरे हथियारबंद छोटे-छोटे समूह
सैन्य प्रशासन ने देश के सबसे बड़े शहर मांडले में बख्तरबंद गाड़ियों को उतार दिया है। जिनसे दो-दो हाथ करने के लिए प्रदर्शनकारियों ने भी हथियारबंद समूहों की सूरत ले ली है। इसे न्यू पीपु‍ल्स डिफेंस फोर्स कहा जा रहा है। हालांकि, इनकी संख्या छोटे शहरों और कस्बों तक सीमित है। इसके कैप्टन तुकतुक नेंग ने कहा कि अब जंग शुरू हो चुकी है। आने वाले दिनों में भी इस तरह की और लड़ाइयां होंगी और ये लंबी चलेंगी।

खबरें और भी हैं...