पेरिस की सड़कों पर 5600 टन कचरा जमा:सफाई कर्मचारी रिटायरमेंट एज बढ़ाने के खिलाफ हड़ताल पर, एक हफ्ते से कूड़ा नहीं उठाया

पेरिस9 दिन पहले
इस वीडियो में पेरिस की सड़कों पर जमा कचरे के बैग दिख रहे हैं।

फ्रांस में सफाईकर्मी हड़ताल पर हैं। इसकी वजह से पेरिस समेत कई शहरों में जगह-जगह कचरे का अंबार दिखाई दे रहा है। 'फ्रांस 24' की रिपोर्ट के मुताबिक, राजधानी पेरिस की सड़कों पर एक हफ्ते में करीब 5,600 टन कचरा जमा हो गया है।

दरअसल, फ्रांस में नई पेंशन योजना के तहत रिटायरमेंट की उम्र बढ़ाई जा रही है। लोग पिछले 2 महीने से इसके खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। प्रदर्शनों में सफाई कर्मी भी शामिल हैं।

रिटायरमेंट की उम्र को 62 से बढ़ा कर 64 करने वाला एक बिल 11 मार्च को सीनेट (फ्रांस की संसद का अपर हाउस) में पास हो गया था। अब 16 मार्च को एक जॉइंट कमेटी इसे रिव्यू करेगी। अगर कमेटी इस बिल को अप्रूव कर देती है तो संसद को दोनों सदनों में फाइनल वोटिंग होगी। इसी के आधार पर तय होगा की नई पेंशन योजना को लागू करना है या नहीं।

तस्वीरों में देखें पेरिस की सड़कों पर जमा कचरा...

रिटायरमेंट एज बढ़ने से जल्द मरने की आशंका
एक सफाईकर्मी ने कहा- कचरा उठाने वालों की रिटायरमेंट एज 57 साल है। वहीं, सीवर साफ करने वालों की रिटायरमेंट एज 52 साल है। अगर नई पेंशन योजना लागू हो गई, तो इन्हें दो साल और काम करना होगा। इसका असर उनकी लाइफ पर पड़ेगा। क्योंकि वो दिन के चार से पांच घंटे सीवर के अंदर रहते हैं। सफाई के दौरान कई तरह की गैस निकलती हैं। सफाईकर्मी सीधे तौर पर इन गैसों के संपर्क में रहते हैं, जिससे उनके बीमार होने के चांस बढ़ जाते हैं।

उन्होंने कहा- कई कर्मचारी 40 की उम्र पार करने के ही कमजोर होने लगते हैं। कुछ की तो मौत भी हो जाती है। कुछ हेल्थ रिसर्च में कहा गया है कि बाकी आबादी की तुलना में सीवेज कर्मचारियों के 65 साल की उम्र से पहले मरने की संभावना दोगुनी होती है।

फ्रांस की इंटीरियर मिनिस्ट्री के मुताबिक, फ्रांस के 200 शहरों में 11 लाख 20 हजार लोग सड़कों पर प्रदर्शन कर रहे हैं। 80 हजार लोग तो सिर्फ पेरिस में ही प्रदर्शन कर रहे हैं।
फ्रांस की इंटीरियर मिनिस्ट्री के मुताबिक, फ्रांस के 200 शहरों में 11 लाख 20 हजार लोग सड़कों पर प्रदर्शन कर रहे हैं। 80 हजार लोग तो सिर्फ पेरिस में ही प्रदर्शन कर रहे हैं।

अब 43 साल काम करना जरूरी
नई पेंशन योजना के तहत पूरी पेंशन के लिए जरूरी न्यूनतम सेवा काल की अवधि भी बढ़ा जाएगी। प्रधानमंत्री एलिजाबेथ बोर्न ने बताया कि नई पेंशन योजना के प्रस्तावों के तहत 2027 से लोगों को पूरी पेंशन लेने के लिए कुल 43 साल काम करना होगा। अभी तक ये न्यूनतम सेवा काल 42 साल था।

सरकार इसे फ्रांस की शेयर-आउट पेंशन सिस्टम की सुरक्षा के लिए एक महत्वपूर्ण उपाय के रूप में बता रही है। सरकार का कहना है कि काम करने वालों और सेवानिवृत्त लोगों के बीच का अनुपात तेजी से कम हो रहा है। जिसे देखते हुए रिटायरमेंट की उम्र बढ़ाने पर विचार किया जा रहा है। ज्यादातर यूरोपियन कंट्रीज ने रिटायरमेंट एज बढ़ाई है। इटली और जर्मनी में रिटायरमेंट की उम्र 67 साल है। स्पेन में ये 65 साल है। ब्रिटेन में रिटायरमेंट की उम्र 66 साल है।

विरोध में 68% लोग
फ्रांस की शेयर-आउट पेंशन प्रणाली की सुरक्षा के लिए एक महत्वपूर्ण उपाय के रूप में बताई जा रही इस योजना को लोगों ने नकार दिया है। IFOP पोल के मुताबिक, 68% लोग इस योजना का विरोध कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...