• Hindi News
  • International
  • Russia Ukraine War Situation LIVE Update; Vladimir Putin Volodymyr Zelensky | US President Joe Biden

रूस-यूक्रेन जंग अपडेट्स:बाइडेन ने यूक्रेन के लिए US कांग्रेस से मांगे 33 अरब डॉलर; जंग में शामिल US के पूर्व सैनिक की मौत

कीव/मॉस्को5 महीने पहले
यूक्रेन की राजधानी कीव पर रूसी हमले के बाद तबाही का मंजर। - Dainik Bhaskar
यूक्रेन की राजधानी कीव पर रूसी हमले के बाद तबाही का मंजर।

रूस-यूक्रेन युद्ध को आज 65 दिन हो चुके हैं। रूसी हमले की वजह से यूक्रेन का इन्फ्रास्ट्रक्चर बुरी तरह से तबाह हो चुका है। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने यूक्रेन की मदद के लिए अमेरिकी कांग्रेस के सामने 33 अरब डॉलर का प्रस्ताव रखा है। इस रकम में से 20 अरब डॉलर सैन्य सहायता के लिए और 8.5 अरब डॉलर यूक्रेनी सरकार के लिए और बाकी के 3 अरब डॉलर लोगों की मदद के लिए दी जा सकती है।

दूसरी तरफ यूएन महासचिव एंटोनियो गुटेरेस बीते दिन यूक्रेन की राजधानी कीव पहुंचे। यहां उन्होंने शहर के अलग अलग हिस्सों का दौरा किया और युद्ध अपराधों के लिए जिम्मेदारी तय करने की मांग की। यूएन चीफ के कीव दौरा के दौरान ही शहर पर रूसी हमले शुरू हो गए। शहर के मिलिट्री एडमिनिस्ट्रेशन ने बताया कि बीते दिन रूसी सेना ने शहर पर 3 मिसाइल दागीं।

अमेरिकी सैनिक की मौत

यूक्रेन की फौज के साथ रूस के खिलाफ लड़ रहे अमेरिका के एक पूर्व मरीन की मौत हो गई। रूस-यूक्रेन जंग में किसी भी अमेरिकी की मौत का यह पहला मामला है।

मारे गए सैनिक का नाम विली जोसेफ था। 22 साल के जोसेफ की मां रेबेका ने बेटे की मौत की पुष्टि की। कहा- मेरा बेटा एक मिलिट्री कॉन्ट्रैक्ट कंपनी के लिए काम कर रहा था और कंपनी ने उसे यूक्रेन भेजा था। वो खुद भी वहां जाना चाहता था। उसे लगता था कि यूक्रेन के लोगों के साथ नाइंसाफी हुई है। हमें अब तक उसकी डेड बॉडी नहीं मिल सकी है। अमेरिकी सरकार ने कहा कि वो मामले की जांच कर रहे हैं।

जंग के बड़े अपडेट्स…

  • यूक्रेन का दावा है कि कीव पर रूस के मिसाइल हमले में 10 लोग घायल हो गए।
  • फिनलैंड ने रूसी गैस का भुगतान रूबल में करने से इनकार किया।
  • बाइडेन ने रखा यूक्रेन को 2.52 लाख करोड़ रु. की मदद का प्रस्ताव।

ग्राफिक्स से समझिए रूस यूक्रेन जंग का सूरते हाल...

नीदरलैंड ने कीव में फिर से ऐंबैसी खोलने का ऐलान किया

नीदरलैंड के विदेश मंत्री वोपके होकेस्ट्रा। (फाइल फोटो)
नीदरलैंड के विदेश मंत्री वोपके होकेस्ट्रा। (फाइल फोटो)

नीदरलैंड ने शुक्रवार को यूक्रेन की राजधानी कीव में फिर से ऐंबैसी खोलने का फैसला किया है। करीब 2 महीने पहले हुए रूसी हमले के बाद 20 फरवरी को इसे बंद कर दिया गया था। 16 अप्रैल से यह ऐंबैसी पश्चिमी यूक्रेन के लीव शहर से संचालित हो रही थी। नीदरलैंड के विदेश मंत्रालय के मुताबिक, ऐंबैसी में सीमित संख्या में ही लोग काम करेंगे।

डच विदेश मंत्री वोपके होकेस्ट्रा ने कहा- यूक्रेन के साथ हमारे अच्छे संबंध हैं और हम उनका समर्थन करते हैं। नीदरलैंड यूक्रेन को सैन्य सहायता देना जारी रखेगा।

यूक्रेन के एयर डिफेंस सिस्टम ने मार गिराई 3 रूसी मिसाइल
ओडेसा के गवर्नर मैक्सिम मार्चेंको का कहना है कि यूक्रेन के एयर डिफेंस सिस्टम ने बीते दिन रूस के 3 मिसाइल हमलों को नाकाम कर दिया। दूसरी तरफ खेरसोन की रीजनल काउंसिल का कहना है कि रूस जबरदस्ती यह मौजूद स्कूलों का सिलेबस बदल रहा है।

पड़ोसी देशों तक पहुंची यूक्रेन युद्ध की आंच
यूक्रेन युद्ध की आंच अब यूक्रेन के पड़ोसी देशों तक भी पहुंचने लगी है। बुल्गारिया और इजराइल ने बीते दिन अपने नागरिकों को मोल्दोवा और ट्रांसनिस्ट्रिया छोड़ने की एडवाइजरी जारी की है। इससे पहले अमेरिका, जर्मनी, फ्रांस और कनाडा ने भी अपने नागरिकों को मोल्दोवा छोड़ने के लिए कहा था।

क्रीमिया तट पर तैनात की मिलिट्री डॉल्फिन की दो बटालियन
ब्लैक सी में पिछले दिनों यूक्रेनी हमले में अपना जंगी पोत मॉस्कवा गंवाने के बाद रूस ने नया पैंतरा चला है। काले सागर पर स्थित क्रीमिया तट के स्वास्तोपोल में रूस ने मिलिट्री डॉल्फिन की दो बटालियन तैनात की हैं। अमेरिकी खुफिया एजेंसियों ने सैटेलाइट तस्वीरों के आधार पर बताया ये यूक्रेन की ओर अंडरवॉटर अटैक से बचने के लिए किया गया है।

रूस डॉल्फिनों का सैन्य इस्तेमाल करता रहा है। ये डॉल्फिन समुद्र के भीतर किसी भी तारपीडो अथवा अन्य मिसाइलों का सोनार के द्वारा पता लगा लेती है। रूस ने स्वास्तोपोल प्रोजेक्ट को 2014 में शुरू किया था। इसके तहत उसने डॉल्फिन सहित ब्लूगा व्हेल को भी ट्रेनिंग दी है। 2019 में नॉर्वे तट के पास पकड़ी गई एक रूसी ब्लूगा व्हेल पर भी निगरानी कैमरे लगे हुए थे।