गंभीर रूप से बीमार हैं पुतिन:रिपोर्ट में दावा- रूसी राष्ट्रपति को ब्लड कैंसर, करीबी दोस्त ने कहा- उनके पास बहुत कम वक्त

मॉस्को/लंदन5 महीने पहले

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन गंभीर रूप से बीमार हैं। रूसी राष्ट्रपति के एक करीबी अमीर कारोबारी के मुताबिक, पुतिन को ब्लड कैंसर है। हालांकि, अब तक यह साफ नहीं है कि उनका कैंसर किस स्टेज और किस टाइप का है। यह दावा एक ऑडियो टेप के हवाले से किया गया है। इसमें कहा गया है कि पुतिन के पास ज्यादा वक्त नहीं है।

यह पहली बार नहीं है जब पुतिन के गंभीर तौर पर बीमार होने की खबरें सामने आई हैं। इसके पहले कहा गया था कि उनको पार्किंसन जैसी कोई बीमारी है। रूसी सरकार ने अब तक इन तमाम दावों को अफवाह करार दिया है।

न्यूज लाइन की रिपोर्ट में दावा
बिजनेस मैगजीन ‘न्यूज लाइन’ ने अपनी रिपोर्ट में पुतिन की बीमारी के बारे में खबर दी है। दावा है कि मैगजीन ने एक रूसी अरबपति और एक पश्चिमी कारोबारी की बातचीत रिकॉर्ड की है। रूसी कारोबारी कहता है कि पुतिन गंभीर रूप से बीमार हैं। उन्होंने अपनी जिद के चलते रूस, यूक्रेन और कई दूसरे देशों की इकोनॉमी तबाह कर दी है। सच तो यह है कि पुतिन की वजह से दुनिया को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है।

15 हजार रूसी सैनिक मारे गए
इस टेप में रूसी अरबपति दावा करता है कि जंग में 15 हजार रूसी सैनिक मारे जा चुके हैं। उसके मुताबिक, पुतिन बीमारी से जंग नहीं जीत पाएंगे और अगर जीत भी गए तो शायद उन्हें किसी तख्तापलट का शिकार होना पड़े।

इस टेप में रूसी कारोबारी की आवाज की पहचान का दावा तो किया गया है, लेकिन उसका नाम बताने से परहेज किया गया है। टेप में 11 मिनट की बातचीत है। कुछ वक्त पहले यूक्रेन की मिलिट्री इंटेलिजेंस ने भी पुतिन की बीमारी के बारे में जानकारी दी थी। तब भी कहा गया था कि उन्हें कैंसर है।

कहां मिले संकेत?

  • पिछले दिनों पुतिन के दो वीडियो वायरल हुए। पहला वीडियो बेलारूस के राष्ट्रपति अलेक्जेंडर लुकाशेंको से हाथ मिलाने के दौरान का है। वीडियो में लुकाशेंको का इंतजार कर रहे पुतिन का हाथ तेजी से कांप रहा है। कंपकंपी रोकने के लिए वो अपना हाथ सीने से लगाते हैं और लुकाशेंको की तरफ जाते हुए लड़खड़ा जाते हैं।
  • इससे पहले 12 मिनट के एक वीडियो में पुतिन रूसी रक्षा मंत्री सर्गेई शोइगु से मुलाकात के दौरान टेबल का एक कोना लगातार पकड़ कर बैठे दिख रहे थे। इस दौरान उनके दाहिने हाथ का अंगूठा और पांव हिल रहा था। वह बहुत ही ढीली सी मुद्रा में बैठे थे। पुतिन का चेहरा सूजा हुआ दिख रहा था। बोलते वक्त उनकी आवाज लड़खड़ा रही थी।
  • एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि मॉस्को के सेंट्रल क्लिनिकल अस्पताल के सर्जन येवगेनी सेलिवानोव काला सागर तट पर स्थित पुतिन के महल में उनसे मिलने के लिए 35 बार जा चुके हैं। सेलिवानोव थायरॉयड कैंसर के विशेषज्ञ हैं।