पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

माइनस 50 डिग्री पर फ्रोजन सिटी:रूस के वोरकुता शहर का 2013 से खाली पड़ा ये इलाका जमा, सुनसान पड़ी इमारतों में सिर्फ बर्फ ही बर्फ

मॉस्कोएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
2013 से खाली पड़े इस इलाके का हर कोना बर्फ से पटा हुआ है। सड़कों पर खड़े वाहन जमकर जड़ हो गए हैं। - Dainik Bhaskar
2013 से खाली पड़े इस इलाके का हर कोना बर्फ से पटा हुआ है। सड़कों पर खड़े वाहन जमकर जड़ हो गए हैं।

रूस के शहर वोरकुता से 17 किमी दूर बसा एक कस्बा इन दिनों जम सा गया है। यहां सर्दियों में पारा माइनस 50 डिग्री तक गिर जाता है। यही वजह है कि ये इलाका 2013 से खाली पड़ा है, क्योंकि असहनीय ठंड के चलते लोग यहां से जा चुके हैं। इन खाली इमारतों का हर कोना बर्फ से पटा हुआ है। सड़कों पर खड़े वाहन जमकर जड़ हो गए हैं।

बर्फ से जम गया ड्राइंगरूम।
बर्फ से जम गया ड्राइंगरूम।

रूस के वोरकुता से कुछ किमी दूर बसा ये इलाका यूरोप के सबसे ठंडे इलाकों में शामिल है। सर्दी की इंतेहां ऐसी कि हर चीज जम गई है। कभी यहां 70 हजार से ज्यादा लोग रहते थे। सर्दी के कारण अब ये वीरान हो चुका है। एक समय इस इलाके में स्टालिन ने कैदियों को रखने के लिए गुलाग कैदखाना तक बनवा दिया था। शहर की सुनसान पड़ी इमारतों के अंदर के हालात भी डरावने हैं।

किचन में भी हर तरफ बर्फ की परत जमी हुई है।
किचन में भी हर तरफ बर्फ की परत जमी हुई है।

ठंड के चलते ही इन घरों की हालत बेहद खराब हो चुकी है। खिड़कियां बर्फ से पूरी तरह जम चुकी हैं। ड्राइंग रूम में फर्नीचर से लेकर झूमर तक में बर्फ ही बर्फ है। कमरों से लेकर किचन की खिड़कियों तक बर्फ जम जाने से हवा का आना ही बंद हो गया है।

सीढ़ियों पर हर तरफ बर्फ ही बर्फ जमी हुई है।
सीढ़ियों पर हर तरफ बर्फ ही बर्फ जमी हुई है।

सीढ़ियों से लेकर रेलिंग तक बर्फ से पटी हुई हैं। तस्वीरें इस बात की गवाह बन चुकी हैं कि भीषण सर्दी के चलते ही यहां से इंसानों का पलायन हुआ होगा। खाली आशियाने शायद यही कहते नजर आ रहे हैं कि वीरानगी से पहले हम भी आबाद थे।

एक घर का बाथरूम और उसमें मौजूद बाथटब। अगर यहां कुछ नजर आता है तो बस बर्फ।
एक घर का बाथरूम और उसमें मौजूद बाथटब। अगर यहां कुछ नजर आता है तो बस बर्फ।

1932 के आसपास इस शहर को कोल माइनिंग हब के तौर पर जाना जाता था। हालांकि, जब सोवियत संघ का विभाजन हुआ और इसके 15 टुकड़े हुए तो इस क्षेत्र में वीरानी छाने लगी।

शहर की एक मल्टी स्टोरी बिल्डिंग पिछले साल कुछ इस तरह नजर आई थी। दीवारों पर रंग नजर आया था। अब सिर्फ सफेद चादर नजर आती है।
शहर की एक मल्टी स्टोरी बिल्डिंग पिछले साल कुछ इस तरह नजर आई थी। दीवारों पर रंग नजर आया था। अब सिर्फ सफेद चादर नजर आती है।

कोयला खदानों में काम करने वाले मजदूरों को काफी ज्यादा मजदूरी का लालच दिया गया, लेकिन वे यहां काम करने तैयार नहीं थे। नॉर्थ आर्कटिक सर्कल का यह चौथा सबसे बड़ा शहर है। यूरोप में सबसे ज्यादा सर्दी इसी इलाके में पड़ती है।

फोटो 10 नवंबर 2020 का है। तब वोरकुता का टेम्परेचर - 24 डिग्री सेल्सियस था। इस दौरान घर के बाहर एक बच्चा कबाड़ हो चुके पियानों के पास इस अंदाज में नजर आया था।
फोटो 10 नवंबर 2020 का है। तब वोरकुता का टेम्परेचर - 24 डिग्री सेल्सियस था। इस दौरान घर के बाहर एक बच्चा कबाड़ हो चुके पियानों के पास इस अंदाज में नजर आया था।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने काम को नया रूप देने के लिए ज्यादा रचनात्मक तरीके अपनाएंगे। इस समय शारीरिक रूप से भी स्वयं को बिल्कुल तंदुरुस्त महसूस करेंगे। अपने प्रियजनों की मुश्किल समय में उनकी मदद करना आपको सुखकर...

और पढ़ें