• Hindi News
  • International
  • Saudi Crown Prince Mohammed Bin Salman Gave Approval For Khashogi's Murder, Revealed In US Intelligence Report

अमेरिकी रिपोर्ट में दावा:सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या की मंजूरी दी थी

वॉशिगंटन8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अमेरिका की एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि वॉशिंगटन पोस्ट के सऊदी पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या की योजना को सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने मंजूरी दी थी। रिपोर्ट में यह भी बताया कहा गया है कि क्राउन प्रिंस खशोगी को सऊदी अरब के लिए खतरा मानते थे।

अक्टूबर 2018 में हुई थी खशोगी की हत्या
तुर्की में इस्तांबुल स्थित संयुक्त अरब अमीरात (UAE) के वाणिज्य दूतावास में 2 अक्टूबर 2018 को खशोगी की हत्या कर दी गई थी। इसमें वली अहद शहजादा मोहम्मद बिन सलमान की भूमिका को लेकर भी सवाल उठे थे। खशोगी का शव अभी तक बरामद नहीं हुआ है।

अमेरिका-सऊदी के रिश्ते बिगड़ेंगे
अगर प्रिंस सलमान को बाइडेन एडमिनिस्ट्रेशन खशोगी की हत्या के मामले में आरोपी करार देता है तो यह तय है कि मिडल ईस्ट के सबसे ताकतवर और अमीर देश के रिश्ते अमेरिका से खराब हो जाएंगे। इसकी एक वजह यह है कि किंग सलमान 85 साल के हो चुके हैं और सत्ता वास्तव में प्रिंस सलमान के हाथों में है। यह तय है कि बाइडेन ने किंग सलमान से बातचीत में खशोगी की हत्या और प्रिंस सलमान से जुड़े मामले की चर्चा जरूर की होगी। हालांकि, व्हाइट हाउस इसे सामान्य बातचीत बता रहा है।

ईरान फैक्टर
अमेरिका, सऊदी अरब, यूएई और इजराइल के लिए ईरान सबसे बड़ा खतरा है। अब अगर बाइडेन एडमिनिस्ट्रेशन सऊदी सरकार को नाराज करता है तो उसे इसका खामियाजा भुगतना पड़ सकता है। मिडल-ईस्ट में सऊदी अरब के बिना अमेरिका आगे नहीं बढ़ सकता। वहां उसके अनगिनत हित और मिलिट्री बेस भी है। अमेरिका भी तमाम पहलुओं पर विचार कर रहा है और इसीलिए बाइडेन से पहले विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने सऊदी एडमिनिस्ट्रेशन से बातचीत की।

चूंकि अप्रत्यक्ष रूप से प्रिंस सलमान ही सऊदी सत्ता संभाल रहे हैं, ऐसे में अमेरिका अगर उनके खिलाफ कोई कदम उठाता है तो इसके गंभीर नतीजे हो सकते हैं।