• Hindi News
  • International
  • Scientists name new species of tiny wingless beetle with long pigtail like antennae after Greta Thunberg

लंदन / खोज के 54 साल बाद कीट का नामकरण पर्यावरण कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग के नाम पर किया गया



Scientists name new species of tiny wingless beetle with long pigtail-like antennae after Greta Thunberg
X
Scientists name new species of tiny wingless beetle with long pigtail-like antennae after Greta Thunberg

  • 1965 में केन्या में मिला था बिना आंख और पंख वाला कीट, जिसका नाम नेलोपटोड्स ग्रेटी रखा गया
  • 1 मिमी लंबे कीट को 1978 में नेचुरल हिस्ट्री म्यूजियम, लंदन को डोनेट किया गया था

Dainik Bhaskar

Oct 27, 2019, 09:09 AM IST

साइंस डेस्क. पर्यावरण ऐक्टिविस्ट ग्रेटा थनबर्ग के नाम पर भौंरे जैसे दिखने वाले एक कीट का नाम रखा गया है। इस कीट की खोज 1965 में हुई थी, लेकिन अब तक कोई नाम नहीं दिया गया था। पर्यावरण संरक्षण को लेकर ग्रेटा के योगदान को देखते हुए ऐसा किया गया है। कीड़े का नाम नेलोपटोड्स ग्रेटी रखा गया है। एंटोमोलॉजिस्ट जर्नल में प्रकाशित शोध के अनुसार, इस कीड़े की न तो आंख है और न ही पंख। यह 1 मिमी लंबा है।

‘ग्रेटा निडर, इसलिए उनके नाम पर कीट का नामकरण’

  1. कीट के सिर के पास लगे एंटीने पिगटेल्स जैसे दिखते हैं। नेचुरल हिस्ट्री  म्यूजियम, लंदन के एक्सपर्ट के मुताबिक, ग्रेटा काफी निर्भीक हैं और दुनिया के सामने पर्यावरण संरक्षण अभियान पर बेबाक राय रखती हैं। उनका काम प्रशंसनीय है।

  2. म्यूजियम के साइंटिफिक एसोसिएट डॉ. माइकल डर्बे का कहना है कि यह कीट लाखों जीवों के कलेक्शन के दौरान प्रकृतिविद डॉ. विलियम ब्लॉक को केन्या में  मिला था। 1965 में मिले इस कीट को 1978 में नेचुरल हिस्ट्री म्यूजियम को डोनेट कर दिया गया था।

  3. डॉ. डर्बे के मुताबिक, इसका नाम तय करने में 50 साल से ज्यादा का समय लग गया। इसकी प्रजाति के नाम में ग्रेटा का नाम जोड़ा गया है। यह कीड़ा टिलिएडी फैमिली का है, जिसे दुनिया के सबसे छोटे कीटों वाला परिवार कहा जाता है। मेरी नजर इस पर तब पड़ी, जब मैं कलेक्शन का अध्ययन कर रहा था।

  4. म्यूजियम के सीनियर क्यूरेटर डॉ मैक्स बार्कले का कहना है कि इस कीड़े का नाम रखना बेहद जरूरी था क्योंकि इसकी खोज को एक लंबा अर्सा गुजर चुका था। इसका नाम आज के समय के मुताबिक रखने के लिए भी ग्रेटा का नाम बेहतर लगा, क्योंकि वे पर्यावरण संरक्षण अभियान से जुड़ी हैं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना