पाकिस्तान / विदेश मंत्री कुरैशी ने कहा- कश्मीर हमेशा पाकिस्तान की विदेश नीति का आधार बना रहेगा

विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने पीओक के नेताओं के साथ शनिवार को बैठक की।- फाइल विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने पीओक के नेताओं के साथ शनिवार को बैठक की।- फाइल
X
विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने पीओक के नेताओं के साथ शनिवार को बैठक की।- फाइलविदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने पीओक के नेताओं के साथ शनिवार को बैठक की।- फाइल

  • शाह महमूद कुरैशी ने कहा- एशियाई क्षेत्र में शांति और स्थायित्व के लिए कश्मीर मुद्दा का स्थायी सामाधान आवश्यक
  • 5 फरवरी को कश्मीर एकजुटता दिवस मनाया गया, प्रधानमंत्री इमरान खान ने पीओके के सदन को संबोधित किया था

दैनिक भास्कर

Feb 09, 2020, 12:17 PM IST

इस्लामाबाद. पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने शनिवार को कहा कि कश्मीर मुद्दा हमेशा ही पाकिस्तान की विदेश नीति का आधारशिला बना रहेगा। पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) के नेताओं से मुलाकात के बाद कुरैशी ने कहा कि दक्षिण एशियाई क्षेत्र में शांति और स्थायित्व बनाए रखने के लिए कश्मीर मुद्दा का स्थायी सामाधान आवश्यक है। इससे पहले, प्रधानमंत्री इमरान खान ने 5 फरवरी को पीओके के विधानसभा को संबोधित किया था।

बैठक के दौरान, पीओके के नेता राजा फारूख हैदर खान भी शामिल थे। उन्होंने कश्मीर घाटी में लंबे समय से जारी मीडिया और संचार सुविधाओं पर लगे प्रतिबंध को खत्म करने का आह्वान किया। इससे पहले, पाकिस्तान में बुधवार को ‘कश्मीर एकजुटता दिवस' मनाया गया। पाकिस्तानी मीडिया की रिपोर्ट के मुताबिक इस दौरान आयोजन कार्यक्रमों में कश्मीरियों पर जारी अत्याचार का विरोध किया गया और उनके प्रति एकजुटता दिखाई गई।

हर साल 5 फरवरी को ‘कश्मीर एकजुटता दिवस' मनाया जाता है

पाकिस्तान में हर साल 5 फरवरी को ‘कश्मीर एकजुटता दिवस' मनाया जाता है। इस दिन देश में सार्वजनिक अवकाश रहता है। भारत ने 5 अगस्त 2019 को जम्मू-कश्मीर से विशेष दर्जा वापस ले लिया था। इसको लेकर इस दिन सरकार ने इस पर विशेष जोर दिया था। पाकिस्तान इस मुद्दे को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी उठाया था लेकिन उसे हमेशा हार ही मिली। भारत लगातार अंतरराष्ट्रीय समुदाय को इसे आंतरिक मुद्दा बताता रहा है और पाकिस्तान को सच्चाई को स्वीकार करने की सलाह दी थी।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना