कुत्तों पर उलझी साउथ कोरिया सरकार:किम जोंग ने 4 साल पहले पूर्व राष्ट्रपति को गिफ्ट किए थे, नई सरकार खर्च उठाने तैयार नहीं

सियोल3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

साउथ कोरिया के साथ चल रहे तनाव के बीच नॉर्थ कोरिया में पुंगसन कुत्तों, गोमी और सोंगगैंग की जोड़ी राजनीतिक झगड़े का कारण बन गई है। ये कुत्ते किम जोंग उन ने 2018 में दक्षिण कोरिया के तत्कालीन राष्ट्रपति मून जे-इन को गिफ्ट किए थे। जब मून कार्य़काल पूरा करने के बाद राष्ट्रपति भवन से बाहर निकले तो इन कुत्तों को भी साथ ले गए। मई में यूं सुक येओल के राष्ट्रपति बनने के बाद भी कुत्ते मून के साथ ही रहते हैं। अब मून ने इन कुत्तों को छोड़ने की बात कही है।

क्या है कुत्तों को छोड़ने की वजह?
साउथ कोरिया के पूर्व राष्ट्रपति मून ने कुत्तों की इस जोड़ी को छोड़ने का ऐलान किया है। उनका कहना है कि वर्तमान राष्ट्रपति उन्हें कुत्ते नहीं पालने देना चाहते। साथ ही अपने उत्तराधिकारी और वर्तमान राष्ट्रपति से कानूनी और आर्थिक मदद न मिलने को इसकी मुख्य वजह बताया है। कथित तौर पर सरकार के साथ एक पुराने समझौते में कथित तौर पर कहा गया है कि इन कुत्तों की देखभाल के लिए खर्च सरकारी बजट से दिया जा सकता है। मून का कहना है कि राष्ट्रपति यूं सुक-योल के प्रशासन के विरोध के कारण सरकार अब इस खर्च देने से पीछे हट रही है।

2018 में दक्षिण कोरिया के सियोल में मून जे-इन पालतू जानवर पुंगसन और कुत्ता गोमी।
2018 में दक्षिण कोरिया के सियोल में मून जे-इन पालतू जानवर पुंगसन और कुत्ता गोमी।

मून ने सरकार पर लगाए कई आरोप
फेसबुक पर मून ने लिखा कि कुत्तों को छोड़ना आसान नहीं है। क्योंकि वह इन जानवरों से भावनात्मक रूप से जुड़े हुए हैं, लेकिन इस पर कोई रास्ता न निकलने पर मजबूरी में उन्हें इन कुत्तों को छोड़ना पड़ रहा है। साथ ही मून ने इतने छोटे से मामले पर सरकार का रवैया देखकर आश्चर्यचकित हैं। यूं के ऑफिस ने किसी भी तरह का हस्तक्षेप करने से मना कर दिया है।

किम जोंग उन से गिफ्ट मिलने के बाद पूर्व राष्ट्रपति मून जे-इन और उनकी पत्नी किम जंग-सूक पुंगसन कुत्तों के साथ। यह फोटो 25 नवंबर 2018 का है।
किम जोंग उन से गिफ्ट मिलने के बाद पूर्व राष्ट्रपति मून जे-इन और उनकी पत्नी किम जंग-सूक पुंगसन कुत्तों के साथ। यह फोटो 25 नवंबर 2018 का है।

साथ ही कहा है कि इस मामले में संबंधित मंत्रालयों के बीच इस पर बातचीत हो रही है। सरकार जानवरों के लिए कुल 2.5 मिलियन वोन ($1,800) की मंथली सब्सिडी देने के लिए मून के साथ बातचीत कर रही है। योनहाप समाचार एजेंसी ने मार्च में बताया कि नए राष्ट्रपति के पास पहले से ही चार कुत्ते और तीन बिल्लियां हैं। साथ ही मून को कुत्ते पालने से रोकने वाली बात से इनकार किया है।

मई में यूं सुक येओल के राष्ट्रपति बनने के बाद भी दोनों कुत्ते मून के साथ ही रहते हैं।
मई में यूं सुक येओल के राष्ट्रपति बनने के बाद भी दोनों कुत्ते मून के साथ ही रहते हैं।

कोरियाई देशों में 2 महीनों से चल रहा तनाव
नॉर्थ कोरिया और साउथ कोरिया के बीच 2 महीने से तनाव बना हुआ है। नॉर्थ कोरिया जहां 2 महीने में कई बैलिस्टिक मिसाइल टेस्ट करके युद्ध के हालात बना चुका है। जवाब में अब साउथ कोरिया का साथ देते हुए अमेरिका ने भी सैन्य अभ्यास फिर से करने की बात कही है। मीडिया रिपोर्टस के अनुसार यह फैसला वह उनके और वर्तमान सरकार के बीच मतभेद के कारण ले रहे हैं। दरअसल, मतभेद के बाद अब सरकार इन कुत्तों को उन्हें देने से हाथ खड़े करती दिख रही है।