पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • International
  • SpaceX Dragon Completed The Journey From Space To Earth In About 19 Hours, Successful Landing With A Parachute On The Sea Surface

तस्वीरों में स्पेसएक्स कैप्सूल की लैंडिंग:स्पेसएक्स ड्रैगन ने अंतरिक्ष से धरती का सफर करीब 19 घंटे में पूरा किया, प्रोटोकॉल के तहत मेडिकल ऑब्जर्वेशन में रहेंगे दोनों एस्ट्रोनॉट्स

वॉशिंगटन2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चार पैराशूट के जरिए स्पेसएक्स ने मैक्सिको की खाड़ी में लैंडिंग की। एस्ट्रोनॉट्स को लाने के लिए नासा की टीम यहां पहले से तैनात थी।

अमेरिकी अंतरिक्ष कंपनी स्पेसएक्स का ड्रैगन कैप्सूल भारतीय समयानुसार सोमवार रात 12 बजकर 18 मिनट पर धरती पर पहुंच गया। इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन से धरती तक का सफर तय करने में इसे करीब 19 घंटे लगे। 45 साल बाद अमेरिका के किसी स्पेसक्राफ्ट ने समुद्री सतह पर लैंडिंग की। तस्वीरों में देखिए स्पेसएक्स ड्रैग्रन क्रू अंतरिक्ष से धरती तक लौटने का सफर।

अंतरिक्ष से वापस लौटने के बाद एस्ट्रोनॉट डगहस हर्ले ने हाथ हिलाकर खुशी का इजहार किया। उनके साथ इस मिशन में शामिल रहे रॉबर्ट बेनकेन मास्क लगाए नजर आए।
अंतरिक्ष से वापस लौटने के बाद एस्ट्रोनॉट डगहस हर्ले ने हाथ हिलाकर खुशी का इजहार किया। उनके साथ इस मिशन में शामिल रहे रॉबर्ट बेनकेन मास्क लगाए नजर आए।
इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन से स्पेसएक्स रविवार सुबह 5.15 बजे रवाना हुआ। लैंडिंग के लिए चुने गए फ्लोरिडा के पास इसायस साइक्लोन की चेतावनी के बाद भी इसने सफर जारी रखा।
इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन से स्पेसएक्स रविवार सुबह 5.15 बजे रवाना हुआ। लैंडिंग के लिए चुने गए फ्लोरिडा के पास इसायस साइक्लोन की चेतावनी के बाद भी इसने सफर जारी रखा।
इस कैप्सूल में सवार एस्ट्रोनॉट रॉबर्ट बेनकेन और डगलस हर्ले ने धरती की ओर वापस लौटते वक्त अपनी कई तस्वीरें भेजीं।
इस कैप्सूल में सवार एस्ट्रोनॉट रॉबर्ट बेनकेन और डगलस हर्ले ने धरती की ओर वापस लौटते वक्त अपनी कई तस्वीरें भेजीं।
स्पेसएक्स ड्रैगन 560 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से धरती के वायुमंडल में दाखिल हुआ। इस दौरान इसके बाहरी हिस्से का तापमान 1900 डिग्री तक पहुंच गया।
स्पेसएक्स ड्रैगन 560 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से धरती के वायुमंडल में दाखिल हुआ। इस दौरान इसके बाहरी हिस्से का तापमान 1900 डिग्री तक पहुंच गया।
डगलस हर्ले ने रेडियो पर बातचीत करते हुए कहा, ‘यह वास्तव में हमारे लिए सम्मान की बात है।’ हालांकि, इसके बाद उनसे रेडियो संपर्क टूट गया था।
डगलस हर्ले ने रेडियो पर बातचीत करते हुए कहा, ‘यह वास्तव में हमारे लिए सम्मान की बात है।’ हालांकि, इसके बाद उनसे रेडियो संपर्क टूट गया था।
लैंडिंग के तुरंत बाद किनारे पर इंतजार कर रही नासा की टीम बोट के जरिए ड्रैगन कैप्सूल तक पहुंची। लैडिंग में इस्तेमाल किए गए पैराशूट समुद्री सतह पर तैरते नजर आ रहे हैं।
लैंडिंग के तुरंत बाद किनारे पर इंतजार कर रही नासा की टीम बोट के जरिए ड्रैगन कैप्सूल तक पहुंची। लैडिंग में इस्तेमाल किए गए पैराशूट समुद्री सतह पर तैरते नजर आ रहे हैं।
स्पेसएक्स की तरफ आती हुई बोट की फोटो विंडो से ली गई है। स्पेसक्राफ्ट में बैठे क्रू मेंबर्स अपनी ओर बढ़ती टीम पर नजर रख रहे थे।
स्पेसएक्स की तरफ आती हुई बोट की फोटो विंडो से ली गई है। स्पेसक्राफ्ट में बैठे क्रू मेंबर्स अपनी ओर बढ़ती टीम पर नजर रख रहे थे।
कुछ इस तरह से कैप्सूल के करीब पहुंची नासा की टीम। पूरी पड़ताल के बाद स्पेसक्राफ्ट को बाहर निकालने का काम शुरू हुआ।
कुछ इस तरह से कैप्सूल के करीब पहुंची नासा की टीम। पूरी पड़ताल के बाद स्पेसक्राफ्ट को बाहर निकालने का काम शुरू हुआ।
समुद्री सतह पर तैरते स्पेसएक्स ड्रैगन को क्रेन की मदद से बाहर निकाल कर एक बड़ी बोट पर रखा गया।
समुद्री सतह पर तैरते स्पेसएक्स ड्रैगन को क्रेन की मदद से बाहर निकाल कर एक बड़ी बोट पर रखा गया।
स्पेसक्राफ्ट खुलने पर दोनों एस्ट्रोनॉट सुरक्षित नजर आए। धरती पर 63 दिन बाद वापसी के बाद की उनकी यह पहली फोटो है।
स्पेसक्राफ्ट खुलने पर दोनों एस्ट्रोनॉट सुरक्षित नजर आए। धरती पर 63 दिन बाद वापसी के बाद की उनकी यह पहली फोटो है।
सुरक्षित लैंडिंग कर किनारे तक पहुंचने के बाद लोगों का अभिवादन करते एस्ट्रोनॉट बेनकेन और हर्ले।
सुरक्षित लैंडिंग कर किनारे तक पहुंचने के बाद लोगों का अभिवादन करते एस्ट्रोनॉट बेनकेन और हर्ले।
दोनों एस्ट्रोनॉट्स को एक हेलिकॉप्टर के जरिए नासा के केंद्र ले जाया गया। अभी कुछ दिनों तक इन्हें प्रोटोकॉल के तहत मेडिकल ऑब्जर्वेशन में रखा जाएगा।
दोनों एस्ट्रोनॉट्स को एक हेलिकॉप्टर के जरिए नासा के केंद्र ले जाया गया। अभी कुछ दिनों तक इन्हें प्रोटोकॉल के तहत मेडिकल ऑब्जर्वेशन में रखा जाएगा।

स्पेसएक्स से जुड़ी ये खबर भी पढ़ें:

1.समुद्र की सतह पर लैंड हुआ स्पेसएक्स ड्रैगन:45 साल बाद स्पेसएक्स कैप्सूल मैक्सिको की खाड़ी में लैंड हुआ, 9 साल पहले स्पेस में भेजे फ्लैग के साथ 63 दिन बाद दो अंतरिक्ष यात्रियों की वापसी

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय की गति आपके पक्ष में रहेगी। सामाजिक दायरा बढ़ेगा। पिछले कुछ समय से चल रही किसी समस्या का समाधान मिलने से राहत मिलेगी। कोई बड़ा निवेश करने के लिए समय उत्तम है। नेगेटिव- परंतु दोपहर बाद परिस...

और पढ़ें