कोलंबो एयरपोर्ट के पास छह फुट लंबा पाइप बम बरामद, एयरफोर्स ने डिफ्यूज किया

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • श्रीलंका में रविवार को ईस्टर के मौके पर आठ धमाकों में 207 लोगों की मौत हुई
  • अब तक 13 संदिग्ध गिरफ्तार किए गए, सरकार ने शाम को लगाया कर्फ्यू सोमवार सुबह छह बजे हटा लिया 

कोलंबो. श्रीलंका में चर्चों और होटलों में हुए सीरियल धमाकों में मरने वालों की संख्या बढ़कर 310 पहुंच गई है। सोमवार को एक बस स्टैंड में करीब 87 बम बरामद किए गए। राजधानी कोलंबो में सोमवार दोपहर बम डिफ्यूज करते वक्त एक और धमाका हुआ। इसमें कोई हताहत नहीं हुआ। ब्लास्ट सेंट एंथोनी चर्च के पास हुआ, जहां रविवार को भी आतंकियों ने धमाका किया था। इनमें जेडीएस के 6 नेताओं समेत 8 भारतीय शामिल हैं। 33 विदेशी नागरिकों के मारे जाने की पुष्टि हुई है। श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने इमरजेंसी की घोेषणा की है।

श्रीलंका में मंगलवार को मृतकों को श्रद्धांजलि देने के लिए लोगों ने 3 मिनट का मौन रखा। इस दिन को राष्ट्रीय शोक घोषित किया गया था, इसलिए देश के झंडों को भी आधा झुकाया गया। 

 

श्रीलंका सरकार ने कहा कि धमाकों के पीछे स्थानीय कट्टरपंथी मुस्लिम संगठन नेशनल तौहीद जमात (एनटीजे) का हाथ हो सकता है। मंत्री रंजीता सेनारत्ने ने बताया, \'\'धमाकों में शामिल सभी फिदायीन हमलावर श्रीलंका के नागरिक थे। राष्ट्रीय सुरक्षा प्रमुख ने 11 अप्रैल से पहले ही इंस्पेक्टर जनरल ऑफ पुलिस (आईजीपी) को हमलों को लेकर चेतावनी दी थी। इन हमलों के पीछे विदेशी लिंक भी हो सकता है।\'\' एनटीजे श्रीलंका का कट्टरपंथी मुस्लिम संगठन है। यह पिछले साल उस वक्त चर्चा में आया था जब उसने बुद्ध की मूर्तियों को तोड़ा था।

 

भारतीय तट रक्षक अलर्ट

श्रीलंका में धमाकों के बाद श्रीलंका से लगी समुद्री सीमा पर तट रक्षक बल अलर्ट हो गया है। निगरानी के लिए विमानों और जहाजों की तैनाती की गई है। तट रक्षक बल ज्यादा एहतियात बरत रहा है, ताकि 26/11 जैसे हमला दोहराया ना जा सके।

 

जेडीएस का एक कार्यकर्ता लापता
कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने बताया कि श्रीलंका दौरे पर गए 7 जेडीएस कार्यकर्ताओं में 6 की मौत हो गई है। उन्होंने ट्वीट किया, \'\'मैं कोलंबो हमले में जान गंवाने वाले हमारे लोगों के लिए दुखी हूं। दौरे पर गए 7 लोगों में चार लोगों की मौत हो गई है। मरने वालों में लक्ष्मण गौड़ा रमेश, केएम लक्ष्मीनारायण, एम रंगप्पा और केजी हनुमनथरायप्पा शामिल हैं।\'\'

 

अब तक 40 संदिग्ध गिरफ्तार

पुलिस के मुताबिक, इस मामले में अब तक 40 संदिग्धाें को गिरफ्तार किया जा चुका है। हालांकि, किसी भी आतंकी संगठन ने अब तक हमले की जिम्मेदारी नहीं ली। रविवार देर रात पुलिस को कोलंबो एयरपोर्ट के पास छह फीट लंबा पाइप बम मिला। इसे एयरफोर्स ने डिफ्यूज कर दिया।

 

स्थानीय स्तर पर बना था बम

एयरफोर्स के प्रवक्ता ग्रुप कैप्टन गिहान सेनेविरत्ने ने बताया कि एयरपोर्ट पर मिला आईईडी स्थानीय स्तर पर बना था। बम के मिलने के बाद एयरपोर्ट जाने वाले लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। श्रीलंका की एयरलाइन कंपनियों ने भी कड़ी सुरक्षा जांच के चलते यात्रियों को फ्लाइट के उड़ान भरने से चार घंटे पहले एयरपोर्ट पहुंचने के निर्देश जारी कर दिए। 

 

कोलंबो में हुआ था पहला धमाका
पहला धमाका कोलंबो के कोच्चिकड़े स्थित सेंट एंथनी चर्च में हुआ, इसके बाद नेगोंबो के कटुवपिटिया स्थित सेंट सेबेस्टियन चर्च और बट्टीकलोआ स्थित चर्च में धमाके हुए। इनके अलावा कोलंबो के फाइव स्टार होटलों शांगरी ला, किंग्सबरी और सिनेमन ग्रैंड में भी ब्लास्ट हुए। आठ में से शुरुआती छह धमाके लगभग एक ही समय पर सुबह 8:45 बजे हुए। बाकी दो धमाके दोपहर में दो से ढाई बजे के बीच कोलंबो में हुए।