• Hindi News
  • International
  • Sudan Indian Embassy | Sudan Seela Ceramic Factory Blast [Updates]; 18 Indian dead, In Seela Ceramic Factory in Bahri area in Khartoum Sudan

सूडान / गैस टैंकर खाली करते समय सिरेमिक फैक्ट्री में धमाका: 18 भारतीयों समेत 23 की मौत, 130 घायल

धमाके में 130 से ज्यादा लोग घायल हुए। धमाके में 130 से ज्यादा लोग घायल हुए।
विस्फोट मंगलवार शाम खार्तून के बाहरी इलाके स्थित सीला सिरेमिक फैक्ट्री में हुआ। विस्फोट मंगलवार शाम खार्तून के बाहरी इलाके स्थित सीला सिरेमिक फैक्ट्री में हुआ।
Sudan Indian Embassy | Sudan Seela Ceramic Factory Blast [Updates]; 18 Indian dead, In Seela Ceramic Factory in Bahri area in Khartoum Sudan
X
धमाके में 130 से ज्यादा लोग घायल हुए।धमाके में 130 से ज्यादा लोग घायल हुए।
विस्फोट मंगलवार शाम खार्तून के बाहरी इलाके स्थित सीला सिरेमिक फैक्ट्री में हुआ।विस्फोट मंगलवार शाम खार्तून के बाहरी इलाके स्थित सीला सिरेमिक फैक्ट्री में हुआ।
Sudan Indian Embassy | Sudan Seela Ceramic Factory Blast [Updates]; 18 Indian dead, In Seela Ceramic Factory in Bahri area in Khartoum Sudan

  • विस्फोट मंगलवार शाम खार्तून के बाहरी इलाके स्थित सीला सिरेमिक फैक्ट्री में हुआ
  • 34 भारतीय नागरिक बचाए गए, जिन्हें सलूमी सिरेमिक फैक्ट्री में रखा गया है
  • 7 भारतीय नागरिक अस्पताल में भर्ती हैं, जिनमें से 4 की स्थिति गंभीर है
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पीड़ितों के परिवारों के प्रति दुख जताया
  • विदेश मंत्रालय मृत भारतीय नागरिकों का शव भारत लाने की कोशिशों में जुटी है

Dainik Bhaskar

Dec 06, 2019, 05:10 PM IST

खार्तूम. सूडान में एक सिरेमिक फैक्ट्री परिसर में हुए विस्फोट में 18 भारतीयों समेत 23 लोगों की मौत हो गई। 130 से अधिक घायल हो गए। हालांकि, कुछ शव इतनी बुरी तरह जल गए हैं कि उनकी पहचान में दिक्कत आ रही है। विस्फोट मंगलवार शाम खार्तून के बाहरी इलाके में हुआ। सूडान स्थित भारतीय दूतावास ने बुधवार को यह जानकारी दी। इससे पहले मंगलवार को दूतावास ने हादसे में 16 भारतीयों के लापता होने की जानकारी दी थी।

रिपोर्ट के मुताबिक फैक्ट्री में सुरक्षा उपकरण भी नहीं थे, जिस वजह से आग तेजी से फैली। स्थानीय न्यूज एजेंसी के अनुसार फैक्ट्री में गैस टैंकर खाली करते वक्त यह हादसा हुआ।

मृतकों का शव भारत लाने की कोशिश हो रही: विदेश मंत्रालय

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने शुक्रवार को कहा कि सूडान के जिस फैक्ट्री में धमाका हुआ वहां 58 भारतीय मजदूर काम कर रहे थे। हादसे में 6 भारतीय नागरिकों की मौत हो गई। 8 भारतीय अस्पताल में भर्ती हैं और 11 लोगों की पहचान नहीं हो सकी है। 33 भारतीय सुरक्षित हैं। हम इस हादसे में जान गंवाने वाले 6 नागरिकों के परिजनों के संपर्क में है। हम इस बात पर ध्यान दे रहे हैं कि मृत भारतीय नागरिकों का शव देश कैसे वापस लाया जाए।

भारतीय विदेश मंत्रालय ने हॉटलाइन नंबर जारी किया

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने ट्वीट किया- सूडान की राजधानी खार्तूम के बाहरी इलाके स्थित सिरेमिक फैक्ट्री में धमाका होने की दुखद खबर मिली। यह जानकर दुख हुआ कि कुछ भारतीय मजदूरों ने भी जान गंवा दी। दूतावास के प्रतिनिधि मौके पर पहुंच गए हैं। 24 घंटे इमर्जेंसी हॉटलाइन नंबर +249-921917471 जारी कर दिया गया है।दूतावास सोशल मीडिया पर भी अपडेट दे रहा है। हमारी प्रार्थना मजदूरों और उनके परिवारों के साथ है।

आग लगने के कारणों का पता लगाएगी कमेटी

सूडान सरकार ने कहा- औद्योगिक क्षेत्र स्थित फैक्ट्री में गैस टैंकर को खाली करते समय धमाका हुआ। इसका कारण वहां मौजूद अत्यंत ज्वलनशील पदार्थ को सही ढंग से नहीं रखा जाना और सुरक्षा उपकरणों का अभाव था। आग लगने के कारणों की जांच के लिए कमेटी गठित की गई है। कमेटी यह भी पता लगाएगी कि हादसे को कैसे रोका जा सकता था।

हमारा दूतावास प्रभावितों की मदद में जुटा: मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विस्फोट में मारे गए लोगों के परिवारों के प्रति दुख जताया है। साथ ही घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना की। उन्होंने कहा कि हमारा दूतावास प्रभावितों की हरसंभव मदद कर रहा है।

सुरक्षित नागरिक सिरेमिक फैक्ट्री में भेजे गए

दूतावास ने कहा- कुछ लापता नागरिक भी मृतकों की सूची में शामिल हो सकते हैं। 7 भारतीय अस्पताल में भर्ती हैं, जिनमें से 4 की स्थिति गंभीर है। 34 भारतीय नागरिक सही सलामत हैं। सभी को सलूमी सिरेमिक फैक्ट्री में भेजा गया है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना