ब्रिटिश PM ने सीट बेल्ट नहीं पहना... 10 हजार जुर्माना:लॉकडाउन पार्टी पर भी फाइन लग चुका, भारत में हुआ था PM की कार का चालान

न्यूयॉर्क14 दिन पहले
ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक चलती कार में सोशल मीडिया के लिए वीडियो बना रहे थे। इसके वायरल होने के बाद पुलिस ने यह कार्रवाई की।

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक पर ट्रैफिक रूल्स तोड़ने के आरोप में 10 हजार रुपए का जुर्माना लगाया गया है। लंकाशायर पुलिस ने शुक्रवार को PM सुनक के खिलाफ 100 पाउंड का चालान जारी किया। हालांकि, सुनक दो दिन पहले यानी गुरुवार को इस मामले में माफी मांग चुके हैं।

यह दूसरी बार है जब सरकार में रहते हुए ऋषि सुनक पर जुर्माना लगाया गया है। जून 2020 में कोरोना लॉकडाउन के दौरान तत्कालीन प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन और उनकी पत्नी कैरी के साथ पार्टी करने पर भी उन पर पेनाल्टी लगी थी। उस समय सुनक लॉकडाउन के नियम तोड़ते हुए डाउनिंग स्ट्रीट में एक बर्थ डे पार्टी में शामिल हुए थे।

भारत में किरण बेदी ने इंदिरा गांधी की कार पर एक्शन लिया था
भारत में भी एक बार प्रधानमंत्री की कार का चालान किया जा चुका है। यह एकमात्र वाकया 1982 का है। तब देश की पहली महिला IPS ऑफिसर किरण बेदी दिल्ली में ट्रैफिक DCP थीं। उस समय एशियाई खेल शुरू होने वाले थे। तभी कनॉट प्लेस के ऑउटर सर्किल के पास मिंटो ब्रिज एरिया में इंदिरा गांधी की कार आई। कार का ड्राइवर नियमों से हटकर कार को पार्क कर रहा था।

किरण बेदी ने इंदिरा गांधी के साथ यह फोटो 19 नवंबर 2020 को पोस्ट की थी। 1975 में राजपथ पर गणतंत्र दिवस परेड के बाद इंदिरा ने उन्हें नाश्ते पर बुलाया था।
किरण बेदी ने इंदिरा गांधी के साथ यह फोटो 19 नवंबर 2020 को पोस्ट की थी। 1975 में राजपथ पर गणतंत्र दिवस परेड के बाद इंदिरा ने उन्हें नाश्ते पर बुलाया था।

किरण बेदी के स्टाफ ने ड्राइवर को गाड़ी हटाने को कहा। जब वह नहीं माना तो ट्रैफिक पुलिस ने क्रेन से कार को हटवा दिया। साथ ही कार का चालान भी कर दिया गया। हालांकि, इसके बाद किरण बेदी का तबादला करके उन्हें VIP सिक्योरिटी का इंचार्ज बना दिया गया था।

ड्राइव नहीं कर रहे थे ऋषि सुनक, पीछे पैसेंजर सीट पर बैठे थे
इस बार के मामले में खास बात ये है कि सुनक खुद ड्राइव नहीं कर रहे थे। ना ही वे कार की फ्रंट सीट पर बैठे थे। वह पीछे पैसेंजर सीट पर बैठे थे। कार जब चल रही थी तब वह सोशल मीडिया के लिए एक वीडियो बना रहे थे। उनका यही वीडियो सामने आने के बाद ब्रिटेन में पुलिस ने एक्शन लिया है।

यह स्क्रीनशॉट ऋषि सुनक के बनाए वीडियो से लिया गया है। इसमें वे कार की पिछली सीट पर बैठे थे, लेकिन उन्होंने सीट बेल्ट नहीं लगाया था।
यह स्क्रीनशॉट ऋषि सुनक के बनाए वीडियो से लिया गया है। इसमें वे कार की पिछली सीट पर बैठे थे, लेकिन उन्होंने सीट बेल्ट नहीं लगाया था।

प्रधानमंत्री कार्यालय ने कहा- सुनक जुर्माना भरने को तैयार
मामला सामने आने के बाद ब्रिटेन के प्रधानमंत्री आवास 10 डाउनिंग स्ट्रीट की ओर से एक बयान में कहा गया, 'सुनक ने पूरी तरह से अपनी गलती मान कर माफी मांग ली है। वह जुर्माना देने के लिए तैयार हैं।' PM ने जब यह वीडियो बनाया तब वह उत्तरी इंग्लैंड के लांकशायर में थे।

पुलिस ने ट्वीट किया, लेकिन PM का नाम नहीं लिखा
लंकाशायर पुलिस ने ट्वीट कर यह जानकारी दी। हालांकि, इसमें PM सुनक के नाम का जिक्र नहीं किया। पुलिस ने लिखा, 'सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद लंकाशायर में एक चलती कार में सीट बेल्ट नहीं लगाने पर आज (शुक्रवार, 20 जनवरी) को लंदन के एक 42 साल के व्यक्ति पर जुर्माना लगाया गया है।

पैसेंजर के सीट बेल्ट नहीं पहनने पर 10 हजार रुपए जुर्माना
ब्रिटेन में अगर कोई पैसेंजर सीट बेल्ट नहीं पहनता तो उस पर 10 हजार रुपए का जुर्माना लगता है। अगर मामला कोर्ट में जाता है तो उस पर 50 हजार हजार रुपए का जुर्माना लगाया जा सकता है।

चलते-चलते ब्रिटेन के भारतवंशी प्रधानमंत्री ऋषि सुनक से जड़ी इन खबरों से भी गुजर जाइए...

ब्रिटिश PM का अपराधियों के खिलाफ बड़ा अभियान:ऋषि सुनक बोले- बेटी अकेले बाहर जाना चाहती है, पिता के नाते मुझे चिंता

आर्थिक संकट और राजनीतिक अस्थिरता के बीच कमान संभालने वाले ब्रिटिश PM ऋषि सुनक ने अपराधियों के खिलाफ अभियान छेड़ दिया है। हाल के दशकों में वे पहले PM हैं, जिन्होंने अपराध के खिलाफ ऐसा अभियान छेड़ा है। इसका कारण उनकी दो बेटियां हैं। सुनक ने कहा कि बेटियों की चिंता के चलते ही उन्होंने अपराध के खिलाफ अभियान शुरू किया है। वे सड़कों को महिलाओं के लिए सुरक्षित बनाना चाहते हैं। उनकी दो बेटियां है। बड़ी बेटी कृष्णा 11 साल की है और छोटी बेटी अनुष्का की उम्र 9 साल हैं। पढ़ें पूरी खबर...

2023 में भी खत्म नहीं होंगी ब्रिटेन की मुश्किलें:ऋषि सुनक ने नए साल पर दिए संदेश में कहा- अगले 12 महीने परेशानी भरे होंगे

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक ने नए साल पर लोगों को संदेश दिया है। इसमें सुनक ने लोगों को चेताया है कि ब्रिटेन की मुसीबतें 2023 में खत्म नहीं होने वाली हैं। बल्कि 2023 आने वाले 12 मुश्किल महीनों की शुरूआत है। सुनक ने कहा, 'मैं ब्रिटेन के लोगों की बेहतरी के लिए बिना रुके काम करुंगा लेकिन, मैं ये दावे नहीं कर सकता कि सारी समस्याएं नए साल में खत्म हो जाएंगी। हालांकि 2023 हमें मौका देगा कि हम ब्रिटेन की बेहतर चीजों को दुनिया के सामने ला सकें। उन्होंने कहा जब भी हमारा लोकतंत्र और हमारी आजादी खतरे में पड़ेगी तो हम उसे बचाएंगे।' पढ़ें पूरी खबर...

ससुर की सलाह पर राजनीति में आए सुनक:कहा था- पॉलिटिक्स से दुनिया में छाप छोड़ सकोगे

ब्रिटेन के पहले भारतवंशी और सबसे कम उम्र के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक ने पॉलिटिक्स में आने की वजह बताई है। सुनक ने बताया- मेरे ससुर और इंफोसिस के फाउंडर नारायण मूर्ति ने एक दिन मुझसे कहा कि अगर आप बिजनेस के बजाय राजनीति में अपना करियर बनाते हैं, तो दुनिया पर ज्यादा बेहतर छाप छोड़ सकते हैं। बस यही सुझाव था और आज मैं राजनीति के शीर्ष पर हूं। पढ़ें पूरी खबर...​​​​​​​