UN महासभा को संबोधित करना चाहता है तालिबान:महासचिव गुटेरेस को चिट्ठी लिखकर रखी मांग, प्रवक्ता सुहैल शाहीन को UN के लिए राजदूत बनाया

काबुल2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तालिबान ने दोहा में मौजूद अपने प्रवक्ता सुहेल शाहीन को UN में अफगानिस्तान का राजदूत नियुक्त कर दिया है। - Dainik Bhaskar
तालिबान ने दोहा में मौजूद अपने प्रवक्ता सुहेल शाहीन को UN में अफगानिस्तान का राजदूत नियुक्त कर दिया है।

अफगानिस्तान की सत्ता पर काबिज तालिबानी अंतरराष्ट्रीय स्तर मान्यता पाने के लिए विश्व नेताओं को संबोधित करना चाहते हैं। उन्होंने संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) में बोलने की इजाजत मांगी है। तालिबान के प्रवक्ता सुहैल शाहीन को UN के लिए अफगानिस्तान का राजदूत बनाया गया है।

कतर के अमीर शेख तमीम बिन हमद अल थानी ने विश्व नेताओं से मांग की कि तालिबान को बॉयकॉट ना किया जाए। ऐसा करने से कोई नतीजा नहीं निकलेगा। अमीर शेख का इशारा उन नेताओं की तरफ है, जो तालिबान से बातचीत करने में हिचक रहे हैं और तालिबान सरकार को अफगानिस्तान में मान्यता देने से कतरा रहे हैं।

एंटोनियो गुटेरेस को तालिबान के विदेश मंत्री ने चिट्ठी लिखी
सोमवार को तालिबान के विदेश मंत्री ने संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस को चिट्ठी लिखी। उन्होंने जनरल असेंबली का सालाना हाई लेवल मीटिंग के दौरान बोलने की मांग की। गुटेरेस के प्रवक्ता फरहान हक ने बताया कि उन्हें अमीर का पत्र मिल गया है।

UN में अफगानिस्तान के प्रतिनिधि को बदलने की मांग
अफगानिस्तान की ओर से इसी साल जुलाई में गुलाम एम इसाकजई को अफगानिस्तान का प्रतिनिधि बनाया गया था। हालांकि बाद में तालिबान ने अशरफ गनी की सरकार पर कब्जा कर लिया, जिससे हालात काफी बदल गए हैं।

तालिबान की मांग पर कमेटी लेगी फैसला
तालिबान के विदेश मंत्री ने अपने पत्र में लिखा की इसाकजई का काम अब खत्म हो चुका है। ऐसे में अब उन्हें हटाकर तालिबान के प्रतिनिधि को जगह देनी चाहिए। इस पर गुटेरेस के प्रवक्ता हक ने कहा कि जब तक कमेटी इस पर कोई फैसला नहीं करती, तब तक गुलाम ही अफगानिस्तान के प्रतिनिधि रहेंगे। इस मुद्दे पर सोमवार से पहले समिति की बैठक होने की संभावना नहीं है।

खबरें और भी हैं...