• Hindi News
  • International
  • Taliban ISIS Connection; People Rescued From Afghanistan May Be Join Islamic State (Terrorist Organization)

तालिबान के बाद अब ISIS का खतरा:अमेरिकी अधिकारी का दावा- अफगानिस्तान से रेस्क्यू किए गए लोगों में 100 से ज्यादा इस्लामिक स्टेट से जुड़े हो सकते हैं

वॉशिंगटन10 महीने पहले

अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे के बाद हालात बदतर हो गए हैं। लाखों लोग किसी भी तरह वहां से भागकर दूसरे मुल्क पहुंचना चाहते हैं। अमेरिका, फ्रांस, ब्रिटेन और कनाडा सहित करीब 13 देश यहां रेस्क्यू ऑपरेशन चला रहे हैं। अपने देश के नागरिकों की वापसी के अलावा ये देश अफगानी शरणार्थियों को भी शरण दे रहे हैं, लेकिन अमेरिकी अधिकारी की एक रिपोर्ट ने इन देशों को शरणार्थी संकट पर नए सिरे से सोचने को मजबूर कर दिया है।

रेस्क्यू किए गए लोगों में संदिग्ध आतंकी होने की जानकारी अमेरिका की इंटेलिजेंस एजेंसी ने दी है। अधिकारियों के मुताबिक इन लोगों की पहचान ऑटोमेटिक बायोमीट्रिक आइडेंटिफिकेशन के जरिए की गई है। अमेरिका पहुंचने के लिए शरणार्थी वीजा अप्लाई करने वाले लोगों की स्क्रीनिंग का काम वहां की सिक्योरिटी एजेंसी कर रही है।

अफगानी रिपोर्टर को देना पड़ा जिंदा होने का सबूत
अफगानिस्तान के सबसे बड़े मीडिया हाउस टोलो न्यूज के रिपोर्टर जियार खान की मौत की खबर गुरुवार को सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। कई मीडिया हाउस ने भी इस खबर को कवर किया और लोगों ने जियार की मौत पर दुख जताना शुरू कर दिया, लेकिन करीब 30 मिनट बाद पता चला कि जिस रिपोर्टर की मौत का दावा किया जा रहा था, वह जिंदा है। जियार ने ट्वीट कर बताया है कि वह घायल जरूर हैं, लेकिन उनकी मौत नहीं हुई है।

अफगानिस्तान में पानी की बोतल की कीमत 3 हजार रुपए

अफगानिस्तान से बाहर आने के लिए काबुल एयरपोर्ट पर जमा हो रहे लोगों के लिए हालात बदतर होते जा रहे हैं। खौफ तो है ही और खाने-पीने के सामानों के दाम भी बेतहाशा बढ़ रहे हैं। आलम ये है कि पानी की बोतल 40 डॉलर, यानी करीब 3 हजार रुपए और एक प्लेट चावल के लिए 100 डॉलर, यानी करीब साढ़े सात हजार रुपए चुकाने पड़ रहे हैं और भुगतान भी केवल डॉलर में ही लिया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...