अफगानिस्तान में तालिबान का नया फरमान:रेस्तरां में साथ खाना नहीं खा पाएंगे पति-पत्नी, पार्क में भी अलग-अलग दिन मिलेगी एंट्री

काबुलएक महीने पहले

तालिबान ने अफगानिस्तान के पश्चिमी हेरात प्रांत में एक लिंग भेद को लेकर योजना लागू की है। इसके तहत अब पुरुषों को फैमली रेस्तरां में परिवार के सदस्यों के साथ भोजन करने की अनुमति नहीं होगी। इसके अलावा पुरुषों और महिलाओं को एक साथ पार्क में जाने की भी इजाजत नहीं होगी।

सदाचार फैलाने और बुराई रोकने वाले मंत्रालय की ओर से लागू किया गया यह नियम पति और पत्नी पर भी लागू होगा। एक अफगान महिला ने बताया कि हाल ही में वह अपने पति के साथ हेरात रेस्तरां में गई थी। वहां मैनेजर ने उसे अपने पति से अलग बैठकर खाना खाने के लिए कहा था।

मंत्रालय के अधिकारी रियाजुल्लाह सीरत ने बताया कि हेरात के पार्कों के लिए भी ऐसा ही आदेश जारी किया गया है। इसके अनुसार, पुरुषों और महिलाओं को अलग-अलग दिन पार्क में जाने के लिए कहा गया है। गुरुवार, शुक्रवार और शनिवार का दिन महिलाओं का है, जबकि पुरुषों के लिए पार्कों को रविवार, सोमवार, मंगलवार, बुधवार के दिन खोला जाएगा।

तालिबान 2.0 ने महिलाओं पर लगाए गए कई प्रतिबंध
बीते मार्च में भी तालिबान ने ऐसा ही एक आदेश जारी किया था। इसमें पुरुषों और महिलाओं के एक ही दिन मनोरंजन पार्क में जाने पर प्रतिबंध लगाया गया था। इससे पहले भी तालिबान हुकूमत ने महिलाओं पर कई तरह के प्रतिबंध लगाए हैं। इनमें अकेले सफर करने पर रोक, लंबी दूरी के सफर के लिए पुरुष का साथ होना जरूरी, महिलाओं को ड्राइविंग लाइसेंस देने पर पाबंदी, हिजाब पहनना अनिवार्य, दुकानों के बाहर लगे महिलाओं की तस्वीर वाले बोर्ड हटाना शामिल सहित कई प्रतिबंध शामिल हैं।

यह तस्वीर 26 मार्च की है। इसमें तालिबान महिलाओं की शिक्षा बंद करने के फैसले से नाराज छात्राएं काबुल में शिक्षा मंत्रालय के बाहर प्रदर्शन कर रही हैं।
यह तस्वीर 26 मार्च की है। इसमें तालिबान महिलाओं की शिक्षा बंद करने के फैसले से नाराज छात्राएं काबुल में शिक्षा मंत्रालय के बाहर प्रदर्शन कर रही हैं।

पश्चिमी देशों ने प्रतिबंधों पर निराशा व्यक्त की
पश्चिमी देशों के विदेश मंत्रियों ने एक संयुक्त बयान जारी किया है। इसमें उन्होंने अफगान महिलाओं के मानवाधिकारों को प्रभावित करने वाले ने प्रतिबंधों पर निराशा व्यक्त की। बयान में कहा गया कि यह अफगानों के अपने मौलिक मानवाधिकारों के विरुद्ध है। उन्हें भी अपने अधिकारों को एंजॉय करने का हक है।

चौतरफा परेशानियों से घिरा तालिबान
तालिबान हुकूमत इस वक्त चौतरफा परेशानियों का सामना कर रही है। एक तरफ जहां उनके पास देश चलाने के लिए पैसा नहीं है, वहीं पाकिस्तान के साथ बॉर्डर फेंसिंग के मुद्दे पर भी तनाव चल रहा है।

तालिबानी फरमान:महिलाओं को पब्लिक के बीच चेहरा कवर करना ही होगा; नहीं किया, तो पिता या पति को होगी जेल