• Hindi News
  • International
  • Taliban Rule Stained With The Blood Of 9 Children: Explosion In Front Of A School In ISIS held Area Near Afghanistan Pakistan Border, 4 Injured

9 बच्चों के खून से सना तालिबानी राज:अफगानिस्तान-पाकिस्तान बॉर्डर के पास ISIS के कब्जे वाले इलाके में एक स्कूल के सामने धमाका, 4 घायल

काबुलएक वर्ष पहले

अफगानिस्तान में सत्ता पर काबिज तालिबान के हाथ 9 बच्चों के खून से सन गए हैं। हत्यारे मासूमों को भी नहीं बख्श रहे हैं। सोमवार दोपहर को अफगानिस्तान में एक ब्लास्ट हुआ, जिसमें 9 बच्चों की मौत हो गई। वहीं, 4 लोग गंभीर रूप से घायल हैं। यह धमाका पाकिस्तान-अफगानिस्तान बॉर्डर पर हुआ।
तालिबान गवर्नर ऑफिस ने की पुष्टि
अफगानिस्तान में सत्तासीन तालिबान सरकार ने भी की है। तालिबान गवर्नर ऑफिस की ओर जारी बयान के मुताबिक, नांगरहार के लालोपुर में एक स्कूल के सामने खाने का सामान ले जा रही गाड़ी में धमाका हुआ।

गाड़ी में मोर्टार छिपाकर रखा गया था, स्कूल पहुंचते ही ब्लास्ट
कुछ खबरों में कहा गया है कि इस गाड़ी में एक मोर्टार छिपाकर रखा गया था और लालोपुर जिले की चौकी पर जैसे ही यह गाड़ी पहुंची, वहां ब्लास्ट हो गया। पिछले महीने भी नांगरहार प्रांत के एक कस्बे में धमाका हुआ था और उसमें 4 महिलाओं समेत 7 लोग मारे गए थे।

पाकिस्तानी चेक पॉइंट के पास हुआ धमाका, इलाके में ISIS का कब्जा
मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया है कि नांगरहार प्रांत के लालोपुर इलाके में यह धमाका उस हिस्से में हुआ, जहां पाकिस्तानी चेक पोस्ट्स और कंटीले तार हैं। खास बात यह है कि इस इलाके में आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट एक्टिव है और उसकी तालिबान से अक्सर हिंसक झड़पें होती रहती हैं। आईएस आतंकी तालिबान के चेक पोस्ट्स पर भी हमले करते हैं। यह संगठन 2014 से ही इस क्षेत्र में आतंकी वारदातों को अंजाम दे रहा है। इनके ज्यादातर हमले शिया माइनॉरिटीज के खिलाफ होते हैं।

जमीन में छिपाकर रखा गया थ मोर्टार, गाड़ी के गुजरते ही फटा
धमाके के बारे में अलग-अलग मीडिया रिपोर्ट्स आ रही हैं। कुछ रिपोर्ट्स में कहा गया है कि एक हाथ ठेले में खाने का सामान ट्रांसपोर्ट किया जा रहा था। इसी दौरान उससे जमीन में छिपे मोर्टार पर वजन पड़ा और वो फट गया। कुछ और रिपोर्ट्स में कहा गया है कि घटनास्थल के ठीक सामने स्कूल और उसकी दूसरी तरफ पाकिस्तान बॉर्डर है। वहीं एक गाड़ी में बम छिपाकर रखा गया था।