• Hindi News
  • International
  • Thailand's Tourism Depends On Indians Every Indian Who Reaches After Diwali Will Spend 1.70 Lakhs, India Is At Number Three After China And Malaysia Among Those Who Reach There

थाईलैंड का टूरिज्म भारतीयों के भरोसे:दिवाली बाद पहुंचने वाला हर भारतीय 1.70 लाख खर्च करेगा, वहां पहुंचने वालों में चीन और मलेशिया के बाद तीसरे नंबर पर भारत

बैंकॉक20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
थाई पर्यटन परिषद के उपाध्यक्ष के मुताबिक सोमसोंग सिचफिमुख कोरोना के मद्देनजर इस साल चीनी टूरिस्टों के पहुंचने की उम्मीद नहीं है। - Dainik Bhaskar
थाई पर्यटन परिषद के उपाध्यक्ष के मुताबिक सोमसोंग सिचफिमुख कोरोना के मद्देनजर इस साल चीनी टूरिस्टों के पहुंचने की उम्मीद नहीं है।

थाईलैंड की आबादी करीब 7 करोड़ है। हर साल यहां करीब 4 करोड़ पर्यटक दुनियाभर से पहुंचते हैं। थाईलैंड पहुंचने वालों में भारतीय तीसरे स्थान पर हैं। वहीं पहले पर चीन तो दूसरे पर मलेशिया है। लेकिन कोरोना काल में थाईलैंड विदेशी पर्यटकों के लिए तरस रहा है। इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि पिछले 8 माह में यहां सिर्फ 73,932 विदेशी पर्यटक पहुंचे हैं। और तो और थाईलैंड ने इस साल अपने पर्यटक आगमन के पूर्वानुमान को 5 लाख से घटाकर 2.80 लाख कर दिया है।

इन सबके बीच थाईलैंड 18 महीने बाद एक नवंबर से विदेशी पर्यटकों को प्रवेश देने जा रहा है। खास बात है कि वह चीन और मलेशिया को छोड़कर भारतीयों को प्राथमिकता दे रहा है। थाई पर्यटन परिषद के उपाध्यक्ष सोमसोंग सिचफिमुख ने कहा- ‘हम एक नवंबर से पर्यटन केंद्रों को खोलने की योजना बना रहे हैं। इसके लिए दिवाली एक शानदार अवसर हो सकती है। क्योंकि दिवाली के बाद भारतीय घूमने के लिए पहुंचने लगेंगे। भारतीयों के पास बहुत अधिक खर्च करने की शक्ति होती है।

पर्यटन अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने में बड़ी भूमिका
भारतीय पर्यटक हमारी पर्यटन अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने में बड़ी भूमिका निभा सकते हैं।’ सोमसोंग ने कहा कि एक भारतीय टूरिस्ट थाईलैंड की यात्रा के दौरान 27 हजार थाई बाट (60 हजार रु.) से लेकर 76 हजार बाट (1.70 लाख रु.) खर्च कर सकते हैं। इसके अलावा डेस्टिनेशन वेडिंग के लिए 10 मिलियन बाट से 120 मिलियन (2.20 करोड़ से 26.30 करोड़ रुपए) तक खर्च कर सकते हैं। सोमसोंग के मुताबिक, कोरोना के मद्देनजर इस साल चीनी टूरिस्टों के पहुंचने की उम्मीद नहीं है।

20 लाख भारतीयों से 17,500 करोड़ रुपए का राजस्व
2019 में दुनियाभर से 4 करोड़ टूरिस्ट पहुंचे थे। इनसे थाईलैंड को 4.44 लाख करोड़ रु. का राजस्व मिला था। करीब 20 लाख भारतीयों से 17,548 करोड़ रु. का राजस्व मिला था। सोमसोंग बताते हैं कि पिछले 18 माह से थाईलैंड कोरोना काल के सबसे बुरे दौर से गुजर रहा था। इस दौरान पर्यटन क्षेत्र से जुड़ी 30 लाख नौकरियां खत्म हो गईं। लेकिन भारतीय हमारी टूरिज्म इंडस्ट्री में बूस्टर का काम करेंगे।