बिना हाथ-पैर के सर्फिंग करती है 10 साल की जेड:पिता बोले- सर्फिंग करते समय वो आजाद और जिंदा महसूस करती है

वॉशिंगटन/इडनबर्ग7 दिन पहले

एक बच्ची जो दिव्यांग है। इसके बाद भी उसके चेहरे पर भरपूर मुस्कान है। जल्द ही वो दिसंबर में होनी वाली US सर्फिंग कॉम्पिटिशन में हिस्सा लेने वाली सबसे कम उम्र की एथलीट बनने वाली है। खास बात तो ये कि उसके हाथ-पैर नहीं हैं।

स्कॉटलैंड के एबर्डीनशायर में रहने वाली 10 साल की जेड एडवर्ड को 2 साल की उम्र में मेनिंगोकोकल सेप्टिसीमिया नाम की जानलेवा बीमारी हो गई थी। इसके बाद उसके हाथ-पैर काटने पड़े थे। अब वो अमेरिका के कैलिफोर्निया में होने वाली वर्ल्ड पैरा सर्फिंग चैंपियनशिप में भाग लेने के लिए तैयार है।

इस तस्वीर में जेड ऊंची समुद्री लहरों में कलाबाजी करते नजर आ रही है।
इस तस्वीर में जेड ऊंची समुद्री लहरों में कलाबाजी करते नजर आ रही है।
जेड 3 दिसंबर से 12 दिसंबर तक कैलिफोर्निया में वर्ल्ड पैरा सर्फिंग चैंपियनशिप में हिस्सा लेगी
जेड 3 दिसंबर से 12 दिसंबर तक कैलिफोर्निया में वर्ल्ड पैरा सर्फिंग चैंपियनशिप में हिस्सा लेगी

सर्फिंग में मुझे मजा आता है : जेड
जेड एडवर्ड का कहना है कि उसे सर्फिंग में मजा आता है। उसने कहा- मुझे पानी में रहना पसंद है। पानी मेरे लिए एक हैप्पी प्लेस है। मुझे न तो डर लगता है और न ही ठंड लगती है। फ्यूचर में होने वाली चैंपियनशिप मेरे लिए खुद को साबित करना का मौका है।

जेड के पिता का कहना है कि जब उन्होंने पहली बार जेड को सर्फ करते हुए देखा था तो वो चौंक गए थे। उनके लिए ये किसी मैजिक से कम नहीं था।
जेड के पिता का कहना है कि जब उन्होंने पहली बार जेड को सर्फ करते हुए देखा था तो वो चौंक गए थे। उनके लिए ये किसी मैजिक से कम नहीं था।

जेड हमेशा कुछ नया सीखना चाहती है
6 महीने तक बेड रेस्ट फिर व्हीलचेयर के सहारे रहने वाली जेड ने हार नहीं मानी। उसने सर्फिंग करना सीखा। प्रोफेशनल्स की मदद से उसने बोर्ड पर लेटना और पेट के बल संतुलन बनाना सीखा। जेड के पिता फ्रेजर का कहना है कि सर्फिंग ने उसे आजाद महसूस करवाया है। सर्फिंग करते समय उसे जिंदा और खुशी महसूस होती है। उन्होंने कहा- वो हमेशा कुछ नया सीखना चाहती है।

जेड के पिता ने कहा- वो खुद को दिव्यांग नहीं मानती है। इस तस्वीर में जेड (सफेद शर्ट में), पिता फ्रेजर , मां लिसा और बहन लिंसी के साथ है।
जेड के पिता ने कहा- वो खुद को दिव्यांग नहीं मानती है। इस तस्वीर में जेड (सफेद शर्ट में), पिता फ्रेजर , मां लिसा और बहन लिंसी के साथ है।

पैरालंपिक गेम्स में हिस्सा भी लेना चाहती है जेड
47 साल के फ्रेजर एडवर्ड ने बताया कि जब डॉक्टर्स ने कहा था जेड के हाथ-पैर काटने पड़ेंगे तो उनके पैरों तले जमीन ही खिसक गई थी। उन्होंने कहा- हम डर गए थे, हमें कुछ समझ नहीं आया था। लेकिन हमें इस बात से संतुष्टि थी कि वो जिंदा रहेगी। जेड ने कभी हार नहीं मानी। जेड 2028 के पैरालंपिक गेम्स में हिस्सा भी लेना चाहती है।

कहीं भी आने-जाने के लिए जेड एक इलेक्ट्रिक चेयर का इस्तेमाल करती है। कभी-कभी वो स्केटबोर्ड पर बैठकर स्कूल जाती है।
कहीं भी आने-जाने के लिए जेड एक इलेक्ट्रिक चेयर का इस्तेमाल करती है। कभी-कभी वो स्केटबोर्ड पर बैठकर स्कूल जाती है।

ये खबरें भी पढ़ें...

फ्रांसीसी गोताखोर ने डीप-डाइविंग में 7वीं बार तोड़ा विश्व रिकॉर्ड, समुद्र में 393 फीट की गहराई तक लगाया गोता

फ्रांस के गोताखोर अरनॉड जेराल्ड ने डीप डाइविंग का वर्ल्ड रिकॉर्ड तोड़कर नया रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया। उन्होंने अब तक का सबसे गहरा गोता लगाया। वे डाइव मारकर समुद्र में 120 मीटर, यानी करीब 393 फीट नीचे गए। ये डाइव पूरी करने में उन्हें 3 मिनट 34 सेकंड का समय लगा। पढ़ें पूरी खबर...

पिता ने ब्लास्ट में पैर गंवाया, बेटे के दोनों हाथ-पैर नहीं; अब सीरिया से इटली पहुंचे- नई जिंदगी शुरू करेंगे

पिछले साल जनवरी में एक तस्वीर ने हर किसी को जंग और उसके नतीजों पर सोचने के लिए मजबूर कर दिया। जिसने भी यह तस्वीर देखी, उसकी आंखें बरबस बरसने को मजबूर हो गईं। तस्वीर में एक व्यक्ति बैसाखी लगाए बच्चे को हवा में उछाल रहा था। बच्चा भी सामान्य नहीं था। वो इसलिए, क्योंकि उसके दोनों हाथ और दोनों पैर नहीं थे। पढ़ें पूरी खबर...