• Hindi News
  • International
  • The Advice Of The Chief Medical Advisor To The US President, India Opened The Country In A Hurry, Hence The Crisis

अमेरिकी राष्ट्रपति के मुख्य मेडिकल सलाहकार की नसीहत:भारत ने गलत धारणा बनाई कि कोविड-19 खत्म हो गया और देश को जल्दबाजी में खोल दिया, इसलिए आई संकट

वॉशिंगटन8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डॉ एंथनी फाउची, अमेरिकी राष्ट्रपति के मुख्य मेडिकल सलाहकार और शीर्ष संक्रामक रोग विशेषज्ञ  (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
डॉ एंथनी फाउची, अमेरिकी राष्ट्रपति के मुख्य मेडिकल सलाहकार और शीर्ष संक्रामक रोग विशेषज्ञ (फाइल फोटो)

अमेरिकी राष्ट्रपति के मुख्य मेडिकल सलाहकार और शीर्ष संक्रामक रोग विशेषज्ञ डॉ एंथनी फाउची ने अमेरिकी सांसदों को कोविड महामारी से बिगड़े हालात पर भारत की गलतियों से सीख लेने की नसीहत दी है। डॉ फाउची ने कहा, भारत ने गलत धारणा बनाई कि वहां कोविड-19 खत्म हो गया और समय से पहले ही देश को खोल दिया, जिससे वह ऐसे गंभीर संकट में फंस गया। महामारी दूसरी लहर से बुरी तरह प्रभावित भारत के कई राज्य अस्पताल, स्वास्थ्यकर्मियों, टीकों, ऑक्सीजन और जरूरी दवाओं की कमी से जूझ रहे हैं।

मंगलवार को कोरोना पर सीनेट की स्वास्थ्य, शिक्षा, श्रम एवं पेंशन समिति के समक्ष सुनवाई के दौरान फाउची ने कहा, भारत अभी जिस गंभीर संकट में है, उसकी वजह यह है कि वहां मरीजों की संख्या बढ़ने के बावजदू गलत धराणा बनाई गई। इसका नतीजा सबके सामने है। अब वहां महामारी का ऐसा विकराल रूप दिख रहा है, जिसके बारे में सब जानते हैं कि यह कितना विनाशकारी है।

डॉ फाउची अमेरिका के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ एलर्जी एंड इंफेक्शस डिजीज के निदेशक भी हैं। सुनवाई की अध्यक्षता कर रही, सीनेटर पैटी मुरे ने कहा, भारत के हालात से हमें यह सीखना चाहिए कि अमेरिका में तब तक इस महामारी को खत्म घोषित नहीं कर सकते, जब तक कि यह सब जगह समाप्त न हो जाए।

खबरें और भी हैं...