• Hindi News
  • International
  • The Epidemic Killed More Americans Than The Vietnam War That Lasted 20 Years, The CIA Said Trump Ignored 12 Warnings

अमेरिका में कोरोना:20 साल चले वियतनाम युद्ध से ज्यादा अमेरिकियों की जान संक्रमण ने ली; सीआईए बोली- ट्रम्प ने 12 चेतावनियां नजरअंदाज कर दीं

वाशिंगटन2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
अमेरिका के मियामी में व्हीलचेयर पर बैठे पैसेंजर की मदद करता बस ड्राइवर। मियामी में अब तक 11 हजार 500 से ज्यादा संक्रमण के मामले सामने आए हैं और 300 से ज्यादा लोगों की जान गई है। - Dainik Bhaskar
अमेरिका के मियामी में व्हीलचेयर पर बैठे पैसेंजर की मदद करता बस ड्राइवर। मियामी में अब तक 11 हजार 500 से ज्यादा संक्रमण के मामले सामने आए हैं और 300 से ज्यादा लोगों की जान गई है।
  • 1955 से 1975 तक चले वियतनाम युद्ध में अमेरिका ने अपने 58 हजार सैनिकों को खो दिया था
  • अमेरिका में अब तक 59 हजार 266 लोगों की मौत कोरोनावायरस से हुई, 10 लाख 35 हजार 765 संक्रमित

कोरोनावायरस के संक्रमण से अमेरिका में अब तक 59 हजार 266 लोगों की मौत हो चुकी है और 10 लाख 35 हजार 765 संक्रमित हैं। मौतों का यह आंकड़ा 20 साल चले वियतनाम युद्ध में मारे गए अमेरिकी सैनिकों की तादाद से भी ज्यादा है। 1955 से 1975 तक चले वियतनाम युद्ध में अमेरिका ने अपने करीब 58 हजार सैनिकों को खो दिया था। इस बीच, अमेरिकी खुफिया एजेंसी सीआईए ने बताया कि कोरोनावायरस को लेकर 12 बार चेतावनियां दी गईं, लेकिन अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने हर बार इन्हें नजरअंदाज कर दिया और अब महामारी ने अमेरिका को जकड़ लिया है।

चीन ने भी डोनाल्ड ट्रम्प पर अपना दोष दूसरों के सिर मढ़ने का आरोप लगाया है। चीन विदेश मंत्रालय ने कहा कि अमेरिकी नेता झूठ बोल रहे हैं। उनका केवल एक ही मकसद है, अपनी जिम्मेदारी से बचने के लिए दूसरों को दोष देना। 

राष्ट्रपति को बताया था कि कोरोनावायरस बेहद घातक है- सीआईए
सीआईए के अधिकारियों ने अमेरिकी अखबार वाॅशिंगटन पोस्ट को बताया- हमने राष्ट्रपति को चेताया था कि चीन में फैल रहा कोरोनावायरस का संक्रमण बहुत घातक है। चीन यह बात छुपा रहा है। ऐसा पहले कभी नहीं देखा गया। इस पर भी ट्रम्प ने कोई ध्यान नहीं दिया।

हमने ज्यादा टेस्टिंग की इसलिए ज्यादा मामले सामने आए- ट्रम्प
डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि अमेरिका में दुनियाभर के देशों के मुकाबले अधिक टेस्ट हुए हैं। यही वजह है कि अमेरिका में कोविड-19 के अधिक मरीज सामने आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि हम अपने डॉक्टरों और वैज्ञानिकों पर पूरा भरोसा करते हैं। हालांकि, उन्होंने कहा कि कई मामलों में हमने बेहतर फैसले लिए हैं। जैसे कि विशेषज्ञों के विरोध के बावजूद हमने अपने देश की सीमाओं को बंद कर दिया। 

नवंबर में राष्ट्रपति चुनाव, ट्रम्प को नुकसान उठाना पड़ सकता है
अमेरिका में राष्ट्रपति पद के लिए नंवबर में चुनाव होने हैं। अभी तक 15 राज्यों ने अपने यहां राष्ट्रपति चुनाव से पहले होने वाले प्राइमरी चुनाव टाल दिए हैं। इनमें से अधिकतर ने इन चुनावों को जून तक के लिए टाला है। माना जा रहा है कि राष्ट्रपति चुनाव में डोनाल्ड ट्रम्प को नुकसान उठाना पड़ सकता है। ज्यादातर अमेरिकी लोग कोरोनावायरस पर ट्रम्प की तैयारियों को लेकर खफा हैं। लोगों के साथ ही डॉक्टरों और विशेषज्ञों का भी कहना है कि ट्रम्प ने बेहत खराब ढंग से इस स्थिति का सामना किया है। उनकी तैयारियां न होने की वजह से अमेरिका को आज यह भुगतना पड़ रहा है। 

न्यूयॉर्क और न्यूजर्सी संक्रमण से सबसे ज्यादा प्रभावित

अमेरिका में कोरोनावायरस के संक्रमण से न्यूयॉर्क और न्यूजर्सी सबसे ज्यादा प्रभावित हैं। अकेले न्यूयॉर्क में संक्रमण के तीन लाख से ज्यादा मामलों की पुष्टि हो चुकी है, जबकि 22 हजार की मौत हो चुकी है। न्यूजर्सी में भी संक्रमण के एक लाख से ज्यादा केस सामने आए हैं। यहां छह हजार से ज्यादा लोग मारे गए हैं। मैसाचुसेट्स, इलिनॉयस, कैलिफोर्निया और पेंसिल्वेनिया ऐसे राज्य हैं, जहां अब तक 40 हजार से ज्यादा केस सामने आए हैं।