रूस / युवक ने फिनलैंड के पास यूरोपीय संघ की फर्जी सीमा बनाई, पार कराने के लिए लोगों से 8 लाख रु वसूले

आरोपी युवक ने रूस-फिनलैंड के बीच फर्जी सीमा बनाई। आरोपी युवक ने रूस-फिनलैंड के बीच फर्जी सीमा बनाई।
X
आरोपी युवक ने रूस-फिनलैंड के बीच फर्जी सीमा बनाई।आरोपी युवक ने रूस-फिनलैंड के बीच फर्जी सीमा बनाई।

  • रूस के अधिकारियों ने फर्जी सीमा बनाने और लोगों को यूरोप भेजने के आरोप में युवक गिरफ्तार 
  • आरोपी युवक ने दक्षिण एशिया के चार प्रवासियों को यूरोप भेजने का वादा किया था
  • रूस के व्यबोर्ग शहर की अदालत ने चारों प्रवासियों को जुर्माना लगाकर छोड़ दिया

Dainik Bhaskar

Dec 07, 2019, 03:51 PM IST

मॉस्को. रूस के अधिकारियों ने फिनलैंड के पास यूरोपीय संघ की फर्जी सीमा बनाने के आरोप में पिछले दिनों एक युवक को गिरफ्तार किया। आरोप है कि वह इस सीमा से हजारों लोगों को यूरोप जाने के लिए उकसाने की कोशिश कर रहा था। इसके लिए उसने दक्षिण एशिया के चार लोगों से 8,438 पाउंड (करीब 8 लाख रुपए) से ज्यादा की रकम भी वसूली। 


पुलिस ने युवक की पहचान का खुलासा नहीं किया। युवक ने यूरोप में बेहतर जीवन और काम दिलाने के लिए एक समूह की मदद करने का वादा किया था। साथ ही फिनलैंड के रास्ते यूरोप भेजने की बात भी कही थी।युवक ने स्कैंडेनेवियन बॉर्डर के पास रूस में फर्जी सीमा चौकियां बनाई थीं।

आरोपी समेत लोगों को जंगल से हिरासत में लिया गया

पुलिस के मुताबिक, चारों दक्षिण एशियाई और आरोपी युवक रूस के व्यबोर्ग शहर से सीमा पार कर रहे थे। इसी दौरान रूसी सीमा सुरक्षा के सेंट पीटर्सबर्ग और लेनिनग्राद डिवीजन ने कहा कि सभी को सीमा क्षेत्र में स्थित जंगलों से हिरासत में लिया गया। व्यबोर्ग का पश्चिमी छोर फिनलैंड से लगी रूस की सीमा से लगभग 15 किमी दूर है।

रूस की इंटरफैक्स न्यूज एजेंसी के मुताबिक, व्यबोर्ग जिला अदालत ने रूस से गिरफ्तार किए गए चार प्रवासियों पर जुर्माना लगाकर उन्हें छोड़ दिया। सीमा उल्लंघन करने पर अधिकतम 6 साल जेल की सजा का प्रावधान है। रूसी मीडिया ने प्रवासियों की राष्ट्रीयता के बारे में कोई जानकारी नहीं दी। यह भी साफ नहीं है कि उन्हें अपने देश वापस भेजा गया है या नहीं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना