अमेरिका / सऊदी सरकार पर अपने आलोचकों के ट्विटर की जासूसी कराने का आरोप, 3 गिरफ्तार



सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान। -फाइल फोटो सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान। -फाइल फोटो
X
सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान। -फाइल फोटोसऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान। -फाइल फोटो

  • अमेरिकी न्याय विभाग ने बुधवार को कहा- जासूसी मामले में सऊदी अरब के दो और एक अमेरिकी नागरिक शामिल
  • आरोप है कि तीनों लोग सऊदी सरकार और शाही परिवार के आलोचकों की ट्विटर अकाउंट की डिटेल निकाल रहे थे

Dainik Bhaskar

Nov 07, 2019, 12:40 PM IST

सैन फ्रांसिस्को. अमेरिका में दो पूर्व ट्विटर कर्मचारी और एक अन्य व्यक्ति को ट्विटर यूजर्स की जासूसी के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। इनमें सऊदी अरब के 2 और अमेरिका का एक नागरिक शामिल है। ये लोग कंपनी के असंतुष्ट कर्मचारियों से सूचना लेकर सऊदी अरब भेजा करते थे।

 

आरोपियों को बुधवार को सैन फ्रांसिस्को फेडरल कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट में दायर आरोप पत्र के मुताबिक, तीनों लोग कथित रूप से एक सऊदी अफसर के लिए काम कर रहे थे। वकीलों ने इस अफसर को शाही परिवार से जुड़ा बताया। वॉशिंगटन पोस्ट के मुताबिक, अफसर सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के लिए काम करता था। 

 

‘सऊदी के आलोचकों की निजी जानकारी निकाली’

जिन तीनों अधिकारियों पर आरोप लगाए गए, उनके नाम अली अलजबरा, अहमद अबाउमो और अहमद अलमुतैरी हैं। वकील डेविड एंडरसन ने कहा कि तीनों लोगों ने उन ट्विटर यूजर्स की निजी जानकारी निकालने का प्रयास किया, जो सऊदी सरकार और शाही परिवार के आलोचक थे। अमेरिका का कानून किसी भी कंपनी को बाहरी दखलंदाजी से सुरक्षा प्रदान करता है। हम अमेरिकी कंपनियों में किसी बाहरी दखल की अनुमति नहीं दे सकते। 

 

सीआईए जांच के अनुसार, सऊदी क्राउन प्रिंस ने ही पिछले साल इस्तांबुल कॉन्सुलेट में पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या का आदेश दिया था। खशोगी को प्रिंस मोहम्मद का आलोचक माना जाता था। खगोशी की हत्या के बाद से अमेरिका और सऊदी के संबंध तनावपूर्ण हो गए थे।

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना