विवाद / इजरायल ने गोलन हाइट्स में ट्रम्प के नाम पर रखा बस्ती का नाम, अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा- थैंक्स



'Trump Heights': Israel unveils new Golan Heights  settlement
गोलन हाइट्स (फाइल फोटो) गोलन हाइट्स (फाइल फोटो)
X
'Trump Heights': Israel unveils new Golan Heights  settlement
गोलन हाइट्स (फाइल फोटो)गोलन हाइट्स (फाइल फोटो)

  • नेतन्याहू ने कहा- गोलन हाइट्स में ‘ट्रम्प हाइट्स’ का निर्माण किया जाएगा
  • ट्रम्प ने मार्च में ‘विवादास्पद’ गोलन हाइट्स को इजरायल के अधिकृत क्षेत्र के तौर पर मान्यता दी थी
  • इजरायल ने1967 के युद्ध में सीरिया को हराकर गोलन पहाड़ियों पर कब्जा कर लिया था, तब से इसे लेकर विवाद है

Dainik Bhaskar

Jun 17, 2019, 07:00 PM IST

येरूशलम. इजरायल ने विवादित गोलन हाइट्स में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के नाम पर एक नई बस्ती का नाम रखा। प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने रविवार को एक समारोह में इसका शिलान्यास किया। ट्रम्प ने इसके लिए नेतन्याहू का धन्यवाद दिया है। ट्रम्प ने रविवार को ट्वीट करके कहा- "इस सम्मान के लिए नेतन्याहू का धन्यवाद।" 


ट्रम्प ने मार्च में ‘विवादास्पद’ गोलन हाइट्स को इजरायल का अधिकृत क्षेत्र मानकर मान्यता दी थी। इजरायल ने1967 के युद्ध में सीरिया को हराकर गोलन पहाड़ियों पर कब्जा कर लिया था। तब से अरब देशों की इजरायल के साथ तनातनी बनी हुई है। गोलन हाइट्स सीरिया की राजधानी दमिश्क से करीब 60 किलोमीटर दूर है। यह इलाका लगभग एक हजार वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है।

 

शिलान्यास की जगह पर लगे दोनों देशों के ध्वज

नई बस्ती का निर्माण कार्य अभी शुरू नहीं हुआ है। रविवार को इजरायल-अमेरिका के राष्ट्रीय ध्वज के साथ ट्रम्प के नाम वाली एक दीवार का उद्घाटन किया गया। नेतन्याहू ने कहा कि इजरायल यहूदी और गैर-यहूदी लोगों के लाभ के लिए गोलन हाइट्स का विकास करना लगातार जारी रखेगा। गोलन हाइट्स पर इजरायल के प्रभुत्व को मान्यता देने के ट्रम्प के फैसले के सम्मान में ‘ट्रम्प हाइट्स’ नाम की नई बस्ती का निर्माण किया जाएगा। इस अवसर पर अमेरिकी राजदूत डेविड फ्रेडमैन भी मौजूद थे।

 

संयुक्त राष्ट्र ने मान्यता देने से इनकार किया 

इजरायल ने 1981 में गोलन हाइट्स को अपनी सीमाओं का एक हिस्सा मान लिया था। हालांकि, संयुक्त राष्ट्र ने इसे मान्यता देने से इनकार कर दिया था। चार दशक से अमेरिकी विदेश नीति से हटकर ट्रम्प ने ऐसे समय गोलन हाइट्स को इजरायल का अधिकृत कब्जा स्वीकार कर मान्यता दी, जब इजरायल में 9 अप्रैल को हुए आम चुनाव में प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू का अस्तित्व दांव पर लगा था। सीरिया ने ट्रम्प की इस घोषणा की कड़ी निंदा कर उसकी संप्रभुता को चुनौती बताया है।

COMMENT