अमेरिका / राष्ट्रपति ट्रम्प का अकाउंट रद्द करने से ट्विटर का इनकार, कहा- बड़े नेताओं के प्रति उदारता जारी रहेगी



अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (फाइल फोटो) अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (फाइल फोटो)
X
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (फाइल फोटो)अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (फाइल फोटो)

  • ट्विटर ने प्रमुख वैश्विक नेताओं के प्रति उदारता जारी रखने की बात कही
  • नियमों का उल्लंघन करने वाले ट्वीट के साथ दिखाई देगा नोटिस
  • सिर्फ कुछ परिस्थितियों में ही होगी प्रमुख नेता के खिलाफ कार्रवाई

Dainik Bhaskar

Oct 16, 2019, 12:43 PM IST

इंटरनेशनल डेस्क. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प का ट्विटर अकाउंट निलंबित करने की लगातार हो रही मांग के बीच इस सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ने ऐसा करने से इनकार कर दिया है। मंगलवार को एक बयान जारी करते हुए ट्विटर की ओर से कहा गया कि हिंसक भाषणों को लेकर उसकी नीतियों का उल्लंघन करने वाले विश्व के प्रमुख नेताओं के प्रति उसकी उदारता जारी रहेगी। हालांकि उसने ये भी कहा कि दुनिया के प्रमुख नेताओं के अकाउंट्स पूरी तरह से हमारी नीतियों से ऊपर नहीं हैं। 

 

इस विषय को लेकर लिखी एक ब्लॉग पोस्ट में  ट्विटर ने कहा, 'हम ये भी स्पष्ट करना चाहते हैं कि दुनिया के प्रमुख नेताओं के अकाउंट्स पूरी तरह से हमारी नीतियों से ऊपर नहीं हैं। वर्तमान में लोकप्रिय हस्तियों के साथ सीधी बातचीत, दिन के राजनीतिक मुद्दों पर टिप्पणियां और आर्थिक या सैन्य मुद्दों से जुड़ी विदेशी नीति आमतौर पर ट्विटर नियमों का उल्लंघन नहीं करते हैं।'

 

संवेदनशील होने पर ट्वीट के साथ दिखेगा नोटिस

 

ब्लॉग में आगे लिखा, 'हालांकि अगर किसी वैश्विक नेता की ओर से किया गया ट्वीट, ट्विटर नियमों का उल्लंघन करता है, लेकिन उस ट्वीट को जारी रखने के लिए कोई स्पष्ट सार्वजनिक हित दिखाई देता है, तो हम उसे एक नोटिस के पीछे रख सकते हैं जो यूजर को उल्लंघन के संदर्भ के बारे में बताता है। साथ ही उस पर क्लिक करने के बाद लोगों को उसके पीछे मौजूद सामग्री को देखने की अनुमति देता है।'

 

कुछ परिस्थितियों में हो सकती है कार्रवाई

 

साथ ही ट्विटर ने ये भी स्पष्ट किया कि वो सिर्फ उसी स्थिति में एक वैश्विक नेता के खिलाफ कार्रवाई शुरू करेगा, अगर उसका इस्तेमाल किसी व्यक्ति को धमकी देने, आतंकवाद को बढ़ावा देने, खुद को नुकसान पहुंचाने या किसी की निजी जानकारी जैसे फोन नंबर या पता पोस्ट करने के लिए किया गया हो।

 

नीतियों में होता रहेगा बदलाव

 

पोस्ट में आगे कहा गया, 'महत्वपूर्ण चुनावों और दुनियाभर की राजनीतिक गतिशीलता में बदलाव के साथ हम समझते हैं कि हम एक बेहद जटिल और धुव्रीकरण वाली राजनीतिक संस्कृति में काम कर रहे हैं। ये लगातार चुनौतियां पैदा कर रहे हैं और हम भी अपनी नीतियों और दृष्टिकोण पर विचार-विमर्श के साथ लगातार करते रहेंगे, ताकि हम वैश्विक नेताओं के ट्विट्स और उससे ऑफलाइन होने वाले नुकसानों के बारे में ज्यादा जान सकें।'

 

अमेरिकी राष्ट्रपति उम्मीदवार ने की थी मांग

 

ट्विटर की ओर से ये नए दिशानिर्देश अमेरिकी सीनेटर कमला हैरिस की उस मांग के दो हफ्ते बाद आए हैं, जिसमें उन्होंने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का अकाउंट सस्पेंड करने के लिए कहा था। हैरिस कैलिफोर्निया से सीनेटर हैं और डेमोक्रेटिक पार्टी की तरफ से राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार भी हैं। उन्होंने दावा किया कि 'ट्रम्प के ट्विट्स ने लोगों को खतरे में डाला है और हमारे लोकतंत्र को भी खतरे में डाल दिया है।'

 

सदन कर रहा महाभियोग जांच

 

पिछले महीने एक व्हिसल-ब्लोअर ने ट्विटर से अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प की शिकायत करते हुए यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की के साथ उनकी बातचीत को अनुचित बताया था। शिकायत में कहा गया था कि ट्रम्प ने अपने पद का दुरुपयोग करते हुए जेलेंस्की को अमेरिका में होने वाले राष्ट्रपति पद के चुनाव में दखल देने के लिए कहा था। इस मामले के सामने आने के बाद सदन ने ट्रम्प के खिलाफ एक औपचारिक महाभियोग जांच शुरू कर दी, जिसके बाद राष्ट्रपति ने एक के बाद एक कई ट्विट्स किए। इन्हीं ट्वीट्स को कुछ लोग धमकाने वाला और दादागिरी वाला बता रहे हैं। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना