• Hindi News
  • International
  • Liverpool Car Blast Case | UK Police Declared Liverpool Car Blast Case Was A Terrorist Attack

लिवरपूल ब्लास्ट का VIDEO:ड्राइवर ने हॉस्पिटल में ब्लास्ट करने आए 'सुसाइड बॉम्बर' को कार में लॉक किया, सैकड़ों जानें बचाईं

लंदनएक वर्ष पहले

ब्रिटेन में रविवार को लिवरपूव के महिला अस्पताल के बाहर हुए धमाके को पुलिस ने आतंकी घटना करार दिया है। सुबह करीब 11 बजे हुए धमाके में एक व्यक्ति की मौत हो गई थी। धमाका एक टैक्सी में हुआ था। इसका ड्राइवर एक ब्रिटिश नागरिक डेविड पैरी था। धमाके से पहले वो टैक्सी से बाहर कूद गया था। कूदने से पहले उसने टैक्सी को लॉक कर दिया था। पेरी को ब्रिटेन में हीरो कहा जा रहा है। लोगों का कहना है कि पैरी के वजह कई लोगों की जान बच गई। हालांकि, खुद पैरी घटना में गंभीर रूप से घायल है।

तीन लोग गिरफ्तार
लिवरपूल हॉस्पिटल के बाहर ब्लास्ट के बाद पुलिस ने फौरन चारों तरफ बैरिकेडिंग कर दी थी। इसके बाद सर्च ऑपरेशन शुरू हुआ और कुछ ही देर में तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया। कार में मौजूद पैसेंजर की मौत हो गई थी। ड्राइवर पैरी गंभीर रूप से घायल है।

ब्रिटिश काउंटर टेरेरिज्म डिपार्टमेंट ने घटना की जांच शुरू कर दी है। इसी की टीम ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। अब तक मारे गए व्यक्ति और गिरफ्तार लोगों की पहचान नहीं बताई गई है।

घटना के बाद घायल टैक्सी ड्राइवर को संभालते पुलिसकर्मी।
घटना के बाद घायल टैक्सी ड्राइवर को संभालते पुलिसकर्मी।

हमलावर ने खुद बनाया था बम
पुलिस का कहना है कि हमलावर ने खुद यह बम बनाया था और इससे अपने आप को उड़ा लिया। प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने टैक्सी ड्राइवर पैरी की तारीफ करते हुए कहा कि उसने सूझबूझ से काम लिया और बड़ी घटना को टाल दिया। स्पेशल टीम अब यह जांच कर रही है कि हमलावर आखिर किसे निशाना बनाना चाहता था।

डेली मेल के मुताबिक, गिरफ्तार किए गए लोगों की उम्र 21 से 29 साल के बीच है। हालांकि, इनके नाम अब तक नहीं बताए गए हैं। पुलिस ने कुछ और स्थानों पर भी रेड की है। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने सोमवार को इस मामले पर स्पेशल मीटिंग की।

पत्नी के साथ टैक्सी ड्राइवर डेविड पैरी। उनकी हालत अब बेहतर है।
पत्नी के साथ टैक्सी ड्राइवर डेविड पैरी। उनकी हालत अब बेहतर है।

क्या था मामला
इंग्लैंड के उत्तरी शहर लिवरपूल में रविवार को एक महिला अस्पताल के बाहर कार में बम विस्फोट हुआ था। धमाके में एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि दूसरा गंभीर घायल हो गया। द मिरर की रिपोर्ट के मुताबिक, बम धमाका एक कार में हुआ था जो बहुत धीमी रफ्तार से आने के बाद हॉस्पिटल के बाहर खड़ी हो गई थी। इसकी जांच आतंकी हमले के एंगल से की गई थी। सोमवार को मामला एंटी टेरेरिज्म डिपार्टमेंट को सौंप दिया गया।