यूक्रेन में चल रहीं 8 सीक्रेट हॉस्पिटल ट्रेनें:इनमें ICU के 5 बेड और ऑक्सीजन जनरेटर, ट्रेन ने अब तक 400 लोगों की जान बचाई

कीव2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

यूक्रेन अपने नागरिकों की जान बचाने के लिए 8 सीक्रेट ट्रेन चला रहा है। बाहर से नीले और पीले रंग की ये ट्रेन सोवियत काल की दर्जनों ट्रेनों में से हैं। ये ट्रेनें यूक्रेन के युद्ध-ग्रस्त क्षेत्रों से लाखों शरणार्थियों और घायल जवानों काे लाने- पहुंचाने में मदद कर रही हैं।

पिछले महीने चलने के बाद से इस ट्रेन के जरिए लगभग 400 लोगों को बचाया गया है। हरेक यात्री को फ्रंटलाइन के नजदीक अस्पतालों में एक बेड दिया गया है। हर ट्रेन में 5 ICU यूनिट वाले बिस्तर मौजूद हैं। वहीं 7 ऑक्सीजन जनरेटर भी लगाए गए हैं जो हवा को शुद्ध करते हैं।

3 हफ्ते के भीतर ट्रेन को अस्पताल में बदला
यूक्रेन में चैरिटी की आपातकालीन टीमों के ब्रिटिश नेता क्रिस्टोफर स्टोक्स ने कहा- ‘हमने पहले कभी ऐसा कुछ नहीं किया है। मुझे नहीं लगता कि द्वितीय विश्व युद्ध के बाद से लाेगाें काे मेडिकल सुविधा देने के लिए इन ट्रेनों का इस्तेमाल किया गया हाे।

हमने इन 8 गाड़ियों को सिर्फ 3 हफ्तों में एक चलते-फिरते अत्याधुनिक अस्पताल में तब्दील कर दिया, ताकि लाेगाें की जिंदगी बचाई जा सके।

हवाई हमलों से बचने के लिए टीम की तैनाती
रूसी हवाई हमलों से बचाने के लिए इस ट्रेन में चैरिटी मेडिसिंस सैन्स फ्रंटियर्स की टीम चौबीसों घंटे तैनाती रहती है। इस ट्रेन को यूक्रेनी रेलवे और स्वास्थ्य मंत्रालय ने बनाया है। 31 साल की बेल्जियम की नर्स मार्गोट बारो कहती हैं- आप चल रहे हैं, मरीज चल रहा है। यह हम ही जानते हैं कि ड्रिप लगाना भी कितना मुश्किल हो सकता है।

सुविधा के लिए दरवाजे बड़े किए गए
इस ट्रेन में सामान्य ट्रेनों की तुलना में दरवाजे बड़े हैं, ताकि मरीज काे बेड के साथ अंदर लाया जा सके। पैदल चलने वाले घायलों और परिवार के सदस्यों को ले जाने के लिए आठ-बेड वाले वार्डों की दो गाड़ियां हैं।